News Nation Logo
Banner

मणिपुर चुनाव : दूसरे और आखिरी चरण में 22 सीटों पर मतदान जारी

News Nation Bureau | Edited By : Keshav Kumar | Updated on: 05 Mar 2022, 10:04:08 AM
manipur voting

मणिपुर के जिलों की 22 विधानसभा सीटों के लिए मतदान (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • दूसरे और आखिरी चरण में छह जिलों की 22 विधानसभा सीटों के लिए मतदान
  • पहले चरण में 28 फरवरी को 60 सीटों में से 38 सीटों पर वोट डाले गए थे
  • शांतिपूर्ण मतदान के लिए केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की 300 से अधिक कंपनियां तैनात

New Delhi:  

देश के पूर्वोत्तर इलाके के पर्वतीय राज्य मणिपुर विधानसभा चुनाव 2022 के लिए दूसरे और आखिरी चरण में छह जिलों की 22 विधानसभा सीटों के लिए सुबह 7 बजे वोटिंग शुरू हो गई है. मतदान शाम चार बजे तक चलेगा. इस चरण में दो महिलाओं समेत कुल 92 उम्मीदवार मैदान में हैं. राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजेश अग्रवाल के मुताबिक इस चरण में वोटिंग के लिए 1247 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. यहां कोविड प्रोटोकॉल के मुताबिक तमाम जरूरी इंतजाम किए गए हैं.

4,28,968 महिलाओं सहित 8,47,400 मतदाता 1,247 मतदान केंद्रों पर दो महिलाओं सहित 92 उम्मीदवारों के चुनावी भाग्य का फैसला करेंगे. इससे पहले 28 फरवरी यानी सोमवार को राज्य की कुल 60 सीटों में से 38 सीटों पर वोट डाले गए थे. पहले चरण में 12,09,439 मतदाताओं में से 88.63 प्रतिशत ने अपने मताधिकार का उपयोग किया था. उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और गोवा के विधानसभा के साथ मणिपुर में भी 10 मार्च को मतगणना होगी और नतीजे घोषित किए जाएंगे.

अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर सतर्कता

पांच मार्च यानी शनिवार को शांतिपूर्ण मतदान के लिए थौबल, जिरीबाम, चंदेल, उखरूल, सेनापति और तामेंगलोंग जिलों में केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की 300 से अधिक कंपनियों को तैनात किया गया है. थौबल घाटी क्षेत्र में आता है, जबकि अन्य पांच जिले असम और नागालैंड की सीमा के साथ-साथ म्यांमार के पहाड़ी इलाकों में हैं. इससे सुरक्षा बलों को अंतरराष्ट्रीय और अंतर-राज्यीय सीमाओं पर काफी सतर्कता बरती जा रही है.

इन नेताओं की किस्मत का फैसला

दूसरे चरण का मतदान मणिपुर के तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके ओकराम इबोबी सिंह (2002-2017) और पूर्व उप मुख्यमंत्री गैखंगम गंगमेई भी दूसरे चरण के चुनाव में मैदान में हैं. दोनों कांग्रेस उम्मीदवार हैं. इनके साथ ही आज का मतदान बीजेपी के कई मंत्रियों और मौजूदा विधायकों के चुनावी भाग्य को तय करेगा. 74 साल के बुजुर्ग नेता सिंह थौबल जिले की थौबल विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. बीजेपी के लीतानथेम बसंता सिंह, जनता दल-युनाइटेड के इरोम चाओबा सिंह और शिवसेना के कोन्सम माइकल सिंह के खिलाफ चौतरफा मुकाबले में हैं.

चार सीटों पर कांग्रेस नदारद

मुख्य विपक्षी कांग्रेस ने 22 विधानसभा सीटों में से चार- चंदेल, माओ, ताडुबी, तामेंगलोंग और राजनीतिक हलकों में उम्मीदवार नहीं उतारे हैं और राजनीतिक हलकों ने देखा कि वह मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के. संगमा के नेतृत्व वाली नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) के उम्मीदवारों का समर्थन कर रही है. एनपीपी, जो 2017 से मेघालय और मणिपुर दोनों में बीजेपी के सहयोगी रही है, लेकिन इस बार मणिपुर में अलग से चुनाव लड़ रही है. 

ये भी पढ़ें - मणिपुर में मतदान से एक दिन पहले JDU उम्मीदवार पर बरसाई गई गोलियां

सियासी गठबंधन का गणित

बीजेपी ने 2017 में 21 सीटें हासिल की थीं और एनपीपी और नगा पीपुल्स फंट्र (एनपीएफ) सहित विभिन्न दलों के साथ गठबंधन सरकार बनाने के बाद पहली बार राज्य में सत्ता में आई थी. इस बार तीनों अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं और एक-दूसरे के खिलाफ उम्मीदवार खड़े कर रहे हैं. कांग्रेस, जिसने 2017 तक लगातार 15 सालों तक राज्य पर शासन किया, उसने चार वाम दलों और जनता दल-सेक्युलर के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन करने के बाद मणिपुर प्रगतिशील धर्मनिरपेक्ष गठबंधन का गठन किया है.

First Published : 05 Mar 2022, 09:34:46 AM

For all the Latest Elections News, Assembly Elections News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.