News Nation Logo
दिल्ली के राजीव गांधी अस्पताल में फ्री डायलिसिस बंद पीपीपी मॉडल का है डायलिसिस सेंटर पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से की मुलाकात 12 देशों के मुसाफिरों के लिए गाइडलाइन्स जारी ओमीक्रोन पर DDMA की हाईलेवल मीटिंग अगले आदेश तक दिल्ली में निर्माणकार्य पर रोक निर्माण से जुड़े मजदूरों को सरकारी मदद दी जाएगी दिल्ली में पब्लिक ट्रांसपोर्ट बढ़ाया जाएगा ओमीक्रोन से निपटने के लिए हम पूरी तरह तैयार: मनीष सिसोदिया संसद के दोनों सदनों से कृषि कानून वापसी बिल पास कृषि कानूनों की वापसी का बिल पारित होना जान गंवाने वाले किसानों को श्रद्धांजलि है: राकेश टिकैत एमएसपी समेत अन्य मुद्दे लंबित रहने के कारण विरोध जारी रहेगा: राकेश टिकैत हंगामे के बीच लोकसभा में कृषि कानून वापसी बिल पास दक्षिण अफ्रीका से महाराष्ट्र लौटा शख्स कोरोना पॉजिटिव आम आदमी पार्टी नहीं होगी विपक्षी दलों की बैठक में शामिल

विंडोज 11 से Google खुश नहीं हैं, जाने क्यों

विंडोज़ 11 कई वजह से माइक्रोसॉफ्ट का सबसे दिलचस्प ऑपरेटिंग सिस्टम होने जा रहा है.

News Nation Bureau | Edited By : Shubham Upadhyay | Updated on: 20 Aug 2021, 01:39:04 PM
Windows 11

windows 11 (Photo Credit: news nation)

highlights

  • जब आप माइक्रोसॉफ्ट एज का यूज करके एक नए ब्राउज़र पर जाते हैं तो ऐसा करना बहुत मुश्किल है.
  • डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र सेट करना भूल जाने के बाद में डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र चुनने की प्रक्रिया जटिल हो जाती है.

नई दिल्ली :

विंडोज़ 11 कई वजह से माइक्रोसॉफ्ट का सबसे दिलचस्प ऑपरेटिंग सिस्टम होने जा रहा है. उनमें से एक है विंडोज 11 के उपयोगकर्ताओं के लिए माइक्रोसॉफ्ट एज से डिफ़ॉल्ट वेब ब्राउज़र को Google क्रोम या मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स में बदलना. ये दिलचस्प होगा क्योंकि माइक्रोसॉफ्ट ने कभी ऐसा कुछ नहीं किया है. डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र चुनने की प्रक्रिया को कठिन बनाना Microsoft के लिए एक अच्छी रणनीति हो सकती है. आपको बताते चलें कि विंडोज 11 पर डिफ़ॉल्ट वेब ब्राउज़र को स्विच करना काफी कठिन है, इतना ज्यादा कि आप परेशान होकर डिफ़ॉल्ट के रूप में माइक्रोसॉफ्ट एज के साथ रहेंगे.

अब आपको बताते हैं कि होता क्या है, जब आप माइक्रोसॉफ्ट एज का यूज करके एक नए ब्राउज़र पर जाते हैं तो ऐसा करना बहुत मुश्किल है. ये उन लोगों के लिए आसान और सहज हो सकता है, जिन्होंने अपनी पसंद के अनुसार एक नया वेब ब्राउज़र डाउनलोड किया हो. आप ऐसे में जल्दी से एक ब्राउज़र को सलेक्ट कर सकते हैं और अपनी ब्राउज़िंग जारी रख सकते हैं. लेकिन उसके बाद डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र को नहीं बदल सकते. आप तभी बदल सकते हैं जब तक "हमेशा इस ऐप का उपयोग करें" ऑप्शन को टॉगल न करें. इसके आगे वाले बॉक्स पर क्लिक करने पर, आप अपनी पसंद के ब्राउज़र को हमेशा के लिए डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र के रूप में सेट कर देते हैं. क्योंकि अधिकांश उपयोगकर्ता ऐसा करना भूल जाते हैं, वे वास्तव में कभी भी अधिकांश चीजों के लिए एक डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र सेट नहीं करते हैं.

यह भी पढ़ें : शिवम दुबे और यशस्‍वी जायसवाल राजस्‍थान रॉयल्‍स छोड़ मुंबई की टीम में शामिल 

लेकिन इस लेवल पर डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र सेट करना भूल जाने के बाद में डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र चुनने की प्रक्रिया जटिल हो जाती है. अन्य ब्राउज़र, जैसे कि Google क्रोम, ओपेरा, मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स और विवाल्डी, आपको नोटिफिकेशन के साथ परेशान करते रहेंगे. आपको उन्हें डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र के रूप में सेट करने के लिए कहेंगे। जब आप नोटिफिकेशन पर क्लिक करते हैं, तो आप विंडोज सेटिंग्स में संबंधित सेक्शन में पहुंच जाएंगे जहां आप डिफॉल्ट ऐप्स को बदल सकते हैं.

यह भी पढ़ें : IPL 2021 : एमएस धोनी का ट्रंप कार्ड आएगा वापस, CSK के लिए खेलेगा 

विंडोज सेटिंग्स में, उपयोगकर्ताओं को अब एक लंबी सूची दिखाई देगी क्योंकि इसी तरह माइक्रोसॉफ्ट चाहता है कि वे अपने डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र का चयन करें। वेब ब्राउज़िंग के लिए केवल एक ही प्रकार और आपके पीसी पर वेब ब्राउज़रों के विकल्प के बजाय, माइक्रोसॉफ्ट का विंडोज 11 आपको लिंक के अनुसार डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र सेट करने के लिए कहेगा. इसलिए, Google Chrome को डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र के रूप में सेट करने के लिए, आपको हर एक फ़ाइल जैसे HTML, PDF, SHTML, SVG, WEBP, XHT, XHTML, FTP, HTTP और HTTPS के लिए Chrome चुनना होगा.

यह सुनने में जितना कठिन लगता है, उतना ही करने में मुश्किल है. यह ठीक है, ये देखते हुए कि Microsoft एज ब्राउज़र को दूसरों पर अपनाना चाहता है, लेकिन डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र चुनने की पूरी प्रक्रिया को कठिन बनाना आपको परेशान करने वाला है.

First Published : 20 Aug 2021, 01:31:15 PM

For all the Latest Gadgets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.