News Nation Logo
Banner
Banner

Jammu-Kashmir: श्रीनगर में एक घंटे में तीसरा आतंकी हमला

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में अशांति फैलाने का प्रयास कर रहा है, लेकिन भारतीय जवान पाक के इस नापाक हरकत को फेल कर दे रहे हैं. जम्मू-कश्मीर में एक घंटे में तीसरा आतंकी हमला हो गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 05 Oct 2021, 09:53:50 PM
srinagar 78

kills Kashmiri Pandit (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • सरे बाजार की आतंकियों ने गोलीबारी 
  • घटना से इलाके में तनाव का माहौल
  •  कश्मीरों पंडितों को लगातार किया जाने लगा फिर से तारगेट 

 

 

न्यू दिल्ली :

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में अशांति फैलाने का प्रयास कर रहा है, लेकिन भारतीय जवान पाक के इस नापाक हरकत को फेल कर दे रहे हैं. जम्मू-कश्मीर में एक घंटे में तीसरा आतंकी हमला हो गया है. आतंकवादियों ने श्रीनगर में इकबाल पार्क के पास बिंदरू मेडिकेट के मालिक माखन लाल बिंदरू पर गोलियां चलाईं. उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया. श्रीनगर शहर के बाहरी इलाके हवाल में आतंकियों ने दूसरा हमला किया, जबकि बांदीपोरा जिले के शाहगुंड हाजिन में एक व्यक्ति को गोली मारकर हत्या कर दी है. जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में आतंकी हमले से तनावपूर्ण माहौल हो गया है.

ताजा जानकारी के मुताबिक आतंकियों ने कश्मीरी पंडित को गोलियों से भून डाला है..जिसके चलते भारतीय सेना भी अलर्ट मोड़ पर आ गई हैया. इलाके की घेराबंदी कर दी गई है और आतंकवादियों को पकड़ने के लिए तलाशी जारी है: जम्मू-कश्मीर पुलिस  ने आर्मी को भी मामले की सूचना दे दी है, घटना से इलाके में तनाव है. सेना के जवानों ने भी घटना स्थल पर पहुंचकर घेराबंदी करने की बात कही है.. हालाकि अभी आतंकी को मारने या पकड़ने में स्थानीय पुलिस नाकाम है..

यह भी पढें :प्रियंका की गिरफ्तारी पर सिद्धू की CM योगी को चेतावनी, रिहा करो वरना...

कश्मीरी पंडितों की घाटी में वापसी के प्रयासों और उनकी संपत्तियों से कब्जे हटाने की कवायद के बीच पाकिस्तान ने फिर 1990 जैसे हालात पैदा करने की साजिश रची है.. कश्मीरी पंडितों को निशाना बनाकर उन पर होने वाले हमले इसकी पुष्टि करते हैं. नब्बे के दशक में भी इसी तरह हालात पैदा किए गए थे, जिसके बाद कश्मीरी पंडितों को घाटी छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा था.. सूत्रों का कहना है कि पाकिस्तान और उसकी खुफिया एजेंसी आईएसआई को यह रास नहीं आ रहा है कि सरकार ने कश्मीरी पंडितों की संपत्तियों से कब्जे हटाने का अभियान शुरू किया है.. इसी के चलते पाकिस्तान ने  आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और टीआरएफ (द रजिस्टेंस फ्रंट) को इस समाज को निशाना बनाने की जिम्मेदारी सौंपी है..

सरे बाजार हुई गोलीबारी से इलाके में तनाव बना है.. पूरी साजिश लोगों में खौफ का वातावरण बनाने की है.. इसी साजिश के तहत पिछले कुछ दिनों से कश्मीरी पंडितों पर आतंकियों ने हमले तेज किए हैं

First Published : 05 Oct 2021, 08:06:36 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो