News Nation Logo

गन्ने की पेराई पिछले साल से तेज, 5 नवंबर तक चीनी उत्पादन 4 लाख टन

नेशनल फेडरेशन ऑफ को-ऑपरेटिव शुगर फैक्टरीज (एनएफसीएसएफ) से मिली जानकारी के अनुसार, पांच नवंबर तक देशभर में 149 चीनी मिलों में गन्ने की पेराई शुरू हो चुकी थी और चीनी का उत्पादन 4.25 लाख टन हो चुका था.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 09 Nov 2020, 07:34:30 AM
sugarcane-sugar

sugarcane-sugar (Photo Credit: newsnation)

नई दिल्ली:

देशभर में करीब 150 चीनी मिलों (Sugar Mills) में चालू शुगर सीजन में गन्ने की पेराई शुरू हो चुकी है और पांच नवंबर तक चार लाख टन से ज्यादा चीनी का उत्पादन (Sugar Production) हो चुका था, जोकि पिछले सीजन की इसी अवधि के मुकाबले 3.20 लाख टन ज्यादा है. नेशनल फेडरेशन ऑफ को-ऑपरेटिव शुगर फैक्टरीज (एनएफसीएसएफ) से मिली जानकारी के अनुसार, पांच नवंबर तक देशभर में 149 चीनी मिलों में गन्ने की पेराई शुरू हो चुकी थी और चीनी का उत्पादन 4.25 लाख टन हो चुका था, जबकि बीते साल इसी अवधि के दौरान 39 चीनी मिलों ने सिर्फ 1.05 लाख टन चीनी का उत्पादन किया था.

यह भी पढ़ें: पिछले साल से ज्यादा निर्यात, फिर भी देश में प्याज का संकट

महाराष्ट्र में चालू हुई 61 चीनी मिलें 
सहकारी चीनी मिलों का संगठन एनएफसीएसएफ से मिली जानकारी के अनुसार, "महाराष्ट्र में 61 चीनी मिलें चालू हो गई हैं और पांच नवंबर तक चीनी का उत्पादन 1.65 लाख टन हो चुका था. उद्योग संगठन एनएफसीएसएफ का अनुमान है कि महाराष्ट्र में चालू सीजन 2020-21(अक्टूबर-सितंबर) में चीनी का उत्पादन 95 लाख टन हो सकता है, जोकि पिछले सीजन से 33.30 लाख टन अधिक है. उत्तर प्रदेश में पांच नवंबर तक 50 चीनी मिलों ने 80,000 टन चीनी का उत्पादन किया है. 

यह भी पढ़ें: Canara Bank ने सस्ते कर दिए होम, ऑटो और पर्सनल लोन, यहां देखें दूसरे बैंकों से जुड़ी अन्य बड़ी खबरें

चालू सीजन में उत्तर प्रदेश में 123 लाख टन चीनी उत्पादन का अनुमान
एनएफसीएसएफ ने उत्तर प्रदेश में चालू सीजन में 123 लाख टन चीनी उत्पादन का अनुमान लगाया है, जबकि पिछले सीजन में उत्तर प्रदेश में चीनी का उत्पादन 126.35 लाख टन हुआ था. उद्योग संगठन का अनुमान है कि चालू सीजन 2020-21 में देशभर में चीनी का उत्पादन 311 लाख टन हो सकता है, जबकि ओपनिंग स्टॉक 107.18 लाख टन है. इस प्रकार सीजन के दौरान चीनी की कुल उपलब्धता 418.18 लाख टन रहने का अनुमान है, जबकि घरेलू खपत 260 लाख टन हो सकता है.

First Published : 09 Nov 2020, 07:21:34 AM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो