News Nation Logo
Banner

कोरोनाकाल में संकटमोचक बनी रेलवे, 25 ऑक्सीजन एक्सप्रेस बचा रहीं जिंदगी

कोरोना की दूसरी लहर में सबसे ज्यादा कमी ऑक्सीजन की हो रही है. इससे निपटने के लिए रेलवे ने 19 अप्रैल से ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलाई थी. रेलवे ने अब तक कई राज्यों में 813 टन तरल मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचा चुकी है.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 01 May 2021, 07:46:31 PM
oxygen express

oxygen express (Photo Credit: ANI)

highlights

  • कोरोनाकाल में रेलवे पूरी मदद करने में लगा
  • ऑक्सीजन सप्लाई के लिए चल रहीं ऑक्सीजन एक्सप्रेस
  • 4,176 कोविड केयर कोच तैयार किए

नई दिल्ली:

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में रेलवे (India Railway) 'संकटमोचक' की भूमिका निभा रही है. ऑक्सीजन एक्सप्रेस (Oxygen Express) के जरिए रेलवे देश के अलग-अलग राज्यों में ऑक्सीजन (Oxygen) पहुंचा रही है. रेलवे की मदद मिलने से ऑक्सीजन टैंकर के आने-जाने का वक्त काफी कम हो गया है. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन और सीईओ ने बताया कि रेलवे की तरफ से 19 अप्रैल को पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलाई गई थी. और अब तक 25 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ने 56 ऑक्सीजन टैंकरों के जरिए देश में 813 टन तरल मेडिकल ऑक्सीजन को जरूरतमंद राज्यों तक पहुंचाया है. 

ये भी पढ़ें- चेन्नई : रेमडेसिविर के लिए दिन भर कतार में रहने के बाद लोग खाली हाथ लौटे

रेलवे की तरफ से 19 अप्रैल को पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलाई गई थी. पहली ट्रेन खाली टैंकर लेकर मुंबई से विशाखापट्टनम तक गई थी और वहां से ऑक्सीजन लोड कर लेकर आई थी. उसके बाद से रेलवे ने अपना दायरा बढ़ाया और महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, तेलंगाना और हरियाणा समेत कई राज्यों तक ऑक्सीजन डिलीवर की.

4,176 कोविड केयर कोच तैयार किए

ऑक्सीजन की सप्लाई करने के साथ ही कोविड केयर कोच (COVID Care Coach) की तैनाती भी स्टेशनों पर शुरू कर दी गई है. रेलवे की ओर से बताया गया कि मौजूदा समय में रेलवे के पास 4,176 ऐसे कोच हैं, ज‍िनको कोविड केयर कोच के रूप में परिवर्तित किया गया है. इन रेलवे कोच को चलते-फ‍िरते अस्‍पताल के रूप में तब्‍दील कर दिया गया है. इन डिब्बों की वजह से देश में अस्पतालों के अंदर बेड्स की जो किल्लत होगी वो दूर होगी. 

ये भी पढ़ें- दिल्ली के अस्पताल में ऑक्सीजन संकट के कारण डॉक्टर, और 7 अन्य की मौत

बेड्स की किल्लत दूर होगी

रेल मंत्रालय की तरफ से जारी बयान के मुताबिक 'रेलवे ने राज्यों द्वारा उपयोग के लिए लगभग 64,000 बेड के साथ लगभग 4,176 कोविड केयर कोच बनाए हैं. रेल मंत्रालय ने कहा कि वर्तमान में 169 कोच विभिन्न राज्यों को सौंप दिए गए हैं.' रेलवे ने कहा कि इन कोचों का इस्तेमाल उन मरीजों के लिए किया जा सकता है जिनकी हालत बहुत गंभीर नहीं है. राज्य सरकार की मांग पर रेलवे कोविड केयर कोच शुरू कर रही है. 24 अप्रैल तक पश्चिमी रेलवे जोन के तहत महाराष्ट्र के नंदुरबर जिले में 21 कोविड केयर कोच शुरू किए गए हैं. इन कोविड केयर कोच में 47 मरीजों की भर्ती की गई है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 01 May 2021, 07:30:28 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.