News Nation Logo

अधीर रंजन ने लिखा पीएम मोदी को पत्र, की JEE-NEET परीक्षा स्थगित करने की मांग

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है. उन्होंने इस पत्र में जेईई और नीट परीक्षाओं के लिए मोहलत देने की मांग की है.

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 23 Aug 2020, 03:35:28 PM
Adhir Ranjan Chowdhury

अधीर रंजन चौधरी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है. उन्होंने इस पत्र में जेईई और नीट परीक्षाओं के लिए मोहलत देने की मांग की है. उन्होंने इस पत्र में कोरोनी संकट कम होने तक इन जेईई और नीट परीक्षाओं को रोकने की अपील की है. दरअसल इस मामले में हाल में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया था कि कोरोना संकट के चलते बच्चों का साल बर्बाद नहीं कर सकते. लिहाजा परीक्षा तय तारीख को ही आयोजित की जाए. ऐसे में अधीर रंजन चौधरी ने पीएम मोदी को पत्र लिख कर परीक्षाओं के लिए मोहलत मांगी है.

उनका कहना है कि कोरोना संकट के चलते बच्चों पर इस वक्त काफी दवाब है. वह इस बात से परेशान हैं कि परीक्षाओं के दौरान खुद को इम्यून कैसे रखें. इस दलील के साथ उन्होंने अपील की है कि कोरोना की स्थिति ठीक होने तक परीक्षाओं को रोक दिया जाए.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस को पूरी तरह बदल दें... 23 बड़े नेताओं का सोनिया गांधी को पत्र

बता दें, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के मुताबिक राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) 13 सितंबर को आयोजित की जाएगी, जबकि संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) एक से छह सितंबर के बीच आयोजित होगी. एनटीए ने शुक्रवार को कहा कि सुप्रीम कोर्ट में परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग को लेकर निरस्त की गई याचिकाओं के बाद अब परीक्षाएं स्थगित करने का कोई कारण नहीं है.

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के मुताबिक राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) 13 सितंबर को आयोजित की जाएगी, जबकि संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) एक से छह सितंबर के बीच आयोजित होगी. एनटीए ने शुक्रवार को कहा कि सुप्रीम कोर्ट में परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग को लेकर निरस्त की गई याचिकाओं के बाद अब परीक्षाएं स्थगित करने का कोई कारण नहीं है.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस नेताओं ने उठाए नेतृत्व पर सवाल, कहा- कोई फैसला नहीं ले पा रहे

नहीं होंगी परीक्षाएं स्थगित

एनटीए ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है, 'हम मानते हैं कि कोरोना वायरस महामारी चल रही है, लेकिन कुल मिलाकर जीवन चलता रहेगा. छात्रों का भविष्य अधर में नहीं लटकाया जा सकता और न ही एक शैक्षिक सत्र को बर्बाद किया जा सकता है.' यानी अब एहतियात बरतते हुए परीक्षाएं होंगी और इन्हें स्थगित नहीं किया जाएगा

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 23 Aug 2020, 03:33:21 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो