News Nation Logo

आम आदमी को महंगे आलू से राहत देने के लिए मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने एक अधिसूचना में कहा कि लाइसेंस के बिना आलू (Potato) का आयात केवल 31 जनवरी, 2021 तक करने की अनुमति है. वैसे आलू का आयात प्रतिबंधित श्रेणी में आता है.

Bhasha | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 31 Oct 2020, 09:05:20 AM
Potatoes

आलू (Potato) (Photo Credit: IANS )

नई दिल्ली:

केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने शुक्रवार को भूटान (Bhutan) से लाइसेंस के बिना आलू (Potato) के आयात की अनुमति दी है. इसका उद्देश्य घरेलू आपूर्ति को बढ़ाना और इसकी कीमतों को नियंत्रित करना है. विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने एक अधिसूचना में कहा कि लाइसेंस के बिना आयात केवल 31 जनवरी, 2021 तक करने की अनुमति है. वैसे आलू का आयात प्रतिबंधित श्रेणी में आता है. इसका अर्थ है कि किसी भी आयातक को आलू का आयात करने के लिए डीजीएफटी से लाइसेंस की आवश्यकता होती है, लेकिन, सरकार ने शुक्रवार को आयात मानदंडों में आंशिक ढील दी है.

यह भी पढ़ें: RIL Q2 Results: रिलायंस जियो का शुद्ध लाभ दूसरी तिमाही में तीन गुना बढ़ा, आय भी 33 फीसदी बढ़ी

भूटान से 30,000 टन आयात किया जा रहा है आलू: पीयूष गोयल 
जानकारी के मुताबिक इसमें कहा गया है कि लाइसेंस के बिना आलू का भूटान से आयात 31 जनवरी, 2021 तक करने की अनुमति है. एक सार्वजनिक सूचना में, निदेशालय ने टीआरक्यू (टैरिफ दर कोटा) योजना के तहत आलू के आयात की प्रक्रिया निर्धारित की है. उपभोक्ता मामलों के मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि इस प्रमुख वस्तु की स्थानीय आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों को काबू में लाने के लिए भूटान से 30,000 टन आलू का आयात किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि हम स्थानीय बाजारों में आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों को काबू में लाने के लिये लगभग 10 लाख टन आलू आयात करने जा रहे हैं.

यह भी पढ़ें: आयकर रिटर्न फाइल करने की समय सीमा बढ़ी, सरकार ने जारी की अधिसूचना

खुदरा मूल्य पर लगाम लगाने के लिये दस लाख टन आलू कर रहे हैं इंपोर्ट: पीयूष गोयल 
उपभोक्ता मामलों के मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि आलू के खुदरा मूल्य पर लगाम लगाने के लिये 10 लाख टन इस सब्जी का आयात किया जा रहा है. इसमें से करीब 30,000 टन आलू भूटान से अगले कुछ दिनों में आ जाएगा. उन्होंने यह बात ऐसे समय कही है जब आलू की खुदरा कीमत देश में कुछ जगहों पर 60 रुपये किलो से ऊपर तक पहुंच गयी है. गोयल ने यह भी कहा कि 10 लाख टन आलू के आयात के लिये सीमा शुल्क जनवरी 2021 तक कम कर 10 प्रतिशत कर दिया गया है. वीडियो कांफ्रेन्स के जरिये आयोजित संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि आलू की कीमत बढ़ रही है और अखिल भारतीय औसत खुदरा मूल्य 42 रुपये किलो पर पिछले तीनों दिनों से स्थिर बना हुआ है. 

यह भी पढ़ें: RIL Q2 Results: रिलायंस इंडस्ट्रीज का शुद्ध लाभ दूसरी तिमाही में 15 फीसदी घटा

गोयल ने कहा कि हालांकि सरकार ने आलू के आयात के लिये कदम उठाये हैं. उन्होंने कहा, ‘‘आलू के खुदरा मूल्य पर लगाम लगाने के लिये कदम उठाया गया है। हम 10 लाख टन आलू का आयात करने जा रहे हैं। इसमें से करीब 30,000 टन आलू भूटान से अगले कुछ दिनों में आ जाएगा. उन्होंने कहा कि हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि आलू, प्याज और अन्य जरूरी चीजें त्योहारों के दौरान सस्ती दरों पर मिले. 

First Published : 31 Oct 2020, 08:44:56 AM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो