logo-image
लोकसभा चुनाव

Apple के इस ऐलान के बाद क्यों खफा हैं एलन मस्क? बैन लगाने की कर रहे तैयारी

Elon Musk iPhone Ban: आईफोन समेत ऐपल डिवाइस को लेकर एलन मस्क ने सुरक्षा को लेकर सवाल उठाए हैं. 

Updated on: 11 Jun 2024, 01:15 PM

नई दिल्ली:

मोबाइल और इलेक्ट्रानिक की बड़ी कंपनी ऐपल ने जब से यह ऐलान किया कि iPhone समेत सभी ऐपल डिवाइस में ChatGPT का उपयोग करेंगे, तब से एलन मस्क काफी मुखर हो इसके विरोध पर उतर आए हैं. ChatGPT एक एआई जनरेटेड टूल हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि अब अगर आईफोन यूजर्स वॉइस असिस्टेंट सिस्टम Siri को कमांड देंगे, तो Siri उस कमांड को ChatPGT को भेज देगा. इसके बाद ChatGPT आपके सवाल  का जवाब देगा.

ये भी पढ़ें: Modi Cabinet 2024: 71 मंत्रियों को दिए निर्देश,कार्यालय का तुरंत चार्ज लेकर काम करना शुरू करें

सुरक्षा के लिहाज से खतरनाक सिद्ध हो सकता है

हालांकि ऐपल के इस अपडेट के बाद दिग्गज टेक कंपनी Tesla और X के ओनर एनल मस्क नाराज दिखाई दे रहे हैं. एलन मस्क की मानें तो अगर ऐपल अपने ऑपरेटिंग सिस्टम को OpenAI के साथ इंटीग्रेट कर लेता है तो, ऐपल डिवाइस को एलन मस्क अपनी कंपनियों में बैंन कर देंगे. ऐसा कहा जा रहा है कि एलन मस्क अपने ऑफिस में ऐपल डिवाइस के उपयोग पर प्रतिबंध लगा सकते हैं. हालांकि अभी यह तय नहीं है कि iPhone को टेस्ला और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X के उपयोग को लेकर बैन किया जा सकता है. एलन मस्क ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर संदेश दिया कि यह सुरक्षा के लिहाज से खतरनाक सिद्ध हो सकता है. 

एआई फीचर साल के अंत तक आ सकता है

अगर एलन मस्क ऐपल डिवाइस और आईफोन पर पाबंदी लगाता है तो इसका असर SpaceX, टेस्ला और एक्स यूजर्स पर दिख सकता है. ऐपल का ऐलान है कि उसका एआई फीचर जल्द इस साल के अंत तक आ सकता है. OpenAI ने ये पुष्टि की है कि इस टेक्नोलॉजी को ऑपरेटिंग सिस्टम के संग इंटीग्रेट किया है. ऐपल और OpenAI का दावा है कि वे इसमें प्राइवेसी प्रोटेक्शन का खास ख्याल रखने की कोशिश करेंगे.