News Nation Logo
Banner

भारत-चीन विवाद: इसबार बीजिंग इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में नहीं शामिल होंगे भारतीय कलाकार

भारत-चीन सीमा पर छिड़े विवाद का रंग अब मनोरंजन इंडस्ट्री पर भी दिखने लगा हैं. बीजिंग इंटरनेशन फिल्म फेस्टिवल 2020 के मेहमानों की सूची में किसी भी भारतीय मेहमान का नाम शामिल नहीं किया गया हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 25 Aug 2020, 11:27:31 AM
bijing film festival

Beijing International Film Festival (Photo Credit: (फोटो-Ians))

नई दिल्ली:

भारत-चीन सीमा (India-China Border Clash) पर छिड़े विवाद का रंग अब मनोरंजन इंडस्ट्री पर भी दिखने लगा हैं. बीजिंग इंटरनेशन फिल्म फेस्टिवल 2020 (Beijing International Film Festival 2020) के मेहमानों की सूची में किसी भी भारतीय मेहमान का नाम शामिल नहीं किया गया हैं.  चीनी फिल्म विशेषज्ञों के मुताबकि, ऐसा भारत-चीन सीमा विवाद के कारण हुआ हैं. बता दें कि 9वें बीजिंग इंटरनेशन फिल्म फेस्टिवल में अभिनेता शाहरुख खान और कबीर खान शामिल हुए थे.

और पढ़ें: सुसाइड के बाद भी दिशा सालियान के फोन से हुए कॉल, हुआ बड़ा खुलासा

1905 में पेइचिंग के एक फोटो स्टूडियो ने चीन में पहली बार एक फिल्म की शूटिंग की. वर्ष 2011 में पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव का जन्म हुआ. इधर के दस सालों में पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव ने वैश्विक ²ष्टि से बहुसांस्कृतिक सहिष्णुता का विकास किया. वर्ष 2013 में पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव के तहत टिएनथैन अवार्ड स्थापित किया गया जिसने 90 देशों और क्षेत्रों के 4,600 फिल्मों को आकर्षित किया और अनेक श्रेष्ठ फिल्मों को पुरस्कार मिला.

पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव ने फिल्म बाजार के विकास को उत्तेजित किया है. पहले पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव के दौरान फिल्म बाजार का अनुबंध मूल्य 2.79 अरब युआन रहा जबकि नौवें महोत्सव में यह राशि 30.9 अरब युआन तक रही.

उधर, पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव फिल्मों के शौकीनों के लिए एक त्योहार है. बीते दस सालों में पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव में दिखायी गयी फिल्मों से हजारों प्रशंसकों को प्रेरित किया गया. इधर के दस सालों में चीन के वार्षिक फिल्म बॉक्स ऑफिस की मात्रा 13.1 अरब युआन से बढ़कर 64.2 अरब युआन तक जा पहुंची है. बहुत से नयी तरह की फिल्में बाजार में आने लगी हैं. पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव ने भी चीनी फिल्म बाजार के विकास को बढ़ाने में मदद दी है.

पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म महोत्सव के आयोजन आयोग के उप महासचिव शू ताउ ने कहा कि फिल्म, पूंजी और उद्योग के बीच सहयोग में पेइचिंग फिल्म महोत्सव ने चीन और विदेशों के बीच सर्वांगीण सहयोग को भी बढ़ावा दिया है. आजकल चीन में महामारी की रोकथाम में प्रगति हासिल करने के चलते लोगों का जीवन सामान्य हो गया है. इस साल के पेइचिंग फिल्म महोत्सव में प्रशंसकों को तीन सौ चीनी व विदेशी फिल्में देखने का मौका मिलेगा. और महोत्सव में प्रमुख फिल्मों के प्रसारण के लिए विशेष परिचय दिया जाएगा.

First Published : 25 Aug 2020, 11:22:22 AM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो