News Nation Logo

निकोल आरबोर ने ग्रेटा थनबर्ग को दी हिदायत, बोलीं- भारतीयों के साथ कभी...

18 साल कीं ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने किसान आंदोलन को लेकर एक गूगल डोक्यूमेंट शेयर किया था जिसमें वैश्विक स्तर पर कृषि कानूनों के विरोध करने के बारे में बताया गया था

News Nation Bureau | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 06 Feb 2021, 10:14:47 AM
greta thunberg1

निकोल आरबोर ने ग्रेटा थनबर्ग को दी हिदायत (Photo Credit: फोटो- @gretathunberg Instagram)

नई दिल्ली:

सोशल एक्टिविस्ट और पर्यावरण संरक्षण के लिए काम करने वालीं ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) को अब भारत ही नहीं दुनियाभर से लोग ट्रोल कर रहे हैं. हाल ही में मशहूर कॉमेडियन निकोल आरबोर (Nicole Arbour) ने भी भारत सरकार के सपोर्ट में ट्वीट करते हुए लिखा, 'भारतीयों के साथ कभी खिलवाड़ नहीं करना चाहिए.' कॉमेडियन निकोल आरबोर (Nicole Arbour) ने अपने इस ट्वीट के साथ हैशटैग #GretaThunbergExposed का उपयोग किया. 18 साल कीं ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने किसान आंदोलन को लेकर एक गूगल डोक्यूमेंट शेयर किया था जिसमें वैश्विक स्तर पर कृषि कानूनों के विरोध करने के बारे में बताया गया था.

यह भी पढ़ें: आखिर क्यों कंगना रनौत ने दुनिया की चर्चित मैगजीन फोर्ब्स को कहा, अगर मैं गलत तो केस करो

ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) के इस ट्वीट को लेकर देश में कई लोगों ने आपत्ति जाहिर की थी. आखिर में ग्रेटा ने इसे डिलीट कर दिया. ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) के इस  'ग्लोबल फार्मर्स स्ट्राइक- फर्स्ट वेव' टाइटल से शेयर डोक्यूमेंट में 26 जनवरी को विश्वभर में लोगों को आंदोलन का समर्थन करने की बात कही गई थी. इसके साथ ही इस गूगल डोक्यूमेंट में बताया गया था कि जो जहां भी है वहां स्थानीय स्तर पर प्रदर्शन करके भारत के किसानों के लिए अपना समर्थन जाहिर करें या फिर अपने देश, राज्य या शहर में हो रहे विरोध प्रदर्शनों का पता लगाकर उसमें शामिल हों. 

इस डोक्यूमेंट में यह भी लिखा था कि लोगों को भारतीय दूतावासों, स्थानीय सरकारी कार्यालयों या अडानी और अंबानी की कंपनियों के कार्यालयों के बाहर एकजुटता के साथ विरोध प्रदर्शन करने के लिए भी कहा गया था. जब तक ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने इस ट्वीट को डिलीट किया वो वायरल हो चुका था. जिसके बाद से सोशल मीडिया पर ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) को ट्रोल किया जा रहा है. 

यह भी पढ़ें: ग्रेटा थनबर्ग के ट्वीट पर आया प्रकाश राज का रिएक्शन, बोले- मैं किसानों को...

सोशल एक्टिविस्ट और पर्यावरण संरक्षण के लिए आवाज उठाने वालीं ग्रेटा थनबर्ग के बारे में बात करें तो उनका जन्म 3 जनवरी 2003 को स्वीडन के स्टॉकहोम में हुआ था. ग्रेटा की मां मालेना एमान एक ओपेरा सिंगर हैं, जबकि पिता स्वांते थनबर्ग एक्टर हैं.  ग्रेटा 11 साल की उम्र से जलवायु परिवर्तन के लिए काम कर रही हैं. जलवायु परिवर्तन की मुहिम के लिए ग्रेटा (Greta Thunberg) ने स्वीडन की संसद के बाहर प्रदर्शन करना शुरू किया था. ग्रेटा की इस मुहिम के बाद से दुनिया के हजारों बच्चे आज के समय में जलवायु परिवर्तन के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 Feb 2021, 10:14:47 AM

For all the Latest Entertainment News, Hollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो