News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

CBSE का स्कूलों को पत्र- 12वीं के रिजल्ट की कैलकुलेशन के लिए बना रहा IT सिस्टम

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड  ( CBSE ) ने सभी संबद्ध स्कूलों को पत्र लिखकर सूचित किया है कि वह '12वीं कक्षा के परिणामों की कैलकुलेशन के लिए एक आईटी प्रणाली' विकसित कर रहा है

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 19 Jun 2021, 12:00:41 AM
CBSE

CBSE (Photo Credit: news nation)

highlights

  • 12वीं कक्षा के परिणामों की कैलकुलेशन के लिए IT प्रणाली' विकसित कर रहा CBSE
  • केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ( CBSE ) ने सभी संबद्ध स्कूलों को पत्र लिख किया सूचित 
  • परिणाम तैयार करने में स्कूलों की सहायता के लिए एक हेल्प डेस्क स्थापित करेगा

नई दिल्ली:

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड  ( CBSE ) ने सभी संबद्ध स्कूलों को पत्र लिखकर सूचित किया है कि वह '12वीं कक्षा के परिणामों की कैलकुलेशन के लिए एक आईटी प्रणाली' विकसित कर रहा है. सीबीएसई ने आगे कहा कि वह अगले सप्ताह से कक्षा 10 और कक्षा 12 के परिणाम तैयार करने में स्कूलों की सहायता के लिए एक हेल्प डेस्क स्थापित करेगा. आपको बता दें ​कि सीबीएसई के 10 वीं बोर्ड का रिजल्ट 20 जुलाई और बारहवीं कक्षा के छात्रों का परिणाम 31 जुलाई तक घोषित कर दिया जाएगा. सीबीएसई ने गुरुवार को यह आधिकारिक जानकारी साझा की. इसके साथ ही सीबीएसई ने 12वीं कक्षा के छात्रों का रिजल्ट तैयार करने का फार्मूला भी बताया है. बारहवीं कक्षा का रिजल्ट 10 वीं, 11 वीं कक्षा के रिजल्ट और बारहवीं कक्षा के प्रैक्टिकल एवं आंतरिक कक्षा के प्रैक्टिकल एवं आंतरिक एवं आंतरिक परीक्षाओं के आधार पर तैयार किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: संसदीय समिति के सामने पेश हुए Twitter के अधिकारी, जानिए क्या बोले?

प्रैक्टिकल में दिए गए अंक जैसे हैं, वैसे ही लिए जाएंगे

वहीं, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों का परिणाम तैयार करने के लिए सीबीएसई की नीति एवं प्रक्रिया को संस्तुति प्रदान करने हेतु सर्वोच्च न्यायालय का आभार व्यक्त किया. निशंक ने कहा कि सीबीएसई द्वारा सभी हितधारकों से व्यापक परामर्श के बाद यह नीति अपनाई गई है, जो विद्यार्थियों के हित में है. अंतिम परिणाम की गणना करते समय, कक्षा 10 के 3 सबसे अच्छे थ्योरी विषयों के अंकों का औसत, कक्षा 11 की थ्योरी के 30 फीसदी का वेटेज व कक्षा 12वीं की थ्योरी का 40 फीसदी वेटेज लिया जाएगा. प्रैक्टिकल में दिए गए अंक जैसे हैं, वैसे ही लिए जाएंगे.

यह भी पढ़ें: किसान नेताओं को केंद्र का दो टूक- वापस नहीं होंगे कृषि कानून, कोई अन्य विकल्प बताएं

परीक्षा में बैठने का अवसर दिया जाएगा

शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि जो विद्यार्थी इस प्रक्रिया के तहत अपने परिणाम से संतुष्ट नहीं हैं, उन्हें स्थितियां अनुकूल होने पर सीबीएसई द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा में बैठने का अवसर दिया जाएगा. हमारी सरकार प्रत्येक स्थिति में शिक्षा से जुड़े सभी हित धारकों के हितों एवं उज्‍जवल भविष्य के लिए प्रतिबद्ध है.

First Published : 18 Jun 2021, 09:13:01 PM

For all the Latest Education News, Board Exams News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.