logo-image
लोकसभा चुनाव

BJP On Congress Manifesto: कांग्रेस के घोषणा पत्र पर बीजेपी का पलटवार, बताया झूठ का पुलिंदा

BJP On Congress Manifesto: कांग्रेस के घोषणा पर सियासी पारा हाई, बीजेपी ने कहा- जनता को भ्रमित करने की कोशिश

Updated on: 05 Apr 2024, 03:50 PM

New Delhi:

BJP On Congress Manifesto: लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान से पहले ही राजनीतिक दलों ने जनता से वादों की झड़ी लगाना शुरू कर दी है. इसी कड़ी में कांग्रेस ने भी अपना घोषणा पत्र जारी किया है. शुक्रवार 5 अप्रैल को जारी हुए इस घोषणा पत्र में कांग्रेस ने 5 न्याय के साथ-साथ 25 गारंटी देने की बात कही है. हालांकि उनके इस घोषणा पत्र पर सियासी बयानबाजियां भी शुरू हो गई हैं. बीजेपी ने इस घोषणा पत्र को झूठ का पुलिंदा करार दिया है. बीजेपी नेता और प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस सिर्फ जनता के साथ छल करने का काम कर रही है. 

लोगों को भ्रमित कर रही कांग्रेस
बीजेपी प्रवक्ता सुधांशु की मानें तो कांग्रेस अपने शासनकाल में लगातार जनता को धोखा देने का काम करती आई है. इस बार भी घोषणा पत्र के जरिए सिर्फ जनता को भ्रमित करने का काम किया गया है. उन्होंने कहा कि न्याय की बात करने वाली कांग्रेस ने अपने शासनकाल में जनता के साथ सिर्फ अन्याय ही किया है. 

यह भी पढे़ं - Lok Sabha Election 2024: राजस्थान के चूरू में पीएम मोदी बोले, जब नीयत सही हो तो नतीजे भी

अब कांग्रेस के झूठ में नहीं फंसेंगे लोग
बीजेपी नेता ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उनके शासनकाल में देश की साक्षरता दर काफी कम थी. यही वजह है कि लोग कांग्रेस के झूठे वादों में फंस जाते थे, लेकिन मोदी सरकार के आने के बाद देश की साक्षरता दर में भी बढ़ोतरी हुई है, ऐसे में अब लोग कांग्रेस के भ्रम में फंसने वाले नहीं हैं. 

ये हैं कांग्रेस के बड़े वादे
कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कई बड़े वादे किए हैं. इसके तहत एससी, एसटी और ओबीसी के लिए आरक्षण की सीमा 50 प्रतिशत बढ़ाया जाना, आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (EWS) के लिए नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में 10 फीसदी रिजर्वेशन सभी जातियों और समुदायों के लिए लागू करना, एक साल में SC, ST और OBC के लिए आरक्षित पदों की सभी बैकलॉग रिक्तियों पर भर्ती.

गरीब परिवार की महिलाओं के सालाना 1 लाख रुपए
घर-निर्माण, व्यवसाय शुरू करने और संपत्ति खरीदने के लिए SC और ST को संस्थागत लोन बढ़ाया जाएगा. गरीब परिवार की महिला को 100000 रुपये सालाना महालक्ष्मी योजना के नाम से देने का वादा.  

पार्टी के पांच न्याय पर भी फोकस
1.‘हिस्सेदारी न्याय’, 
2.‘किसान न्याय’, 
3.‘नारी न्याय’, 
4.‘श्रमिक न्याय’ 
5.‘युवा न्याय’