News Nation Logo

सर्दी जुखाम से है हाल बेहाल, इन घरेलू उपायों से सेहत होगी मालामाल

अक्सर सर्दियां (Winter) आते ही या आने से पहले बंद नाक, गले में खराश और खांसी (Cold and Cough) जैसी दिक्कतें जकड़ने लगती हैं. ऐसे में आज हम आपको कुछ बेहद ही कारगर घरेलू उपाय (Home remedies) बताने जा रहे हैं जिन्हें आजमाकर आप बदलते मौसम (Weather change)

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 16 Sep 2021, 10:02:03 AM
Home remedies for cough and cold

Home remedies for cough and cold (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :

बंद नाक, गले में खराश और खांसी.. ये वे लक्षण हैं, जिन्होंने कोविड-19 (Covid-19 symptoms) के दौरान सबसे ज्यादा डराया है. असल में कोविड-19 संक्रमण और मौसमी संक्रमणों (Seasonal Flu) दोनों में ही ये लक्षण समान रूप से नजर आते हैं. लेकिन यहां आज बात बदलते मौसम के कारण होने वाले सर्दी जुखाम की होने जा रही है. दरअसल, बदलते मौसम (Weather change) में सर्दी-जुकाम (Cold and cough) से बच पाना नामुमकिन सा हो जाता है. इसका वैसे तो एक कारण सेहत के प्रति लापरवाही और गलत खान पान ज्यादातर देखने को मिलता है लेकिन कई बार हर तरह से सावधानी बरतने के बाद भी ये सर्दी जुखाम आपको अपनी चपेट में ले ही लेता है. शरीर में दर्द, बुखार, ठंड लगना और नाक बंद होना- ये वो दिक्कतें हैं जो सर्दी जुखाम के वक्त होती हैं. ये दिखती तो आम हैं लेकिन असल में ये शरीर को बेहद कमजोर बना देती हैं. इसलिए आज हम आपको कुछ बेहद ही कारगर घरेलू उपाय (Home remedies) बताने जा रहे हैं जिन्हें आजमाकर आप बदलते मौसम (Weather change) की मार और सर्दी जुखाम के प्रहार से बच सकते हैं.      

यह भी पढ़ें: अगर लिवर को रखना है हेल्दी, तो जानें क्यों खानी चाहिए हल्दी

1. शहद की चाय 
खांसी के लिए एक लोकप्रिय घरेलू उपाय है शहद. शहद को गर्म पानी में मिलाकर लेने से हर तरह की खासी और जुखाम में फायदा मिलता है. कुछ हेल्थ रिपोर्ट्स के मुताबिक, शहद खांसी से राहत दिला सकता है. इतना ही नहीं, बच्चों में रात के समय होने वाली खांसी के लिए गहरे रंग का शहद बहुत बेजोड़ है. इसके अलावा, आप शहद की चाय भी पी सकते हैं. 2 चम्मच शहद को गर्म पानी या किसी हर्बल चाय के साथ मिलाकर पीने से सर्दी जुखाम में जल्द ही राहत मिलती है.  

2. नमक-पानी के गरारे
गले में खराश और गीली खांसी के इलाज के लिए नमक-पानी के गरारे वाला सिंपल सा उपाय सबसे ज्यादा प्रभावी है. नमक का पानी गले के पिछले हिस्से में कफ और बलगम को कम करता है जिससे खांसी ठीक हो सकती है. एक कप गर्म पानी में आधा छोटा चम्मच नमक तब तक मिलाएं जब तक वह घुल न जाए. गरारे करने के लिए इस्तेमाल करने से पहले घोल को थोड़ा ठंडा होने दें. 

यह भी पढ़ें: ब्रेन हेमरेज की प्रॉब्लम से नहीं होना चाहते परेशान, इन बातों का रखें ध्यान

3. अजवायन के फूल (Thyme)
अजवायन के खाने में और उपचार दोनों उपयोग हैं और यह खांसी, गले में खराश, ब्रोंकाइटिस (bronchitis) और पाचन संबंधी समस्याओं यानी कि digestive problems के लिए एक general remedy है. कुछ हेल्थ रिपोर्ट्स के मुताबिक, अजवायन के फूल (thyme) और आइवी के पत्तों (ivy leaves) से युक्त कफ सिरप हाई ब्रोंकाइटिस वाले लोगों में ज्यादा जल्दी और ज्यादा इफेक्टिव तरीके से खांसी में राहत देता है. इसके पौधे में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट खासी जुखाम में बेजोड़ साबित हो सकते हैं. 

4. अदरक 
अदरक सूखी खांसी या दमा की खांसी को कम कर सकता है, क्योंकि इसमें एंटी- इन्फ्लैमेटरी (anti-inflammatory)  गुण होते हैं. यह दर्द से भी छुटकारा दिला सकता है. अदरक में कुछ ऐसे एंटी- इन्फ्लैमेटरी गुण है जो गले को आराम दे सकते हैं, जिससे खांसी कम हो जाती है. अगर अदरक को शहद या नींबू के रस के साथ गरम पानी में उबाल कर पिया जाए तो सर्दी जुखाम में ये मिश्रण आपके लिए किसी अमृत से कम नहीं. 

5. हल्दी का दूध 
लगभग सभी भारतीय रसोई में पाई जाने वाली एक आवश्यक चीज है हल्दी. हल्दी में एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट होता है जो कई health problems के इलाज में मदद करता है. गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पीना, सर्दी और खांसी से लड़ने का एक फेमस और इफेक्टिव तरीका है. सोने से पहले एक गिलास गर्म हल्दी वाला दूध पीने से सर्दी और खांसी से जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है.

First Published : 16 Sep 2021, 10:02:03 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.