News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

पटाखों का प्रदूषण नहीं करेगा परेशान, बस अस्थमा पेशेंट्स अपनाएं ये तरीके आसान

आज हम आपको कुछ बेहद ही असरदार हेल्थ टिप्स बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से अस्थमा रोगियों को दिवाली के दौरान होने वाले पॉल्यूशन से बचने में मदद भी मिलेगी और वो दिवाली भी धूम धाम से मना सकेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 28 Oct 2021, 11:23:35 PM
asthma pollution

health tips for asthma patients to prevent from diwali pollution (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :

देश में त्योहारों के मौसम की शुरुआत हो चुकी है. इसमें दीपावली के त्योहार को कई मामलों में खास माना जाता है. दीपावली उत्सव, जश्न, मिठाइयों और पटाखों का त्योहार माना जाता है. हालांकि डायबिटीज और अस्थमा के रोगियों को दीपावली में विशेष सावधानी रखने की सलाह दी जाती है. ऐसा इसलिए क्योंकि दीपावली की मिठाइयों से डायबिटीज जबकि पटाखों से अस्थमा रोगियों को खतरा बढ़ जाता है. अगर सिर्फ अस्थमा पेशेंट्स की बात करें तो, पटाखों से निकलने वाला धुंआ अस्थमा पेशेंट्स के लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है.

यह भी पढ़ें: विटामिन सी से लोडेड पाइनएप्पल, इन बीमारियों को दूर करने में है कैपेबल

हेल्थ एक्सेर्ट्स के मुताबिक, पटाखों में कई तरह के हानिकारक रसायन (harmful chemicals) होते हैं जो जलने के बाद एन्वायरमेंट को प्रदूषित कर देते हैं. इस तरह का वातावरण अस्थमा जैसे respiratory patients के लिए बहुत ही नुकसानदायक है. ऐसे में आज हम आपको कुछ बेहद ही असरदार हेल्थ टिप्स बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से अस्थमा रोगियों को दिवाली के दौरान होने वाले पॉल्यूशन से बचने में मदद भी मिलेगी और वो दिवाली भी धूम धाम से मना सकेंगे.  

1. मास्क लगाना

कोरोना के इस दौर ने लोगों को मास्क लगाए रखने की आदत बनवा दी है, दीपावली के इस मौसम में बाहर जाते समय सभी लोगों, विशेषकर अस्थमा के रोगियों को मास्क जरूर लगाए रखना चाहिए. वातावरण में मौजूद धूल-मिट्टी और पटाखों से निकलने वाले धुएं से सेफ रखने में यह मास्क आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकते हैं. अस्थमा के रोगियों को दीपावली के दिन डबल मास्क लगाकर रखना चाहिए.

                                                       

2. इनहेलर और दवाइयां साथ में रखें

दीपावली के दिन चूंकि एयर पॉल्यूशन बढ़ जाता है ऐसे में अस्थमा के रोगियों को विशेष सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए. आप इनहेलर और दवाइयां हमेशा अपने साथ ही रखें, बेहतर रहेगा कि आप पहले से ही इन्हें खरीदकर रख लें. अस्थमा का अटैक कभी भी हो सकता है, ऐसे में इनहेलर रखकर आप खुद को खतरे में जानें से बचा सकते हैं.

                                                        

3. बेवजह बाहर न निकलें

दीपावली के दिन अस्थमा के रोगियों को विशेष सावधान रहने की आवश्यकता होती है, चूंकि बाहर के माहौल में प्रदूषण ज्यादा होता है इसलिए कोशिश करें कि आप ज्यादा से ज्यादा घर के अंदर ही रहें. खिड़की-दरवाजों को बंद रखकर आप प्रदूषण से खुद को सुरक्षित रख सकते हैं. घर से बाहर निकलना भी हो तो मास्क लगाकर ही निकलें.

                                                         

4. ब्रीदिंग एक्सेसाइज करें और डॉक्टर के संपर्क में रहें

अस्थमा के रोगियों के लिए ब्रीदिंग एक्सेसाइज करना बेहद फायदेमंद माना जाता है. ब्रीदिंग एक्सेसाइजिज अस्थमा को रोकने में मदद करने के साथ फेफड़ों को मजबूती देने में हेल्पफुल होती हैं. इसके अलावा, अगर दीपावली के दिन आपको सांस से जुड़ी कोई भी परेशानी महसूस हो रही है तो इस बारे में तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें. 

First Published : 28 Oct 2021, 11:22:55 PM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.