News Nation Logo

Tesla ने बना दिया रिकॉर्ड, पहली बार 1 अरब डॉलर से ज्यादा की कमाई

दूसरी तिमाही के दौरान एलन मस्क (Elon Musk) को इलेक्ट्रिक कारों की रिकॉर्ड डिलीवरी से 1.1 अरब डॉलर की कमाई हुई है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 28 Jul 2021, 11:28:07 AM
Elon Musk Tesla

Elon Musk Tesla (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • वाहनों के डिस्ट्रीब्यूशन में औसतन 50 फीसदी की सालाना बढ़ोतरी हासिल करने का अनुमान
  • महामारी की वजह से लगाए गए लॉकडाउन के चलते 6 हफ्ते से ज्यादा समय से बंद रहा था कारखाना 

नई दिल्ली :  

अमेरिकी इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी टेस्ला (Tesla) ने आय को लेकर रिकॉर्ड बना दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक टेस्ला ने पहली बार एक तिमाही में 1 अरब डॉलर से ज्यादा की आय दर्ज की है. वहीं दूसरी तिमाही के दौरान एलन मस्क (Elon Musk) को इलेक्ट्रिक कारों की रिकॉर्ड डिलीवरी से 1.1 अरब डॉलर की कमाई हुई है. बता दें कि पिछले साल की इसी अवधि के दौरान कंपनी ने 1040 लाख डॉलर की कमाई हासिल की थी. वहीं एक साल पहले की समान तिमाही की 6.04 अरब डॉलर से दोगुना बढ़कर 11.96 अरब डॉलर हो गया है. एलन मस्क ने कहा कि मौजूदा समय में सेमीकंडक्टर की समस्या ठीक हो रही है हालांकि भविष्यवाणी करना काफी मुश्किल है.

यह भी पढ़ें: 1 साल में खाद्य वस्तुएं हुई 34 फीसदी महंगी, कंपनियों की इनकम हुई डबल

2021 के पूर्वानुमान को दोहराते हुए टेस्ला ने कहा कि वाहनों के डिस्ट्रीब्यूशन में औसतन 50 फीसदी की सालाना बढ़ोतरी हासिल करने का अनुमान है. उन्होंने कहा कि जनरल मोटर्स, फॉक्सवैगन और अन्य कंपनियों द्वारा लॉन्च किए जा रहे नए मॉडल्स की वजह से प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एलन मस्क ने टेस्ला नई पीढ़ी की बैटरियों और बहुप्रतीक्षित साइबरट्रक का उत्पादन कब शुरू करेगी इसको लेकर किसी भी समयसीमा का जिक्र नहीं किया है. बता दें कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से लगाए गए लॉकडाउन के चलते केलिफोर्निया का कारखाना 6 हफ्ते से ज्यादा समय से बंद रहा था.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक काफी समय से टेस्ला भारत में इलेक्ट्रिक कारों की बिक्री करने के लिए इंतजार कर रहा है. बता दें कि इस साल के शुरू में कंपनी ने भारत में आने की घोषणा की थी. दूसरी ओर एलन मस्क (Elon Musk) ने कहा ने कहा था कि टेस्ला वाहनों की परिचालन कीमत गैसोलीन क्रूजर से भी कम है. बता दें कि कंपनी ने अपनी मॉडल-3 और मॉडल-वाई की कीमतों मं वृद्धि की थी. इसके लिए मस्क ने सप्लाई चेन प्रेशर को जिम्मेदार बताया था. उदाहरण के लिए, मॉडल-3 का स्टैंडर्ड रेंज प्लस संस्करण फरवरी में 36,990 डॉलर से बढ़कर मई के अंत में 39,990 डॉलर हो गया है, जबकि मॉडल-वाई लॉन्ग रेंज एडब्ल्यूडी संस्करण इसी अवधि में 49,990 डॉलर से बढ़कर 51,990 डॉलर हो गया है. टेस्ला इस साल फरवरी से अब तक करीब आधा दर्जन बार अपनी कीमतों को अपडेट कर चुकी है.

First Published : 28 Jul 2021, 11:28:07 AM

For all the Latest Business News, Markets News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.