News Nation Logo
Banner

योगी राज में बदमाशों पर लगी लगाम, गूंगों ने भी खोली जुबान! पढ़ें पूरी खबर

उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां एक गूंगे अपराधी ने अपने मालिक की हत्या कर दी थी लेकिन जब पुलिस के हत्थे चढ़ा तो न सिर्फ बोलने लगा बल्कि अपना सही पता और ठिकाना भी बता दिया.   

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 25 Jul 2021, 03:47:08 PM
Yogi Adityanath

योगी आदित्यनाथ (Photo Credit: फाइल )

highlights

  • उत्तर प्रदेश में गूंगे अपराधी भी बोलने लगते हैं!
  • अपराधियों के सिर चढ़कर बोलता है UP पुलिस का खौफ
  • योगी राज में यूपी में अपराधों पर लगी लगाम

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़े-बड़े माफियाओं की बोलती बंद कर दी है. राज्य में क्रिमिनल्स योगी के नाम पर थर-थर कांप रहे हैं और एनकाउंटर के डर से खुद ही तख्तियां लेकर पुलिस से अपील कर रहे हैं कि मेरा फला नाम है और मुझे फला अपराध के तहत जेल में डाल दीजिए. इतना ही नहीं योगी सरकार की पुलिस ने यूपी में क्राइम पर ऐसी लगाम कसी है कि अब गूंगे अपराधी भी उनका नाम सुनकर बोलने लगे हैं. सुनकर किसी को भी हैरत होगी आप भी चौंक गए होंगे. ये कोई एकदम सही घटना है. उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां एक गूंगे अपराधी ने अपने मालिक की हत्या कर दी थी लेकिन जब पुलिस के हत्थे चढ़ा तो न सिर्फ बोलने लगा बल्कि अपना सही पता और ठिकाना भी बता दिया.   

उत्तर प्रदेश से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, जहां एक गूंगे नौकर ने अपने मालिक की पीट- पीटकर हत्या कर दी और उसे बचाने आए एक बुजुर्ग रिश्तेदार को गंभीर रूप से घायल कर दिया. घटना शनिवार को कन्नौज जिले के गुरसहायगंज थाना क्षेत्र के भुड़ा गांव की है. 24 साल के कथित आरोपी को स्थानीय निवासियों ने पीटा और जब उसने चिल्लाना और बात करना शुरू किया तो उसने सभी को आश्चर्यचकित कर दिया. आरोपी ने खुद की पहचान कानपुर देहात जिले के रसूलाबाद क्षेत्र के मूल निवासी धर्मेंद्र कुमार के रूप में की है.

पुलिस ने बताया कि आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है. खबरों के मुताबिक धर्मेंद्र पिछले तीन साल से कन्नौज के गुरसहायगंज थाना क्षेत्र के भूड़ा गांव के 43 वर्षीय संतोष कुमार के घर में रह रहा था. वह कभी किसी से बात नहीं करता था और मूक-बधिर होने का नाटक करता था. उन्होंने हमेशा इशारों की मदद से बात की.

यह भी पढ़ेंःदिल्ली की लड़की फंसाकर MP ले गया शख्स, यौन उत्पीडऩ के बाद 50 हजार में बेचा

शनिवार को अचानक उसने संतोष को लकड़ी के धुले पैडल से मारना शुरू कर दिया. जब संतोष के रिश्तेदार प्रताप सिंह ने मदद के लिए उसकी चीख सुनी और संतोष को बचाने की कोशिश की, तो धर्मेंद्र ने उस पर भी हमला कर दिया. उनकी चीख-पुकार सुनकर घर के अन्य लोग, पड़ोसी और ग्रामीण मौके पर पहुंचे और दोनों घायलों को पास के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टरों ने संतोष को इलाज के लिए आगरा रेफर कर दिया लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया. प्रताप को कानपुर के अस्पताल में रेफर कर दिया गया.

यह भी पढ़ेंःशिल्पा ने कुंद्रा के बहनोई पर उठाई अंगुली, कहा-मैं हॉटशॉट्स के दावों में नहीं

सराय प्रयाग चौकी प्रभारी पंकज यादव ने कहा, आरोपी धर्मेंद्र कुमार को हिरासत में ले लिया गया है और जांच की जा रही है. हालांकि, हत्या के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है क्योंकि उसने अभी तक हमें कारण का खुलासा नहीं किया है. एसपी कन्नौज प्रशांत वर्मा ने कहा, संतोष की पत्नी गोमती देवी की शिकायत पर नौकर धर्मेंद्र के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. फिलहाल जांचकर्ता आरोपी से पूछताछ कर रहे हैं, ताकि अपराध के पीछे के संभावित मकसद का पता लगाया जा सके.

First Published : 25 Jul 2021, 03:32:49 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो