News Nation Logo

कोवैक्सीन हड़बड़ी में बनाया टीका तो नहीं... WHO ने मांगी और जानकारी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने कहा कि वह भारत बायोटेक (Biotech) से उसके कोविड-19 रोधी टीके ‘कोवैक्सीन’ के बारे में एक अतिरिक्त जानकारी की उम्मीद कर रहा है.

Written By : मनोज शर्मा | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 19 Oct 2021, 06:59:56 AM
Covaxin

बायोटेक कंपनी ने अप्रैल में इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए किया था आवेदन. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • 26 अक्टूबर को डब्ल्यूएचओ तकनीकी समूह में कोवैक्सीन की लिस्टिंग पर विचार
  • इसके पहले ही संस्था ने कोवैक्सीन टीके निर्माण पर मांग ली है और जानकारी
  • भारत में चल रहे कोरोना टीकाकरण अभियान का अहम हिस्सा है कोवैक्सीन

जिनेवा:

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने कहा कि वह भारत बायोटेक (Biotech) से उसके कोविड-19 रोधी टीके ‘कोवैक्सीन’ के बारे में एक अतिरिक्त जानकारी की उम्मीद कर रहा है. उसने इस बात पर जोर दिया है कि यह सुनिश्चित करने के लिए उसका पूरी तरह से मूल्यांकन करना होगा कि टीका सुरक्षित है और इसे जैसे-तैसे हड़बड़ी में तो नहीं बनाया गया. इसके बाद ही इसे आपातकालीन उपयोग के लिये मंजूरी दी जा सकती है. गौरतलब है कि 26 अक्टूबर को डब्ल्यूएचओ का तकनीकी समूह कोवैक्सीन (Covaxin) के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए सूचीबद्ध करने पर विचार करने जा रहा है. 

19 अप्रैल को किया था आवेदन
कोवैक्सीन विकसित करने वाले हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक ने अपने टीके के लिए 19 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य संगठन को ईओआई (रुचि की अभिव्यक्ति) प्रस्तुत की थी. वैश्विक स्वास्थ्य संगठन ने एक ट्वीट में कहा, 'हम जानते हैं कि बहुत से लोग कोविड-19 आपातकालीन उपयोग सूची में कोवैक्सीन के शामिल होने के वास्ते डब्ल्यूएचओ की सिफारिश की प्रतीक्षा कर रहे हैं, लेकिन हम हड़बड़ी में ऐसा नहीं कर सकते हैं.

यह भी पढ़ेंः T20 World Cup: भारत ने इंग्‍लैंड को हराया, जानिए कौन से खिलाड़ी चमके 

और अधिक जानकारी की उम्मीद
डब्ल्यूएचओ ने कहा कि आपातकालीन उपयोग के लिए किसी उत्पाद की सिफारिश करने से पहले हमें यह सुनिश्चित करने के लिए इसका अच्छी तरह से मूल्यांकन करना होगा कि वह सुरक्षित और प्रभावी है. संगठन ने कहा, 'भारत बायोटेक- कोवैक्सीन निर्माता- नियमित आधार पर डब्ल्यूएचओ को आंकड़े जमा कर रहा है और डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों ने इन आंकड़ों की समीक्षा की है. डब्ल्यूएचओ आज कंपनी से एक अतिरिक्त जानकारी की उम्मीद कर रहा है.'

यह भी पढ़ेंः DGP संग अमित शाह की बैठक, कश्मीर की सुरक्षा पर दिए निर्देश

टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल है कोवैक्सीन
डब्ल्यूएचओ का यह ट्वीट उसकी मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन के यह कहने के एक दिन बाद आया है कि एजेंसी का तकनीकी सलाहकार समूह 26 अक्टूबर को भारत के कोवैक्सीन को आपातकालीन उपयोग सूची में सूचीबद्ध करने पर विचार करने के लिए बैठक करेगा. कोवैक्सीन का उपयोग देश के राष्ट्रव्यापी कोविड-19 रोधी टीकाकरण कार्यक्रम में किया जा रहा है.

First Published : 19 Oct 2021, 06:58:10 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.