News Nation Logo

भारत के पक्ष में चीनी आक्रामकता के खिलाफ अमेरिकी सीनेट में प्रस्ताव पेश

अमेरिका (America) के दो शक्तिशाली सीनेटरों के समूह ने सीनेट में एक प्रस्ताव रखकर भारत (India) के प्रति चीनी आक्रामकता की आलोचना की है.

By : Nihar Saxena | Updated on: 14 Aug 2020, 08:32:58 AM
John Cornyn

चीन के खिलाफ एक और प्रस्ताव पारित. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

वॉशिंगटन:

अमेरिका (America) के दो शक्तिशाली सीनेटरों के समूह ने सीनेट में एक प्रस्ताव रखकर भारत (India) के प्रति चीनी आक्रामकता की आलोचना की है. भारत के खिलाफ चीनी आक्रामकता का लक्ष्य दोनों देशों के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) की स्थिति बदलना था. सीनेट में बहुमत की पार्टी रिपब्लिकन के व्हिप सीनेटर जॉन कोर्निन और खुफिया मामलों पर सीनेट की प्रवर समिति के रैंकिंग सदस्य सीनेटर मार्क वार्नर का यह प्रस्ताव चीन द्वारा पूर्वी लद्दाख (Ladakh) में चीनी सेना की गतिविधियों के बाद आया है.

यह भी पढ़ेंः कितने समय तक प्रभावी होगी रूस की कोरोना वैक्सीन, कंपनी ने किया यह दावा

भारतीय पक्ष को सराहा
कोर्निन और वार्नर सीनेट इंडिया कॉकस के सह-अध्यक्ष हैं. कोर्निन ने कहा, ‘सीनेट इंडिया कॉकस के सह-संस्थापक के रूप में, मुझे अमेरिका और भारत के बीच मजबूत संबंधों का महत्व स्पष्ट रूप से पता है.’ सीनेटर ने कहा, ‘मैं चीन के खिलाफ खड़े होने और हिन्द-प्रशांत क्षेत्र को स्वतंत्र बनाए रखने में भारत की प्रतिबद्धता की प्रशंसा करता हूं. हमेशा के मुकाबले अब यह ज्यादा जरूरी है कि हम अपने भारतीय साझेदारों का साथ दें क्योंकि वे चीनी आक्रामकता के खिलाफ बचाव कर रहे हैं.’

यह भी पढ़ेंः  खाद्य वस्तुओं की महंगाई ने जीना किया मुश्किल, जुलाई में खुदरा मुद्रास्फीति में उछाल

अमेरिका खड़ा है भारत के साथ
इसके पहले भी अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पिओ समेत कई सीनेटर्स चीन के खिलाफ भारत का पक्ष ले चुके हैं. गौरतलब है कि कोरोना के लिए चीन को कठघरे में खड़ा करता आ रहा ट्रंप प्रशासन पूर्वी लद्दाख में चीनी-भारतीय सैनिकों की हिंसक झड़प के बाद भारत का खुलकर साथ औऱ समर्थन देता आ रहा है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 14 Aug 2020, 08:32:58 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.