logo-image
लोकसभा चुनाव

बच्चों में अगर दिखते हैं ये लक्षण तो हो जाएं सावधान, इस चीज़ की हो सकती है कमी

आज कल के खान पान के चलते सही तरह के प्रोटीन, कोप्पर, जिंक हर तरह के प्रोटीन जाना बहुत ज़रूरी है. जिंक की कमी के ऐसे कोई अलग-अलग से लक्षण नहीं होते हैं.

Updated on: 08 Jun 2022, 05:57 PM

New Delhi:

आजकल की लाइफस्टाइल के चलते बच्चों का सही विकास बहुत ज़रूरी है. आज कल के खान पान के चलते सही तरह के प्रोटीन, कोप्पर, जिंक हर तरह के प्रोटीन जाना बहुत ज़रूरी है. जिंक की कमी के ऐसे कोई अलग-अलग से लक्षण नहीं होते हैं. जिससे आप सीधे ये पता कर पाएं कि बच्चे के शरीर में किस चीज की कमी है. हम आपको कुछ ऐसे लक्षण बता रहे हैं जिनसे काफी हद तक पता लगाया जा सकता है कि बच्चे के शरीर में वाकई में जिंक की कमी है या नहीं. इससे आप अपने बच्चों को सही तरह के पोषक तत्व दे सकते हैं. तो आइये जानते हैं कौन से हैं वो लक्षण. 

यह भी पढ़ें- शरीर से मिलने वाले इन लक्षणों को न करें नज़रअंदाज़, थकान और कमज़ोरी भी है शामिल

बच्चों के शरीर में जिंक की कमी के लक्षण

1- भूख में कमी- जब आपका बच्चा खाने के लिए बिलकुल भी तैयार न हो, या भूख न लगने के बारे में बताएं, तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लेकर पता करें की आखिर भूख न लगने का कारण क्या है. हल्के कभी कभी गर्मी की वजह से भी ऐसा होता है लकिन अगर आपका बच्चा बिलकुल भी खाना नहीं खता तो डॉक्टर से सलाह लें. 

2- वजन और लम्बाई कम होना- यदि आपके बच्चे की लम्बाई और वजन में काफी समय से कुछ भी बदलाव नहीं हुआ है, तो ऐसा हो सकता है कि यह जिंक के कमी के कारण हो. ऐसे में डॉक्टर से सलाह ज़रूर लें कि क्या करना चाहिए.

3- मेमोरी कमजोर होना- कई बार बच्चों के मेमोरी कमजोर होती जाती है. जैसे कुछ समय पहले क्या खाया वह उन्हें याद नहीं रहता, पढाई में जब कुछ याद करवाया जाता है वह भूल जाते है. ये ज़िंक की कमी की वजह से हो सकता है. इसलिए जब भी ऐसा हो उन्हें डॉक्टर के पास लेजायें और पोषक तत्व खिलाएं.

5- बालों का तेजी से झड़ना- ज़िंक की कमी से बाल तेजी से झड़ते हैं. अगर आपके बच्चे  के बाल भी तेजी से झड़ रहे हैं तो ये ज़िंक की कमी से हो सकता है. तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. 

यह भी पढ़ें- शरीर की इन सभी समस्याओं से मिलेगा छुटकारा, खाने में इस नमक का करें इस्तेमाल