News Nation Logo
Banner

बच्चों को बुखार और बीमारियों से है बचाना, तो उनको किशमिश खिलाना मत भूलना

सबसे जरूरी बात बता दें कि ड्राई फ्रूट्स में किशमिश (Raisins) का इस्तेमाल सबसे ज्यादा लोग करते हैं. ख़ास कर काजू के साथ. इसका इस्तेमाल स्वीट डेजर्ट, हलवा, मिठाई, खीर, पुलाव आदि में भी खूब किया जाता है.

News Nation Bureau | Edited By : Nandini Shukla | Updated on: 14 Feb 2022, 11:19:54 AM
raisins

बच्चों को बुखार से है बचाना, तो उनको किशमिश खिलाना मत भूलना (Photo Credit: serious eats)

New Delhi:  

अकसर आपने बचपन में बड़ों से सुना होगा कि किशमिश सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. अक्सर पुलाव में या खीर में या फिर किसी न किसी सब्जी में किशमिश पड़ ही जाता है. हालांकि बच्चें या बड़े भी कभी-कभी किश्ममिश खाना पसंद नहीं करते. सबसे जरूरी बात बता दें कि ड्राई फ्रूट्स में किशमिश (Raisins) का इस्तेमाल सबसे ज्यादा लोग करते हैं. ख़ास कर काजू के साथ. इसका इस्तेमाल स्वीट डेजर्ट, हलवा, मिठाई, खीर, पुलाव आदि में भी खूब किया जाता है. अंगूर को सुखाकर बनने वाली किशमिश (Kishmish) में इतने पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो बच्चों के लिए ही नहीं बल्कि बड़ों के स्वास्थ्य के लिए जरूरी होते हैं. तो चलिए जानते हैं बच्चों के लिए किशमिश कैसे फायदेमंद है. 

यह भी पढ़ें- WHO ने किया Alert ! Omicron से ज्यादा खतरनाक होगा अगला वैरिएंट

किशमिश कई प्रकार की होती है काली, भूरी, गोल्डन और सभी का स्वाद अलग होता है. इसमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, ऊर्जा, फाइबर, आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, थियामिन, विटामिन बी-6, सी, ई, के, जिंक, क़पर हर तरह के विटामिन्स मौजूद होते हैं. 

कुछ हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, बच्चों को किशमिश खिलाने के कई तरह के फायदे होते हैं. इसमें आयरन और कार्बोहाइड्रेट होता है. किशमिश बच्चों के लिए मीठी, अनहेल्दी कैंडीज, चॉकलेट का एक हेल्दी विकल्प हो सकती है. बच्चों के लिए यह एक हेल्दी और टेस्टी स्नैक्स ऑप्शन हो सकता है. 10 से 15 किशमिश खिलाने से फाइबर, आयरन, सोडियम, फैट की पूर्ति होती है. किशमिश आयरन होता है इसलिए ये बच्चों की नेचुरल ग्रोथ करने में मदद करता है. 

बच्चों में कब्ज-

यदि आपके बच्चे को कब्ज की समस्या रहती है, तो उसे किशमिश खाने के लिए दें. इस ड्राई फ्रूट में फाइबर भी होता है, जो कब्ज दूर करता है. 

यह भी पढ़ें- मीट, चाइनीज़ या चॉक्लेट जैसी चीज़ों से ट्रिगर होता है माइग्रेन का दर्द, जानें कुछ अहम बातें

बुखार-

अक्सर बच्चे बीमार पड़ते हैं, कभी सर्दी-खांसी, तो कभी बुखार. कमजोर इम्यूनिटी होने से ये समस्याएं ज्यादा होती हैं. ऐसे में उनकी इम्यूनिटी को मजबूत करने के लिए उन्हें किशमिश खिलाएं. बच्चों को किशमिश खिलने से बुखार, और इम्युनिटी कमज़ोर की दिक्कत नहीं होती. अगर आपका बच्चा पढाई में ध्यान नहीं लगा पाता तो उसे किशमिश खिलाएं. किशमिश से दिमाग तेज होता है. और पढ़ाई में मन लगता है. 

First Published : 14 Feb 2022, 11:18:49 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.