News Nation Logo
Banner

अशोक लीलैंड (Ashok Leyland) ने BS-6 मानक वाला ट्रक पेश किया, जानें इसकी खासियत

अशोक लीलैंड (Ashok Leyland) के चेयरमैन धीरज हिंदुजा ने कहा कि एवीटीआर हमारे ग्राहकों को अलग अनुभव देगा और वे मोड्यूलर प्लेटफार्म का लाभ उठा पाएंगे.

Bhasha | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 04 Jun 2020, 03:15:22 PM
Ashok Leyland Trucks AVTR

Ashok Leyland Truck AVTR (Photo Credit: फाइल फोटो)

दिल्ली:  

हिंदुजा समूह (Hinduja Group) की प्रमुख कंपनी अशोक लीलैंड (Ashok Leyland) ने बृहस्पतिवार को भारत चरण-6 (बीएस-6) मानकों वाले मझोले और भारी ट्रक (Trucks) पेश किये. ये ट्रक अत्याधुनिक ‘मोड्यूलर प्लेटफार्म’ पर आधारित हैं. कंपनी का नया मोड्यूलर ट्रक एवीटीआर (AVTR) ब्रांड नाम से आया है. यह अपनी तरह का दश में पहला वाणिज्यिक वाहन है जो ग्राहकों को लदान, ‘केबिन ससपेन्सन’, ‘ड्राइवइवट्रेन’ आदि के बारे में कई विकल्प उपलब्ध कराता है. ग्राहक 18.5 से 55 टन की श्रेणी में ट्रकों, टिपर और ट्रैक्टरों को अपनी जरूरत के हिसाब से उसमें बदलाव करा सकते हैं.

यह भी पढ़ें: Covid-19: कोरोना वायरस महामारी के बीच इस कंपनी ने कारोबार में सफलता के झंडे गाड़े

अशोक लीलैंड के चेयरमैन धीरज हिंदुजा (Dheeraj Hinduja) ने कहा कि एवीटीआर हमारे ग्राहकों को अलग अनुभव देगा और वे मोड्यूलर प्लेटफार्म का लाभ उठा पाएंगे. इस मोड्यूलर प्लेटफार्म से हम वाणिज्यिक वाहनों के मामले में वैश्विक मानचित्र पर आ गये हैं. उन्होंने वीडियो कॉल में कहा कि कंपनी ने नया प्लेटफार्म 500 करोड़ रुपये के निवेश से विकसित किया है. इससे कंपनी अंतरराष्ट्रीय बाजार में अपना विस्तार कर सकेगी. अशोक लीलैंड के प्रबंध निदेशक और सीईओ विपिन सोंधी ने कहा कि यह मोड्यूलर प्लेटफार्म हमें न केवल भारत में बल्कि वैश्विक स्तर पर लाभ देगा. इस प्लेटफार्म पर तैयार वाहन में दाहिने तरफ और बायीं तरफ दोनों ओर से चलाने की सुविधा प्राप्त की जा सकती है.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस से निपटने को लेकर हम पश्‍चिमी देशों की ओर देखते रहे: राहुल बजाज

उन्होंने कहा कि कंपनी इन ट्रकों का अफ्रीकी और पश्चिम एशियाई देशों में निर्यात बढ़ाने पर गौर करेगी. साथ ही इसके जरिये स्वतंत्र देशों के राष्ट्रकुल (सीआईएस) में अपना पांव जमाने का प्रयास करेगी. कंपनी के मुख्य परिचालन अधिकारी अनुज कथुरिया ने कहा कि कंपनी एवीटीआर देश भर के अपने विभिन्न कारखानों में विनिर्माण करेगी. इसके लिये उसने जरूरी बदलाव किये हैं। कंपनी बिक्री और सेवा नेटवर्क बढ़ाने पर भी ध्यान दे रही है. उन्होंने कहा कि वर्ष 2010 में ऐसे केंद्रों की संख्या 450 थी जो अब 3,000 हो गयी है. हमने हर 50 किलोमीटर पर ऐसा केंद्र बनाने की योजना बनायी है. अशोक लीलैंड दुनिया में ट्रक बनाने वाली शीर्ष 10 कंपनियों और बस बनाने वाली 5 प्रमुख कंपनियों में शामिल है. कंपनी के संयुक्त अरब अमीरात, बांग्लादेश, श्रीलंका, ब्रिटेन, केन्या समेत फिलहाल नौ देशों में विनिर्माण केंद्र हैं.

First Published : 04 Jun 2020, 03:15:22 PM

For all the Latest Auto News, Cars News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.