News Nation Logo
Banner

History: आज ही के दिन सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक का जन्म हुआ था, पढ़ें 15 अप्रैल का इतिहास

जानेंगे आज 15 अप्रैल को देश-दुनिया में क्या हुआ था, कौन सी बड़ी घटनाएं घटी थीं जिसने इतिहास (History) के पन्नों पर अपना प्रभाव छोड़ा. जानेंगे, आज के दिन जन्में खास व्यक्तियों के बारे में और बात करेंगे उनकी जो दुनिया से इस दिन विदा होकर चले गए.  

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 16 Apr 2021, 06:40:46 AM
history 81 5

Today History (Photo Credit: (सांकेतिक चित्र))

नई दिल्ली:

15 April 2021 Today History- इतिहास से अच्छा शिक्षक कोई दूसरा हो नहीं सकता. इतिहास सिर्फ अपने में घटनाओं को नहीं समेटे होता है बल्कि इन घटनाओं से भी आप बहुत कुछ सीख सकते हैं. इसी कड़ी में जानेंगे आज 15 अप्रैल को देश-दुनिया में क्या हुआ था, कौन सी बड़ी घटनाएं घटी थीं जिसने इतिहास (History) के पन्नों पर अपना प्रभाव छोड़ा. जानेंगे, आज के दिन जन्में खास व्यक्तियों के बारे में और बात करेंगे उनकी जो दुनिया से इस दिन विदा होकर चले गए. आज का दिन सिख धर्म के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में लिखा गया है. यही वह दिन है जब सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक का जन्म हुआ था. 15 अप्रैल 1469 को तलवंडी राय भोइ की(अब पाकिस्तान में), जिसे अब ननकाना साहिब कहा जाता है, में बाबा मेहता कालू और माता तृप्ता के यहां जन्मे बालक को नानक का नाम दिया गया. उन्होंने धार्मिक सौहार्द्र को सर्वोपरि बताया और सिख धर्म की नींव रखी. वह कई भाषाओं के ज्ञाता थे और उन्होंने दुनिया के विविध स्थानों की यात्राएं कीं. 

और पढ़ें: CBSE समेत देश के इन 7 राज्यों में भी बोर्ड परीक्षाएं रद्द

आज की महत्वपूर्ण घटनाएं-

1469- सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक का जन्म.

1689- फ्रांस ने स्पेन के खिलाफ युद्ध की घोषणा की.

1976- भारत ने 15 साल में पहली बार बीजिंग में अपना दूत भेजने की घोषणा की.

1980- छह गैर-सरकारी बैंक राष्ट्रीयकृत किए गए. इससे पहले भी कुछ बैंक इसी तरह राष्ट्रीयकृत हुए थे.

1981- पाकिस्तान एयरवेज के अगवा बोइंग 720 विमान को दो सप्ताह की कोशिशों के बाद सीरिया में छुड़ा लिया गया. इस जहाज और इसमें सवार 147 लोगों को छुड़ाने के लिए पाकिस्तान सरकार को जेल में बंद 54 लोगों को छोड़ना पड़ा.

1990- मिखाइल गोर्बाचेव सोवियत संघ के पहले और अंतिम राष्ट्रपति बने. वह इस पद पर आसीन पहले और अंतिम आदमी थे. दरअसल सोवियत संघ में राष्ट्रपति का पद 15 मार्च 1990 को ही सृजित किया गया था.

2004- फ्रांस के राष्ट्रपति जॉक शिराक ने उस कानून पर हस्ताक्षर किए, जिसके जरिए सरकारी स्कूलों में किसी भी तरह के धार्मिक चिह्न पहनने पर पाबंदी लगा दी गई.

2010- भारत में निर्मित पहले क्रायोजेनिक रॉकेट जीएसएलवी-डी3 का प्रक्षेपण नाकाम.

First Published : 15 Apr 2021, 06:34:59 AM

For all the Latest Education News, School News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live IPL 2021 Scores & Results

वीडियो

×