News Nation Logo
Banner

इस भिखारिन के खाते से निकला इतना पैसा कि बैंक भी हो गया खाली, जानें पूरा मामला

जब उस भिखारिन ने अपने पैसे लेने के लिए चेक भरा तो बैंक का सारा कैश मिलाकर भी इस भिखारिन की जमा रकम के बराबर नहीं पूरा हो सका.

By : Ravindra Singh | Updated on: 06 Oct 2019, 08:57:28 PM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल)

नई दिल्‍ली:

जब आप अपने घर से निकलते हैं और रास्ते में किसी स्कूल, अस्पताल या फिर स्टेशन के नजदीक बैठे भिखारियों को देखते होंगे तो उनकी जिंदगी पर आपको बिना किसी बात के ही दया आ जाती होगी, और हमारे दिलों में बची हुई इसी दया का फायदा उठाते हैं ये भिखारी. लोग इनकी लाचार जिंदगी को देखते हुए कुछ न कुछ तो दे ही देते हैं. कभी कभी ऐसा भी होता है कि आप भिखारी को देखकर इस बात का अंदाजा नहीं लगा पाते हैं कि जिस भिखारी को आप पैसे दे रहे हैं वो आपसे से भी ज्यादा रईस है. ऐसा ही एक मामला मीडिया में आया है जहां एक भिखारिन के बैंक एकाउंट में इतना पैसा था कि जब वो बैंक से अपने पैसे निकालने गई तो बैंक की नकदी खत्म हो गई और उस भिखारिन के पैसे नहीं पूरे हो पाए.

इस भिखारिन के पास इतना पैसा आने के बाद से ये चर्चा का विषय बना हुआ है कि आखिर इसके पास इतना पैसा कहां से आया. दरअसल, इस भिखारिन के खाते में कुल 6.37 करोड़ रुपए होने का खुलासा हुआ है. जब उस भिखारिन ने अपने पैसे लेने के लिए चेक भरा तो बैंक का सारा कैश मिलाकर भी इस भिखारिन की जमा रकम के बराबर नहीं पूरा हो सका. भिखारिन के पास इतनी रकम कहां से आई यह बात पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है, इस बात का खुलासा भी बड़े दिलचस्प तरीके से हुआ इतना ही नहीं भिखारिन की वह जगह भी चर्चा का विषय बनी है जहां बैठकर वो भीख मांगती है.

                               

भिखारिन लेबनान शहर के एक नामी अस्पताल के सामने बैठकर भीख मांगती है. इस भीख मांगने वाली महिला का नाम वाफा मोहम्मद है. वाफा दिनभर अस्पताल के सामने बैठकर भीख मांगा करती है यह काम वो पिछले 10 सालों से कर रही है किसी को भी इस बात का अंदाजा नहीं था कि वाफा मोहम्मद नाम की इस भिखारिन के पास इतना पैसा होगा.

मीडिया में आईं खबरों की मानें तो वाफा मोहम्मद अपने पैसे को एक बैंक से दूसरे बैंक में ट्रांसफर करने के लिए पहुंची थी इस दौरान बैंक में नगदी की समस्या आ गई इसके बाद वाफा के दो चेक सोशल मीडिया पर वायरल हो गए. वाफा के दोनों चेक 30 सितंबर 2019 की तारीख वाले हैं. वाफा के इन चेकों के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो गया. वाफा ने बताया कि ये पैसे उन्होंने भीख मांगकर ही इकट्ठा किए हैं. जिस अस्पताल के सामने वो भीख मांगती हैं उसकी एक नर्स ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि वो पिछले 10 सालों से अस्पताल के गेट पर भीख मांगती दिखाई दे रही हैं.

First Published : 06 Oct 2019, 08:57:28 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो