News Nation Logo
Breaking
Banner

स्टारडम के लिए काम नहीं करते हैं बादशाह, कही ये बात

बादशाह, जिनका असली नाम आदित्य प्रतीक सिंह सिसोदिया है, उनके बारे में बात करते हुए उन्हें लगता है कि वे गेमचेंजर रहे हैं

IANS | Edited By : Akanksha Tiwari | Updated on: 02 Jul 2021, 02:15:07 PM
pani pani

बादशाह (Photo Credit: फोटो- IANS)

highlights

  • बादशाह का लेटेस्ट सॉन्ग यूट्यूब पर ट्रेंड हो रहा है
  • बादशाह के पानी पानी सॉन्ग में नजर आई हैं जैकलीन फर्नांडिस 

नई दिल्ली:  

देश के शीर्ष रैपर्स में शामिल होने के बावजूद बादशाह (Badshah) जोर देकर कहते हैं कि वह स्टारडम के लिए काम नहीं करते. वह कहते हैं, इसी वजह से स्टारडम खोने का डर उन्हें कभी परेशान क्यों नहीं करता. बादशाह ने मीडिया से बात करते हुए दावा किया, "मैं स्टारडम के लिए काम नहीं करता. मैं उस संगीत के लिए काम करता हूं जो मेरी रगों में है. मुझे पता है कि मैं इसे कभी नहीं खोऊंगा. यह मेरे लिए भगवान का उपहार है." उनके मुताबिक जीवन एक क्रूज की तरह है . पिछले कुछ सालों में उनके चार्टबस्टर्स में 'मर्सी', 'पागल', 'डीजे वाले बाबू', 'अभी तो पार्टी शुरू हुई है', 'कर गई चुल', 'शी मूव इट लाइक', 'वखरा स्वैग' शामिल हैं. 'गर्मी' और 'गेंदा फूल', के रूप में ये सिलसिला अभी तक जारी है. वह 2017, 2018 और 2019 में फोर्ब्स इंडिया के सेलिब्रिटी 100 में भारत में सबसे अधिक भुगतान पाने वाली हस्तियों में से एक के रूप में नजर आए. साहित्यिक चोरी के आरोपों और नकली विचारों की खरीद के विवाद, जिसने पिछले साल उन्हें परेशान किया था, उसको भी उन्होंने भुला दिया.

यह भी पढ़ें: एक्ट्रेस निक्की तंबोली को नहीं पसंद टाइम पास रिलेशनशिप, कर लेंगी शादी

 
 
 
 
 
View this post on Instagram
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by BADSHAH (@badboyshah)

36 साल की उम्र में, संगीतकार जिन्होंने 2006 में माफिया मुंडीर समूह के साथ शुरूआत की, केवल अपने प्रशंसक आधार को बढ़ते हुए देख रहे हैं. बादशाह, जिनका असली नाम आदित्य प्रतीक सिंह सिसोदिया है, उनके बारे में बात करते हुए उन्हें लगता है कि वे गेमचेंजर रहे हैं. राजनयिक रूप से उन सभी को 'टाईड-टर्नर' के रूप में टैग करते हैं.

वो कहते हैं, "मेरे सभी ट्रैक अलग-अलग तरीकों से टाईड-टर्नर रहे हैं - 'सैटरडे सैटरडे' और 'अभी तो पार्टी शुरू हुई है' से बॉलीवुड में 'डीजे वाले बाबू' तक से मेरा परिचय था . मेरा मानना है कि पॉप संगीत के मानकों को बदल दिया गया है. दुनिया भर में वायरल हुए 'पागल है '' से लेकर 'गेंदा फूल' तक जो दुनिया को भारतीय रंगों और ध्वनियों का इतना मजबूत प्रतिनिधि था, इस वजह से मुझे अपने काम पर हमेशा गर्व रहेगा."

ये भी पढ़ें- VIDEO: सारा अली खान ने किया टफ वर्कआउट, फिट रहने के लिए बहा रही हैं पसीना

हाल ही में हमारी फिल्मों और पॉप संस्कृति में भारत का स्वाद बनने के साथ, बादशाह ने हाल ही में अपनी रचनाओं में भारतीय संगीत और वाद्ययंत्रों को शामिल करना शुरू कर दिया है, जो 'गेंदा फूल' और उनकी नवीनतम रिलीज 'पानी पानी' में स्पष्ट है.

उनके द्वारा रचित संगीत की शैली को बनाने में क्या जाता है? वो कहते हैं, "बहुत सी चीजें. निश्चित रूप से, जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, मेरे पास अनसुनी ध्वनियों और नमूनों को वापस लाने पर काम करने का एक निरंतर विचार है. यह कभी-कभी सही हुक को तोड़ रहा है जिसे हर एक श्रोता अपना बना सकता है, चाहे वह किसी भी क्षेत्र या उम्र का हो. फिर वह ताल जो लोगों को थिरकती है, नाचती है और जब वे मेरे संगीत में धुन लगाते हैं तो उनकी परेशानी कम हो जाती है, 'उन्होंने जवाब दिया, उनका मकसद लोगों को मुस्कुराना' है." क्या उन्हें ऐसा लगता है कि वह हिंदी फिल्म उद्योग में संगीत के 'बादशाह' हैं? उन्होंने निष्कर्ष निकाला, "यह दर्शकों के लिए एक विचार प्रक्रिया है. मैं अपना सर्वश्रेष्ठ देना जारी रखूंगा और भारतीय दर्शकों के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑडियो-विजुअल अनुभव पेश करूंगा."

First Published : 02 Jul 2021, 02:15:07 PM

For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Badshah