News Nation Logo
भारत में अब तक कोविड के 3.46 करोड़ मामले सामने आए हैं: लोकसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हरियाणा में अगले आदेश तक गुरुग्राम, सोनीपत, फरीदाबाद और झज्जर के स्कूलों को बंद करने का आदेश Omicron Update: 31 देशों में 400 से ज्यादा संक्रमण के मामले मलेशिया में ओमीक्रॉन के पहले मामले की पुष्टि अमेरिका में ओमीक्रॉन से संक्रमण के मामले बढ़कर 8 हुए केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: CCTV के मामले में दिल्ली दुनिया में नंबर 1 केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में महिलाएं पूरी तरह सुरक्षित केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में 1.40 कैमरे और लगाए जाएंगे थोड़ी देर में ओमीक्रॉन पर जवाब देंगे स्वास्थ्य मंत्री IMF की पहली उप प्रबंध निदेशक के रूप में ओकामोटो की जगह लेंगी गीता गोपीनाथ 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी दलों के सांसदों का गांधी प्रतिमा के पास विरोध-प्रदर्शन यमुना एक्‍सप्रेसवे पर सुबह सुबह बड़ा हादसा, मप्र पुलिस के दो जवानों समेत चार की मौत जयपुर में दक्षिण अफ्रीका से लौटे एक ही परिवार के चार लोग कोरोना संक्रमित

कंगना के 'भीख' वाले बयान पर विशाल का 'जिंदाबाद' हमला, कहा उस महिला को याद दिलाएं

विशाल ददलानी (Vishal Dadlani) ने कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के 'भीख में मिली आजादी' वाले बयान पर ऐक्ट्रेस को बुरी तरह फटकार लगाई है.

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 14 Nov 2021, 02:06:31 PM
vishal dadlani blasts on kangana for her independence was bheek comment

vishal blasts on kangana for her independence was bheek comment (Photo Credit: News Nation)

मुंबई :

ऐक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने हाल ही में भारत की आजादी को लेकर एक बयान दिया, जिस पर खूब बवाल मच रहा है. कंगना ने भारत को 1947 में मिली आजादी को 'भीख' (Kangana Ranaut Independence was bheek) बताया था, जिसके बाद से ऐक्ट्रेस के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने की मांग उठ रही है. अब इस मामले में सिंगर और म्यूजिक कंपोजर विशाल ददलानी (Vishal Dadlani) ने रिऐक्ट किया है. विशाल ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट डाला है जिसमें उन्होंने एक अलग अंदाज से कंगना को आज़ादी का मतलब समझाने की कोशिश की है. 

यह भी पढ़ें: शिल्पा शेट्टी और राज कुंद्रा पर दर्ज धोखाधड़ी का मामला,1 करोड़ 51 लाख रुपये हड़पे

विशाल ददलानी ने कंगना का नाम लिए बिना एक स्ट्रॉन्ग मेसेज के साथ इंस्टाग्राम (Vishal Dadlani) पर पोस्ट शेयर किया है, जिसकी खूब चर्चा हो रही है. विशाल ददलानी ने अपने इंस्टा अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें वह शहीद भगत सिंह (Shaheed Bhagat Singh) की तस्वीर वाली टी-शर्ट पहने नजर आ रहे हैं. उस पर लिखा है-जिंदाबाद.

 
 
 
 
 
View this post on Instagram
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by VISHAL (@vishaldadlani)

तस्वीर के साथ विशाल ददलानी ने कैप्शन में लिखा है, 'उस महिला को याद दिलाएं, जिसने कहा था कि हमारी आजादी 'भीख' थी. मेरी टी-शर्ट पर शहीद सरदार भगत सिंह हैं, जो नास्तिक, कवि दार्शनिक, स्वतंत्रता सेनानी, भारत के बेटे और किसान के बेटे हैं. उन्होंने 23 साल की उम्र में हमारी आजादी के लिए, भारत की आजादी के लिए अपनी जिंदगी कुर्बान कर दी. वह अपने होंठों पर मुस्कान और एक गीत गाते हुए फांसी पर चढ़ गए थे.' 

                                                       

विशाल ददलानी ने इस पोस्ट में आगे उन लोगों के बारे में भी लिखा है, जिन्होंने 'भीख मांगने' से इनकार कर दिया था. विशाल ने लिखा है, 'उन्हें सुखदेव, राजगुरु, अशफाकउल्लाह, और हजारों अन्य जिन्होंने झुकने से इनकार कर दिया, उन्होंने भीख मांगने से इनकार कर दिया, उनके बारे में याद दिलाएं. उन्हें विनम्रता और दृढ़ता से याद दिलाएं ताकि वह फिर कभी भूलने की हिम्मत न कर सकें.'

यह भी पढ़ें: दीपिका को लव लाइफ में कई बार मिला धोखा, फिर रणवीर का दिल लगा चोखा

दरअसल कंगना रनौत ने हाल ही एक न्यूज चैनल के प्रोग्राम में कहा था कि 1947 में आजादी नहीं, बल्कि भीख मिली थी और जो आजादी मिली है वह 2014 में मिली जब नरेंद्र मोदी की अगुआई में बीजेपी की सरकार सत्ता में आई. इस पर खूब बवाल मच रहा है. हर तरफ उनकी आलोचना हो रही है. बहुत लोगों ने इस बयान पर कंगना का पद्म श्री सम्मान वापस लिए जाने की भी मांग की है. इस पर कंगना ने सफाई दी कि अगर कोई उन्हें यह बताए कि 1947 में क्या हुआ था तो वह अपना पद्म श्री सम्मान लौटा देंगी. 

                                             

उन्होंने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर लिखा, 'इस इंटरव्यू में सारी बातें साफ तौर पर कही गई थीं कि 1857 में आजादी के लिए पहली संगठित लड़ाई लड़ी गई....साथ में सुभाष चंद्र बोस, रानी लक्ष्मीबाई और वीर सावरकर जी के बलिदान पर भी बात की गई. 1857 का मुझे पता है लेकिन 1947 में कौन सी लड़ाई लड़ी गई इसकी मुझे जानकारी नहीं है. अगर कोई मेरी इस बात पर जानकारी बढ़ाए तो मैं अपना पद्म श्री अवॉर्ड वापस कर माफी मांग लूंगी... कृपया मेरी मदद करें.'

First Published : 14 Nov 2021, 02:06:31 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.