News Nation Logo
Banner

UP Board Evaluation Criteria: CBSE से अलग होगा यूपी बोर्ड का मार्किंग फॉर्मूला, आज हो सकती है घोषणा

UP Board Evaluation Criteria:  यूपी बोर्ड (UP Board) की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा रद् होने के बाद अब रिजल्ट की तैयारी शुरू गई है. सीबीएसई ने गुरुवार को 12वीं के लिए मार्किंग फॉर्मूला पेश किया था.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 18 Jun 2021, 11:29:24 AM
Dinesh Sharma

UP Board Evaluation Criteria: CBSE से अलग होगा यूपी बोर्ड का मार्किंग (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • यूपी बोर्ड के 30 लाख से अधिक छात्रों का होना है फैसला
  • सीबीएसई ने गुरुवार को दिया था मार्किंग का फॉर्मूला
  • कोरोना के कारण रद्द हुईं थी बोर्ड परीक्षाएं

लखनऊ:  

UP Board Evaluation Criteria:  यूपी बोर्ड (UP Board) की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा रद् होने के बाद अब रिजल्ट की तैयारी शुरू गई है. सीबीएसई ने गुरुवार को 12वीं के लिए मार्किंग फॉर्मूला पेश किया था. अब यूपी बोर्ड ने भी रिजल्ट के लिए मार्किंग की तैयारी शुरू कर दी है. यूपी के शिक्षामंत्री दिनेश शर्मा ये स्‍पष्‍ट कर चुके हैं कि यूपी बोर्ड का मार्किंग फॉर्मूला CBSE से अलग होगा क्‍योंकि दोनों बोर्ड का एजुकेशन पैटर्न अलग है. लगभग 30 छात्र यूपी बोर्ड कक्षा 10वीं और 12वीं में रजिस्‍टर्ड हैं जिनका रिजल्‍ट बगैर परीक्षा के तैयार किया जाना है.

CBSE बोर्ड ने बनाया ये फॉर्मूला
इस फॉर्मूले के अनुसार 12वीं के रिजल्ट में छात्रों को 30 फीसदी वेटेज 10वीं के रिजल्ट को, 30 फीसदी वेटेज 11वीं फाइनल के रिजल्ट को और 40 फीसदी वेटेज 12वीं प्री-बोर्ड के रिजल्ट को दिया जाएगा. 12वीं की मार्केशीट तैयार करने की डिटेल देते हुए सीबीआई ने कहा कि 10वीं के 5 विषय में से 3 विषय के सबसे अच्छे मार्क को लिया जाएगा, इसी तरह 11वीं के पांचों विषय का एवरेज लिया जाएगा और 12वीं के प्री-बोर्ड एग्जाम और प्रेक्टिकल का नंबर लिया जाएगा. 10वीं के नंबर का 30 परसेंट, 11वीं के नंबर का 30 परसेंट और 12वीं के नंबर के 40 परसेंट के आधार पर नतीजे आएंगे. सीबीएसई ने कहा कि जो बच्चे परीक्षा देना चाहते हैं, उनके लिए बाद में अलग व्यवस्था की जाएगी. हालांकि, यूपी के शिक्षामंत्री दिनेश शर्मा ये स्‍पष्‍ट कर चुके हैं कि UP Board का मार्किंग फॉर्मूला CBSE से अलग होगा क्‍योंकि दोनो बोर्ड का एजुकेशन पैटर्न अलग है.

यह भी पढ़ेंः 10वीं-11वीं के नंबरों से तय होगा CBSE 12वीं का रिजल्ट, बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में बताया फॉर्मूला

यूपी बोर्ड को मिले 10 हजार से अधिक सुझाव

बोर्ड ने अपर मुख्‍य सचिव आराधना शुक्‍ला की अध्‍यक्षता में एक समिति का गठन किया गया है जो रिजल्‍ट का फॉर्मूला तैयार करेगी. बोर्ड ने शिक्षकों और अभिभावकों से भी इसके लिए सुझाव मांगे थे जिसके बाद 10 हजार से अधिक सुझाव बोर्ड को प्राप्‍त हुए हैं. इन सभी पर विचार के बाद कोई अंतिम निर्णय लिया जाएगा.  

CBSE का अंक देना का फार्मूला

कक्षा 10

- वेटेज 30% होगा. 5 विषयों में से तीन विषयों के थ्योरी पेपर के परफॉर्मेंस के आधार पर मार्क्स मिलेंगे. ये तीन विषय वे होंगे जिनमें स्टूडेंट की परफॉर्मेंस सबसे अच्छी रही होगी. 

क्लास 11  

- इसका वेटेज 30% होगा. फाइनल एग्जाम में सभी विषयों के थ्योरी पेपर की परफॉर्मेंस के आधार पर मार्क्स मिलेंगे.  

क्लास 12

- इसका वेटेज 40% होगा. यूनिट टेस्ट, मिड टर्म और प्री-बोर्ड एग्जाम की परफॉर्मेंस के आधार पर मार्क्स मिलेंगे.

First Published : 18 Jun 2021, 10:27:00 AM

For all the Latest Education News, Board Exams News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.