logo-image
लोकसभा चुनाव

Lok Sabha Election 2024: पहले चरण के लिए मतदान की तैयारियां पूरी, कल 16.63 करोड़ वोटरों का मत EVM में होगा कैद 

Lok Sabha Election 2024: आम चुनाव को लेकर पहले चरण का मतदान होने वाला है, 1625 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला

Updated on: 19 Apr 2024, 06:12 AM

नई दिल्ली:

Lok Sabha Election 2024: पहले चरण की वोटिंग को लेकर अब कुछ घंटों का समय शेष रह गया है. इस पहले चुनाव आयोग ने मतदाताओं से अपील की है कि वह मतदान में बढ़ चढ़कर हिस्सा लें. मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने भारतीय मतदाताओं से आगामी चुनाव 2024 में भाग लेने का आग्रह किया है. राजीव कुमार ने लोकतंत्र में मतदान का महत्व देते हुए जोर दिया कि चुनाव भारत के लोकतंत्र की सबसे खूबसूरत अभिव्यक्ति है. उन्होंने कहा कि मतदान को सफल बनाने के लिए भारत निर्वाचन आयोग (ECI) ने कड़ी मेहनत की है. 

ये भी पढ़ें: जेल में क्यों बढ़ रही CM अरविंद केजरीवाल की शुगर? ईडी ने कोर्ट में दी ये दलील

पहले चरण में कितनी संसदीय सीटों पर वोटिंग 

आम चुनाव 2024 के पहले चरण का मतदान 19 अप्रैल यानी आज होगा. सीटों की बात की जाए तो 21 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों की 102 संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान होगा. इसमें सामान्य-73; एसटी-11; एससी-18  और 92 विधानसभा क्षेत्रों के लिए वोटिंग होगी. इस दौरान अरुणाचल और सिक्किम के विधानसभा चुनाव भी होने हैं. यह मतदान सुबह 7 बजे आरंभ होगा. शाम को छह बजे से वोटिंग खत्म हो जाएगी. पहले चरण के मतदान में 18 लाख से से ज्यादा मतदान अधिकारी शामिल होंगे. 16.63 करोड़ से ज्यादा मतदाताओं इंतजार होगा. वोटिंग के लिए 1.87 लाख मतदान केंद्र तैयार किए गए हैं. इस पर बार 8.4 करोड़ पुरुष मतदाता शामिल होंगे. वहीं 8.23 करोड़ महिला वोटर हैं. इसके अलावा 11,371 थर्ड जेंडर के मतदाता भी होंगे. वहीं इस चुनाव में 35.67 लाख पहली बार मतदान करने वाले हैं. वहीं 3.51 करोड़ मतदाता 20 से 29 वर्ष के होंगे. 

चुनाव मैदान में 1625 उम्मीदवार

इस बार चुनावी मैदान में 1625 उम्मीदवार होंगे. इसमें पुरुष 1491 हैं. वहीं महिला उम्मीदवार 134 होंगे. सुरक्षाकर्मियों को ड्यूटी पर तैनात कर्मियों के आने जाने के लिए 41 हेलीकॉप्टर, 84 विशेष ट्रेनें और लगभग 1  लाख वाहन को तैनात किया गया है. चुनाव आयोग ने शांतिपूर्ण और सुचारु रूप से चुनाव कराने के लिए कई खास कदम उठाए हैं. सुरक्षा व्यवस्था को लेकर मतदान केंद्रों पर पर्याप्त केंद्रीय बलों की तैनाती की गई है. 50 फीसदी से ज्यादा मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग होगी. सभी मतदान केंद्रों पर माइक्रो पर्यवेक्षकों की गिनती के साथ 361 पर्यवेक्षक तैनात होंगे.