News Nation Logo
Banner

अमेरिका ने मलेशिया को दिया बड़ा झटका, पाम ऑयल इंपोर्ट पर लगाई रोक

अमेरिका ने कहा है कि एफजीवी होल्डिंग्स में जबरिया श्रम, बाल श्रम तथा शारीरिक और यौन हिंसा के संकेत मिले हैं, जिसके बाद यह कदम उठाया जा रहा है.

Bhasha | Updated on: 01 Oct 2020, 11:35:07 AM
palm oil

पाम तेल (Palm Oil) (Photo Credit: IANS )

वाशिंगटन:

अमेरिका (US) ने मलेशिया (Malaysia) की एक प्रमुख पाम तेल (Palm Oil) उत्पादक कंपनी एफजीवी होल्डिंग्स, बेरहाद से आयात (Palm Oil Import) रोकने की घोषणा की है. एफजीवी होल्डिंग्स मलेशिया की सबसे बड़ी पाम तेल कंपनियों में से है. यह अमेरिका की उपभोक्ता सामान क्षेत्र की दिग्गज कंपनी प्रॉक्टर एंड गैंबल की संयुक्त उद्यम भागीदार भी है. अमेरिका ने कहा है कि एफजीवी होल्डिंग्स में जबरिया श्रम, बाल श्रम तथा शारीरिक और यौन हिंसा के संकेत मिले हैं, जिसके बाद यह कदम उठाया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: आम आदमी को लगा बड़ा झटका, आज से LED-LCD TV खरीदना होगा महंगा

मलेशिया के पाम तेल उद्योग में श्रम नियमों का उल्लंघन
अमेरिकी सीमा शुल्क और सीमा संरक्षण व्यापार कार्यालय की कार्यकारी सहायक आयुक्त ब्रेंडा स्मिथ ने बताया कि एफजीवी के खिलाफ यह आदेश बुधवार से लागू हुआ है. एक सप्ताह पहले मीडिया में इस तरह की खबरें आई थीं कि मलेशिया के पाम तेल उद्योग में श्रम नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है. स्मिथ ने कहा, ‘‘हम अमेरिका के आयातक समुदाय से कहेंगे कि वे ठीक तरह से जांच-परख करें.

यह भी पढ़ें: रिलायंस रिटेल में 1,875 करोड़ रुपये का अतिरिक्त निवेश करेगी सिल्वर लेक

कंपनियों को अपनी पाम तेल आपूर्ति श्रृंखला पर गौर करने की जरूरत है. मलेशिया दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा पाम तेल उत्पादक है. इंडोनेशिया और मलेशिया का वैश्विक पाम तेल बाजार पर दबदबा है. 65 अरब डॉलर की वैश्विक पाम तेल आपूर्ति में दोनों देशों का हिस्सा 85 प्रतिशत का है.

First Published : 01 Oct 2020, 11:35:07 AM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो