News Nation Logo

देशभर में 19 फीसदी घटा चीनी का उत्पादन लेकिन यूपी में रिकॉर्ड प्रोडक्शन

इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन यानी इस्मा (Indian Sugar Mills Association-ISMA) के ताजा आंकड़ों के अनुसार, चालू चीनी उत्पादन व विपणन वर्ष 2019-20(अक्टूबर-सितंबर) के दौरान 15 मई तक चीनी का उत्पादन 264.65 लाख टन हुआ है.

IANS | Updated on: 19 May 2020, 07:41:54 AM
Sugar

चीनी (Sugar) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

देशभर में जहां इस साल चीनी का उत्पादन (Sugar Production) करीब 19 फीसदी घट गया है. वहीं भारत के सबसे बड़े गन्ना उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश में चीनी का उत्पादन अब तक के सबसे उंचे स्तर पर पहुंच चुका है और पूरे प्रदेश में 46 चीनी मिलें अब तक चालू हैं. निजी चीनी मिलों का संगठन इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन यानी इस्मा (Indian Sugar Mills Association-ISMA) के ताजा आंकड़ों के अनुसार, चालू चीनी उत्पादन व विपणन वर्ष 2019-20(अक्टूबर-सितंबर) के दौरान 15 मई तक चीनी का उत्पादन 264.65 लाख टन हुआ है जोकि बीते सीजन के मुकाबले 61.54 लाख टन यानी 18.86 फीसदी कम है.

यह भी पढ़ें: Gold Price Today: रिकॉर्ड ऊंचाई से फिसल गया सोना, जानिए क्यों गिर गया भाव

उत्तर प्रदेश में अबतक चीनी का उत्पादन 122.28 लाख टन
वहीं उत्तर प्रदेश में चीनी का उत्पादन 122.28 लाख टन हो चुका है जो कि अब तक का सबसे उंचा स्तर है. इससे पहले उत्तर प्रदेश में 2017-18 के दौरान चीनी का उत्पादन 120.45 लाख टन हुआ था. उत्तर प्रदेश में चीनी का उत्पादन का आगे नया रिकॉर्ड बनेगा क्योंकि 119 मिलों में से 46 मिलें अब तक चालू हैं. पूर्वी उत्तर प्रदेश की चीनी मिलें बंद हो चुकी हैं लेकिन राज्य के मध्य हिस्से में 40 फीसदी मिलें चालू हैं जबकि पश्चिमी उत्तर प्रदेश की बात करें तो करीब 70 फीसदी मिलों में चीनी का उत्पादन चल रहा है. उद्योग संगठन का अनुमान है कि इस महीने के आखिर तक ज्यादातर मिलों में गन्ने की पेराई बंद हो जाएंगी जबकि कुछ मिलें जून के पहले सप्ताह तक चल सकती हैं. कोरोना संक्रमण के कारण देशभर में लॉकडाउन हो जाने से गुड़ व खांडसारी फैक्टरियां जल्दी बंद हो गईं इसलिए गन्ने की आपूर्ति चीनी मिलों में अब तक हो रही हैं.

यह भी पढ़ें: पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम का दावा, सिर्फ 1.86 लाख करोड़ रुपये का है राहत पैकेज

महाराष्ट्र में हालांकि 15 मई तक 60.87 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ जोकि पिछले साल के 107.15 लाख टन से 60.87 लाख टन कम है. महाराष्ट्र में सिर्फ एक मिल है. कर्नाटक में 30 अप्रैल तक 33.82 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ जबकि पिछले साल 43.25 लाख टन हुआ था. वहीं, तमिलनाडु में 5.65 लाख टन, गुजरात में 9.28 लाख टन और बाकी 32.75 लाख टन चीनी का उत्पादन आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, बिहार, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और ओडिशा में हुआ है. इस्मा ने बाजार के सूत्रों के हवाले से बताया कि चालू सीजन में अब तक 42 लाख टन चीनी का निर्यात हो चुका है इसमें से 36 लाख टन चीनी देश के बाहर भेजी जा चुकी है. उद्योग संगठन ने बताया कि विभिन्न देशों के साथ चीनी निर्यात के सौदे हो रहे हैं.

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 19 May 2020, 07:41:54 AM