News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

जावेद अख्तर ने कहा-1 अरब डॉलर की कोकीन पर चर्चा नहीं, लेकिन इस पर देश में बवाल

जब आप हाई प्रोफाइल होते हैं तो किसी को नीचे खींचने में, आप पर पत्थर फेंकने में, उस पर कीचड़ उछालने में सबको मजा आता है.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 19 Oct 2021, 10:29:46 PM
Javed Akhtar

जावेद अख्तर (Photo Credit: NEWS NATION)

highlights

  • जावेद अख्तर, शाहरुख और आर्यन खान के समर्थन में आगे आए
  • हाई प्रोफाइल होने की ये कीमत बॉलीवुड को चुकानी पड़ रही है
  • बिलियन डॉलर के कोकिन के बारे में मैंने तो हेडलाइन तक नहीं देखी

नई दिल्ली:

मुंबई के क्रूज ड्रग्स मामले में आर्यन खान मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद है. आर्यन खान बॉलीवुड सुपर स्टार शाहरुख खान का बेटा है. आर्यन खान के बचाव और समर्थन में बॉलीवुड की बड़ी-बड़ी हस्तियां उतर आयी हैं. बालीवुड के लोग आर्यन खान के पक्ष में बयान दे रहे हैं. इस बीच जाने-माने गीतकार और संवाद लेखक जावेद अख्तर, शाहरुख और आर्यन खान के समर्थन में आगे आए हैं. उन्होंने शाहरुख खान और आर्यन खान का नाम लिए बगैर जांच के नाम पर बॉलीवुड और इंडस्ट्री के बड़े-बड़े सेलिब्रिटीज को निशाना बनाने की बात कही है.

मुम्बई में अलमास विरानी और श्वेता समोटा द्वारा महिलाओं को केंद्रित कर‌ लिखी किताब 'गेमचेंजर्स' के विमोचन समारोह में जावेद अख्तर ने मीडिया से बातचीत में कहा, "मैं तो यही कहना चाहूंगा कि एक पोर्ट (अडानी के पोर्ट) के ऊपर एक बिलियन डॉलर की कोकिन मिलती है और एक जगह कहीं क्रूज पर 1200 लोग मिलते हैं और वहां पर 1.30 लाख कीमत की चरस बरामद की जाती है, तो एक बहुत बड़ी नेशनल न्यूज़ बन जाती है. बिलियन डॉलर के कोकिन के बारे में मैंने तो हेडलाइन तक नहीं देखी. पांचवें या छठें पेज पर न्यूज आ जाती है. फिर कहा जाता है कि हम इस पोर्ट पर जहाज ही नहीं आने देंगे. अरे जो मिला है उसके बारे में तो पहले बात करो."

यह भी पढ़ें: चीन की हर चाल पर होगी नजर, अरुणाचल में सेना की एविएशन ब्रिगेड स्थापित 

विमोचन समारोह में जावेद अख्तर के अलावा अभिनेत्री नंदिता दास, कनिका ढिल्लन भी मौजूद थीं. इस मौके पर सभी ने दुनिया भर में महिलाओं द्वारा लाए जा रहे बदलाव को भी रेखांकित किया. उल्लेखनीय है कि इस किताब की प्रस्तावना अभिनेत्री तापसी पन्नू ने लिखी है.

जावेद अख्तर ने अपनी बात को आगे जारी रखते हुए कहा, "हाई प्रोफाइल (शख्सियत) होने की ये कीमत बॉलीवुड को चुकानी पड़ रही है. जब आप हाई प्रोफाइल होते हैं तो किसी को नीचे खींचने में, आप पर पत्थर फेंकने में, उस पर कीचड़ उछालने में सबको मजा आता है. अगर आप कुछ भी नहीं है तो किस को मजा आएगा आप पर पत्थर फेंकने में?"

जावेद अख्तर ने बांग्लादेश में हिंदुओं को निशाना बनाए जाने की भी निंदा की. उन्होंने कहा, "जहां कहीं भी अल्पसंख्यकों के खिलाफ अन्याय हो, जहां कहीं भी दमन हो, मैं चिंतित हो जाता हूं. फिर चाहे दुनिया में कहीं भी ऐसा क्यों न हो. ये बेहद शर्म की बात है कि ऐसा बांग्लादेश में हो रहा है. हसीना शेख की पहचान एक उदारवादी नेता के तौर पर बनी थी और उनके नाक के नीचे ऐसी वारदातें हो रहीं हैं. ऐसी घटनाएं भारत में हो या फिर कहीं बाहर, ये बेहद चिंता का विषय है."

जावेद अख्तर अपने प्रगतिशील और स्पष्ट विचारों के लिए जाने जाते है. अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के मौत के बाद जब पिछले दिनों बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन का मुद्दा गर्माया था तब भी जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने ड्रग्स को लेकर अपनी राय रखी थी. जावेद अख्तर ने कहा था कि गांजा और चरस ऐसे नशे हैं, जो किसी भी कॉलेज परिसर के बाहर आसानी से पाए जाते हैं और पुलिस इस पर ध्यान भी नहीं देती. लेकिन, कोकीन (cocaine) और एलएसडी (LSD) जैसे ड्रग्स को लेकर भ्रमित नहीं होना चाहिए.

जावेद अख्तर ने मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि 'मैंने कभी नहीं सुना कि किसी ने मारिजुआना के नशे में किसी का मर्डर कर दिया.' यह पूछे जाने पर कि अगर उनके बच्चे जोया अख्तर और फरहान अख्तर ड्रग्स लेते तो वह क्या करते, पर जावेद अख्तर बोले- 'मैं उनसे कहता कि ऐसा मत करो. यह सही नहीं है. लेकिन, अब वे बड़े हो गए हैं. मैंने 1991 में शराब लेना छोड़ दिया था और तब से अभी तक शराब को हाथ नहीं लगाया. पहले मैं रोज शराब पीता था.'

First Published : 19 Oct 2021, 10:24:29 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.