News Nation Logo
Banner

Immunity बढ़ाने वाला काढ़ा कहीं पंहुचा तो नहीं रहा सेहत को खतरा

ये बात सच है कि काढ़ा पीने से इम्यूनिटी मजबूत होती है.लेकिन क्या आप जानते हैं कि जो काढ़ा आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए फायदेमंद है उसका ज्यादा सेवन करना आपके लिए खतरनाक भी हो सकता है. चलिए बाटते हैं काढ़ा पीने के नुकसान.

News Nation Bureau | Edited By : Nandini Shukla | Updated on: 12 Jan 2022, 05:13:36 PM
kadha

Immunity बढ़ाने वाला काढ़ा कहीं पंहुचा तो नहीं रहा सेहत को खतरा (Photo Credit: telguspot.com)

New Delhi:  

अक्सर नानी-दादी कहती थी की किसी भी चीज़ को ज्यादा खाओ या पीयो तो वो नुक्सान दायक होती है. फिर चाहे हो खाना पीन अहो या इम्यूनिटी को बूस्ट करने का तरीका. हर चीज़ को ज्यादा खाना सेहत के लिए नुक्सान दायक हो सकता है. शरीर को स्वस्थ रखने के लिए उतना ही सेवन करना चाहिए जितना जरूरी है. इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए लोग रोजाना काढ़ा बनाकर पी रहे हैं. हालांकि ये बात कोरोना काल में लोगों ने सीखी कि काढ़ा पीने से सेहत और इम्यूनिटी दोनों फायदे में रहती है. ये बात सच है कि काढ़ा पीने से इम्यूनिटी मजबूत होती है.लेकिन क्या आप जानते हैं कि जो काढ़ा आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए फायदेमंद है उसका ज्यादा सेवन करना आपके लिए खतरनाक भी हो सकता है. चलिए बाटते हैं काढ़ा पीने के नुकसान -  

यह भी पढ़ें- ऊनी कपड़े पहन कर सोना बन सकता है आपके मौत का कारण

पेट बहुत ज्यादा गैस बनना और जलन होना

नाक से खून बहना और सूखापन रहना 

मुंह में छाले हो जाना

एसिड बनना

चेहरे पर पिम्पल्स निकलना

सर में दर्द होना 

काढ़ा बनाने में काली मिर्च, दालचीनी, हल्दी, गिलोय, अश्वगंधा, इलायची और सोंठ जैसी गर्म सामग्री का इस्तेमाल किया जाता है. ये सारी चीजें शरीर में गर्मी पैदा करती हैं. सही मात्रा से काढ़ा पीने से कफ खत्म हो जाता है. काढ़ा बनाते वक्त ध्यान दें कि अगर आपको गर्म तासीर की चीजें सूट नहीं करती काढ़ा बनाने के लिए इस्तेमाल करने वाली जड़ी-बूटियों और मसालों की मात्रा का ध्यान रखें. आप दालचीनी, काली मिर्च, अश्वगंधा और सोंठ की मात्रा कम कर सकते हैं. 

यह भी पढ़ें- Virat Kohli को क्यों पीना पड़ता है 'काला पानी', वजह जानकार रह जाएंगे हैरान

First Published : 12 Jan 2022, 05:13:36 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.