News Nation Logo
Banner

कोरोना वायरस के चलते UNSC की बैठकें रद्द, अमेरिका के कई राज्‍यों में कर्फ्यू

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने पत्रकारों को बताया कि न्यूयॉर्क के संयुक्त राष्ट्र सचिवालय के एक कर्मचारी में कोविड-19 का पता चला है. पिछले सप्ताह फिलीपीन के एक राजनयिक भी वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

Bhasha | Updated on: 17 Mar 2020, 10:33:08 AM
UNSC

कोरोना वायरस: UNSC की बैठकें रद्द, अमेरिका के कई राज्‍यों में कर्फ्यू (Photo Credit: ANI Twitter)

संयुक्तराष्ट्र:

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) ने कोरोना वायरस (Corona Virus) के तेजी से बढ़ते मामलों के मद्देनजर इस सप्ताह होने वाली दो बैठकों को सोमवार को रद्द कर दिया. सुरक्षा परिषद मंगलवार की बैठक रद्द होने के बाद सूडान के दरफुर की स्थिति पर बुधवार को चर्चा करने और बृहस्पतिवार को बहुपक्षवाद पर बात करने की योजना बना रहा था. इस माह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता चीन कर रहा है. चीन मिशन ने कहा कि इस सप्ताह की बैठक रद्द होने के बाद भी परिषद काम कर रहा है. मिशन के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘ सदस्य एजेंडा में शामिल मुद्दों पर बातचीत और विचार-विमर्श जारी रखेंगे ताकि परिषद के जनादेश को पूरा करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जा सकें.’’

यह भी पढ़ें : पूर्व CJI रंजन गोगोई को राज्‍यसभा भेजे जाने पर मचा सियासी घमासान, विरोधी दलों ने ऐसे कसा तंज

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने पत्रकारों को बताया कि न्यूयॉर्क के संयुक्त राष्ट्र सचिवालय के एक कर्मचारी में कोविड-19 का पता चला है. पिछले सप्ताह फिलीपीन के एक राजनयिक भी वायरस से संक्रमित पाए गए थे. दुजारिक के अनुसार संयुक्त राष्ट्र भवन अब भी खुला है और महासचिव एंतोनियो गुतारेस सोमवार को अपने कार्यालय में थे. न्यूयॉर्क स्थित इमारत में प्रवेश करने वाले लोगों की संख्या में हालांकि गिरावट आई है करीब 900 लोग ही इमारत में दाखिल हुए जबकि रोजाना हजारों लोगों का यहां आना-जाना लगा रहता है.

अमेरिका ने घातक कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी को रोकने के अपने प्रयासों को तेज करते हुए नागरिकों की आवाजाही को प्रतिबंधित करना शुरू कर दिया है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आगाह किया है कि इस संकट का सामना गर्मियों के मौसम तक करना पड़ सकता है. न्यू जर्सी स्टेट और सैन फ्रांसिस्को ने कर्फ्यू की घोषणा की है वहीं ट्रंप ने अमेरिकियों से कहीं भी 10 से अधिक संख्या में एकत्र नहीं होने की अपील की है. ट्रंप ने पहली बार माना कि वैश्विक महामारी के चलते अमेरिकी अर्थव्यवस्था “संभवत:” मंदी की ओर बढ़ सकती है जहां 1987 के बाद से पहली बार वॉल स्ट्रीट के शेयर करीब 13 प्रतिशत गिरकर सबसे निचले स्तर पर बंद हुए.

यह भी पढ़ें : जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने पर अध्ययन कर रही योगी आदित्‍यनाथ की सरकार

अमेरिका ने यूरोपीय राष्ट्रों का अनुसरण करते हुए स्कूलों, सार्वजनिक भवनों, रेस्तरां, बार आदि को बंद करने की घोषणा की है. ट्रंप ने आशंका जताई है कि अमेरिका में कोरोना वायरस का संकट अभी कई महीनों तक जारी रह सकता है. ट्रंप ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा, “ मुझे ऐसा लगता है कि अगर हम इस दिशा में बहुत अच्छे से काम करें तो उम्मीद है कि जुलाई या अगस्त तक हमें इससे छुटकारा मिल जाएगा.” उनकी इन टिप्पणियों से पहले कनाडा ने घोषणा की कि वह ज्यादातर विदेशी नागरिकों के लिए अपनी सीमाएं बंद कर रहा है और न्यू जर्सी के गवर्नर फिल मर्फी ने कहा कि वह न्यूयॉर्क शहर की सीमा के साथ लगने वाले राज्य में आवाजाही को सीमित कर रहे हैं.

मर्फी ने कहा, “ सभी गैर जरूरी खुदरा, शौकियां एवं मनोरंजनात्मक कारोबार रात आठ बजे के बाद बंद हो जाने चाहिए और यह आज रात से प्रभावी होगा.” उन्होंने कहा, “ न्यू जर्सी में रात आठ बजे से सुबह पांच बजे तक सभी गैर जरूरी और गैर-आपात यात्राएं प्रतिबंधित की जाती है. यह निकट भविष्य तक प्रभावी रहेगा. हम चाहते हैं कि सब घरों के अंदर रहें-बाहर नहीं.” बाद में सैन फ्रांसिस्कों ने भी एक ही स्थान पर रहने संबंधी आदेश पारित किया जिसमें लाखों निवासियों को बहुत जरूरी न होने तक घर के अंदर ही रहने को कहा गया है. इन घोषणाओं से पहले प्यूर्टो रिको ने मॉल, सिनेमाघर, जिम और बार बंद रखने के साथ ही रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक के लिए कर्फ्यू लगाया था.

यह भी पढ़ें : IPL 2020 : इस साल नहीं होगा IPL! अब केवल ऐलान होना ही रह गया है बाकी

व्हाइट हाउस ने उन खबरों से इनकार किया है कि ट्रंप देश भर में कामबंदी के कदम पर विचार कर रहे हैं और राष्ट्रपति अस्थायी अस्पतालों के निर्माण में मदद के लिए सेना को कह सकते हैं. राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस संकट के चलते चुनाव रद्द करना ‘‘अनावश्यक” है जबकि ओहियो के गवर्नर ने कहा कि मंगलवार को राज्य में निर्धारित प्राथमिक चुनाव (प्राइमरी) टाल दिए जाएं. इस बीच, अमेरिका की बड़ी एयरलाइन कंपनियों ने कहा कि वह विमान सेवाओं में कम से कम 50 फीसदी की कटौती करेंगी.

First Published : 17 Mar 2020, 10:27:24 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.