News Nation Logo

BREAKING

Banner

भारतीय टेलीकॉम मार्केट में जल्द होगी 5G टेक्नोलॉजी की एंट्री, रविशंकर प्रसाद का बड़ा बयान

केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान जिला न्यायालयों, उच्च न्यायालयों और उच्चतम न्यायालय द्वारा 50 लाख मामलों की सुनवाई डिजिटल माध्यम से हुई है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 28 Jan 2021, 04:06:22 PM
Ravi Shankar Prasad

रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली :

केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने कहा है कि भारत के टेलीकॉम मार्केट में 5G टेक्नोलॉजी की जल्द एंट्री होगी. उनका कहना है कि हमारा देश 5G टेक्नोलॉजी में काफी आगे चल रहा है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान जिला न्यायालयों, उच्च न्यायालयों और उच्चतम न्यायालय द्वारा 50 लाख मामलों की सुनवाई डिजिटल माध्यम से हुई है. 

शीर्ष कंपनियों ने  मोबाइल फोन और कलपुर्जों का उत्पादन करने के लिए किया आवेदन: रवि शंकर प्रसाद 
उनका कहना है कि महामारी के दौरान हम प्रोडक्शन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना (पीएलआई) लेकर आए. वहीं शीर्ष कंपनियों ने आने वाले 5 वर्षों में 10 लाख करोड़ रुपये के मोबाइल फोन और कलपुर्जों का उत्पादन करने के लिए आवेदन किया है. इसके अलावा इस चुनौतीपूर्ण समय के दौरान 8-9 कारखानों को चीन से भारत में स्थानांतरित किया गया था. 

यह भी पढ़ें: आज फिर गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर मार्केट, सेंसेक्स 536 प्वाइंट लुढ़का

एयरटेल ने 5जी रेडी नेटवर्क की घोषणा की
वहीं दूसरी ओर भारत के प्रमुख संचार समाधान प्रदाता, भारती एयरटेल (Bharti Airtel) ने एक प्रमुख उपलब्धि की घोषणा करते हुए बताया कि यह हैदराबाद शहर में एक वाणिज्यिक नेटवर्क पर लाइव 5जी सेवा (5G Services) का सफलतापूर्वक प्रदर्शन और आयोजन करने वाली देश की पहली टेलीकॉम कंपनी बन गई है. एयरटेल ने अपने मौजूदा लिबरालाइज्ड स्पेक्ट्रम को 1800 मेगाहट्र्ज बैंड में एनएसए (नॉन स्टैंडअलोन) नेटवर्क तकनीक के माध्यम से किया. अपनी तरह के पहले डायनैमिक स्पेक्ट्रम शेयरिंग का उपयोग करते हुए, एयरटेल ने उसी स्पेक्ट्रम ब्लॉक में 5जी और 4जी को समवर्ती रूप से संचालित किया. इस प्रदर्शन ने सभी डोमेन - रेडियो, कोर और ट्रांसपोर्ट में एयरटेल के नेटवर्क की 5जी तत्परता को सशक्त रूप से मान्य किया है.

यह भी पढ़ें: IPO में निवेश होगा आसान, लॉट की न्यूनतम रकम घटा सकता है SEBI

मौजूदा टेक्नोलॉजी की तुलना में एयरटेल 5जी स्पीड, दस गुना लेटेंसी और 100गुना कंसीकरंसी देने में सक्षम है. विशेष रूप से, हैदराबाद में, उपयोगकर्ता 5जी फोन पर महज कुछ सेकंडों में एक पूरी फिल्म को डाउनलोड करने में सक्षम थे. इस प्रदर्शन ने कंपनी की तकनीकी क्षमताओं को रेखांकित किया है. हालांकि 5जी अनुभव का पूर्ण प्रभाव, हमारे ग्राहकों के लिए तब उपलब्ध होगा, जब पर्याप्त स्पेक्ट्रम उपलब्ध होगा और सरकार की मंजूरी मिल जाएगी. गोपाल विट्ठल, एमडी और सीईओ, भारती एयरटेल ने कहा, मुझे अपने उन इंजीनियरों पर गर्व है जिन्होंने आज हैदराबाद के तकनीकी शहर में इस अविश्वसनीय क्षमता के प्रदर्शन के लिए अथक प्रयास किए हैं. हमारे हर एक निवेश को भविष्य में प्रमाणित किया जाता है क्योंकि हैदराबाद में यह गेम चेंजिंग टेस्ट साबित हुआ है. 

यह भी पढ़ें: रिलायंस जियो बना दुनिया का पांचवां सबसे मजबूत ब्रांड, जानिए किन कंपनियों को पछाड़ा

एयरटेल इस क्षमता को प्रदर्शित करने वाला बना पहला ऑपरेटर 
एयरटेल इस क्षमता को प्रदर्शित करने वाला पहला ऑपरेटर बन गया है. और इसी के साथ हमने फिर से दिखा दिया है कि हम भारत में हमेशा से हर जगह भारतीयों को सशक्त बनाने की अपनी खोज में नई तकनीकों का नेतृत्व करने में सबसे आगे रहे हैं. गोपाल विट्ठल ने यह भी कहा कि हमारा मानना है कि भारत में 5जी इनोवेशन के लिए एक वैश्विक केंद्र बनने की क्षमता है. ऐसा करने के लिए हमें एप्लिकेशन, डिवाइस और नेटवर्क इनोवेशन को एक साथ लाने के लिए इकोसिस्टम की आवश्यकता है. हम अपनी तरफ से योगदान करने के लिए पहले से कहीं ज्यादा तैयार हैं. (इनपुट आईएएनएस)

First Published : 28 Jan 2021, 04:03:47 PM

For all the Latest Business News, Telecom News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो