News Nation Logo

कोरोना वायरस संकट से क्रेडिट कार्ड के जरिये लेन-देन और बढ़ेगा: एसबीआई कार्ड सीईओ

नोटबंदी के बाद नकदी की जगह डिजिटल माध्यम से लेन-देन होने लगे...अगर हम उसका 5 प्रतिशत भी हासिल कर लेते हैं, वह महत्वपूर्ण होगा. इसीलिए हम उस पर गौर कर रहे हैं...आप जो नकद खर्च करते हैं, वह वास्तव में कार्ड के जरिये हो सकता है.

By : Ravindra Singh | Updated on: 13 May 2020, 12:23:02 PM
SBI Card

एसबीआई कार्ड (Photo Credit: फाइल)

दिल्ली:

कोरोना वायरस महामारी के कारण उत्पन्न चुनौतीपूर्ण स्थिति से क्रेडिट कार्ड के जरिये लेन-देन और बढ़ेगा. एसबीआई कार्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह कहा. उन्होंने कहा कि अब चूंकि घरों के भीतर रहना जरूरी हो गया है, एसे में लोग मकान के आंतरिक रूप-सज्जा को बेहतर करने के लिये खर्च करेंगे. एसबीआई कार्ड के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी हरदयाल प्रसाद ने पीटीआई-भाषा से बातचीत में कहा, क्रेडिट कार्ड उद्योग किस प्रकार आगे बढ़ता है, इस बारे में अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी. मैं हमेशा से डिजिटल लेन-देन का समर्थक रहा हूं. जो भी आर्थिक स्थिति होगी, मुझे लगता है कि क्रेडिट कार्ड के जरिये लेन-देन लगातार बढ़ेगा.

उन्होंने कहा कि अगर 17 मई से कुछ जगहों पर ‘लॉकडाउन’ (बंद)समाप्त कर दिया जाता है, कामकाज करीब 2-3 महीनों में सामान्य हो जाएगा. प्रसाद ने कहा, नोटबंदी के काद क्रेडिट कार्ड उद्योग को बढ़ावा मिला था. मुझे लगता है कि कोराना वायरस महामारी नोटबंदी से भी बड़ा होने जा रहा है. उन्होंने कहा, नोटबंदी के बाद नकदी की जगह डिजिटल माध्यम से लेन-देन होने लगे...अगर हम उसका 5 प्रतिशत भी हासिल कर लेते हैं, वह महत्वपूर्ण होगा. इसीलिए हम उस पर गौर कर रहे हैं...आप जो नकद खर्च करते हैं, वह वास्तव में कार्ड के जरिये हो सकता है. अब अगर आप घर में ज्यादा समय रहते हैं और बाहर नहीं जा रहे हैं, आप संभवत: अपने घर को और बेहतर बनाना चाहेंगे. 

यह भी पढ़ें-कोरोना वायरस के खिलाफ वैज्ञानिकों ने ढूंढा ये 'कवच', कोविड-19 होगा बेअसर

अक्टूबर तक सामान्य स्थिति होने की उम्मीद
प्रसाद ने कहा कि अगर लोग घरों में रहते हैं, तो वे बेहतर उत्पाद चाहेंगे. हो सकता है वह बड़ा टेलीविजन, बड़ा फ्रीज लेना चाहें क्योंकि वे बाहर खाना खाने नहीं जा रहे और घर पर ही खाना पकाएंगे. उन्होंने कहा, हम इस प्रकार की प्रवृत्ति पर गौर कर रहे हैं. लोग यह महसूस करेंगे अब तो हमारा घर ही दफ्तर है, इसे और बेहतर बनाया जाए. ऐसे में वे अपने घर को और अच्छा बनाना चाहेंगे..... प्रसाद ने कहा कि यात्रा, होटल, गर्मियों की छुट्टी, सिनेमा और मनोरंजन जैसी चीजों के लिये कार्ड के जरिये खर्च कम होंगे. चीजें अक्टूबर तक सामान्य होने की उम्मीद है, ऐसे में कारोबार थोड़ा चुनौतीपूर्ण होने जा रहा है. उन्होंने कहा, उस दौरान त्यौहार भी होंगे. देश में खर्च के लिहाज से त्यौहार महत्वपूर्ण है.

यह भी पढ़ें-दिल्ली हाईकोर्ट में तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद का केस NIA को सौंपने की याचिका

पिछले साल की तुलना में 28 फीसदी बढ़ा कारोबार
हालांकि यह भी सही है कि 60 से 80 प्रतिशत कारोबार गर्मियों में होता है जो इस साल नहीं हेगा. हालांकि प्रसाद ने भरोसा जताया कि खर्च के संदर्भ में त्यौहरों और नये साल के दौरान चीजें बेहतर होंगी. एसबीआई कार्ड ‘को-ब्रांडेड’ कार्ड पर भी गौर कर रही है. कंपनी का अपोलो हॉस्पिटल के साथ को-ब्रांडेड कार्ड है. इसके जरिये लोग डाक्टरों से सलाह के साथ दवा ऑनलाइन खरीद सकते हैं. इसके अलावा कंपनी शिक्षा क्षेत्र पर भी ध्यान दे रही है क्योंकि कई लोग अब ‘ऑनलाइन’ पाठ्यक्रम का विकल्प चुनेंगे. एसबीआई कार्ड एंड पेमेंट सर्विसेज ब्रांड नाम एसबीआई कार्ड के तहत काम करती है. कंपनी की वृद्धि पिछले वित्त वर्ष में 28 प्रतिशत बढ़कर 1.05 करोड़ रही. एसबीआई कार्ड देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई और कार्लाइल ग्रुप की संयुक्त उद्यम इकाई है.

First Published : 11 May 2020, 07:58:42 PM

For all the Latest Business News, Banking News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.