News Nation Logo

BREAKING

Banner

'हरामखोर' कहते वक्‍त नहीं लिया था कंगना का नाम, हाई कोर्ट में संजय राउत के वकील बोले

बीरेंद्र सराफ ने प्रस्तुत किया कि राउत ने अभिनेत्री के खिलाफ 'हरामखोर' कहकर अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया था और कहा था कि उसे 'सबक सिखाने' की जरूरत है

News Nation Bureau | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 28 Sep 2020, 07:29:53 PM
kangana ranaut

कंगना रनौत (Photo Credit: फोटो- @team_kangana_ranaut Instagram)

नई दिल्ली:

बीएमसी (BMC) द्वारा बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत (Kangana Ranaut) का दफ्तर तोड़ने के खिलाफ दायर मामले की सुनवाई के दौरान, बॉम्बे हाईकोर्ट ने आज शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) के बयानों की ऑडियो क्लिप चलवाई. जस्टिस एस जे कथावाला और जस्टिस आर आई छागला की एक बेंच ने कंगना की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता डॉ बीरेंद्र सराफ को ऑडियो क्लिप चलाने के लिए कहा. ये कदम सराफ द्वारा प्रस्तुत किए जाने के बाद उठाया गया कि तोड़फोड़ दुर्भावना के चलते की गई क्योंकि यह महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ रनौत ने टिप्पणी की थी.

यह भी पढ़ें: SSR Case : एक कदम और आगे बढ़ी जांच, एम्‍स के मेडिकल बोर्ड ने CBI को सौंपी रिपोर्ट

बीरेंद्र सराफ ने प्रस्तुत किया कि राउत ने अभिनेत्री के खिलाफ 'हरामखोर' कहकर अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया था और कहा था कि उसे 'सबक सिखाने' की जरूरत है. इस स्तर पर, न्यायमूर्ति कथावाला ने वीडियो कॉन्फ्रेंस की सुनवाई में इस क्लिप को चलाने के लिए कहा. क्लिप चलने के बाद, राउत के वकील, प्रदीप जे तोरत ने कहा कि उनके मुवक्किल ने अपने बयान में रनौत का नाम नहीं लिया है. जवाब में, न्यायमूर्ति कथावाला ने तोरत से पूछा कि क्या अदालत उनके बयान को दर्ज कर सकती है कि राउत कंगना रनौत का जिक्र नहीं कर रहे थे. राउत के वकील ने इस पर कहा कि मैं इसपर अपना एफिडेविट कल फाइल करुंगा.

यह भी पढ़ें: हैश और वीड कोई ड्रग्‍स नहीं टर्मिनोलॉजी है, दीपिका-सारा-श्रद्धा ने NCB के सामने कही ये बात

गौरतलब है कि 9 सितंबर को जब कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने ध्वस्तीकरण के खिलाफ पहली बारबॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था तब अदालत ने कार्रवाई पर रोक लगा दी थी और न्यायमूर्ति कथावाला ने बीएमसी की त्वरित कार्रवाई पर सवाल उठाया था. बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा था कि अगर नगर निकाय ने इतनी ही तेजी अन्य मामलों में दिखाई होती तो शहर बहुत अलग होता. बृह्न्मुंबई नगर निगम (BMC) ने अवैध निर्माण का हवाला देकर कंगना के बांद्रा वाले कार्यालय के कुछ हिस्सों को गिरा दिया था.

First Published : 28 Sep 2020, 07:29:53 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो