News Nation Logo
Banner

कश्मीर पर झूठ बोलना पाकिस्तान के राष्ट्रपति को पड़ा महंगा, ट्विटर ने भेजा नोटिस

ट्विटर ने अल्वी को कश्मीर पर ट्वीट करने को लेकर नोटिस भेजा है. ट्विटर ने अल्वी को भेजे नोटिस में कहा है कि हमारी जांच से भारतीय कानूनों का उल्लंघन हुआ है.

By : Nihar Saxena | Updated on: 26 Aug 2019, 08:52:48 PM
कश्मीर पर झूठ बोलना पाकिस्तानी राष्ट्रपति आरिफ अल्वी को पड़ा भारी.

कश्मीर पर झूठ बोलना पाकिस्तानी राष्ट्रपति आरिफ अल्वी को पड़ा भारी.

highlights

  • पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी को कश्मीर पर गलत ट्वीट करने पर नोटिस भेजा.
  • इस पर मानवाधिकार मंत्री शिरीन मंजरी ने ट्विटर को मोदी सरकार का मुखपत्र बताया.
  • कश्मीर के समर्थन में पोस्ट के लिए पाकिस्तानी सोशल मीडिया अकाउंट को बंद किया जा रहा है.

नई दिल्ली.:

पाकिस्तान के कश्मीर पर लगातार बोले जा रहे झूठ को लेकर अब अंतरराष्ट्रीय सोशल मीडिया साइट्स का प्रबंधन और उनके नीति नियामक विभाग भी जागरूक हो गए हैं. यही वजह है कि पाकिस्तान के नेताओं और पीएम द्वारा कश्मीर पर गलतबयानी करने के बाद अब वहां के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी को भी कश्मीर पर गलत जानकारी देना भारी पड़ गया है. ट्विटर ने अल्वी को कश्मीर पर ट्वीट करने को लेकर नोटिस भेजा है. ट्विटर ने अल्वी को भेजे नोटिस में कहा है कि हमारी जांच से भारतीय कानूनों का उल्लंघन हुआ है.

यह भी पढ़ेंः इमरान खान ने अपनी आवाम को फिर बरगलाया, भारत के खिलाफ खोला झूठ का पिटारा, कही ये बातें

तुर्रा यह कि ट्विटर 'मोदी सरकार का मुखपत्र'
जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने 'हिंसा का एक विडियो' ट्वीट कर कहा था कि कश्मीरी भारत के खिलाफ हैं और दुनिया को यह बात बतानी चाहिए. पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी को ट्विटर ने नोटिस भेजा है. इसके बाद पाकिस्तान की मानवाधिकार मंत्री शिरीन मंजरी ने राष्ट्रपति अल्वी को ट्विटर के अधिकारियों से प्राप्त मेल का स्क्रीन शॉट पोस्ट किया है और कहा कि नोटिस 'सही नहीं है और यह दुर्भाग्यपूर्ण' है. यही नहीं मंजरी ने ट्विटर को मोदी सरकार का मुखपत्र भी बताया.

यह भी पढ़ेंः पाक पीएम इमरान के अलावा इन पाकिस्तानियों ने दी है भारत को परमाणु हमले की गीदड़भभकी

कई और पाकिस्तानी अधिकारियों को मिल चुका नोटिस
संचार मंत्री मुराद सईद ने रविवार को कहा कि माइक्रोब्लॉगिंग साइट से उन्हें भी नोटिस मिला है कि उनके एक ट्वीट से भारतीय कानूनों का उल्लंघन हुआ है. इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने पिछले हफ्ते कहा था कि अधिकारियों ने ट्विटर और फेसबुक के समक्ष मामले को उठाते हुए आरोप लगाया कि कश्मीर के समर्थन में पोस्ट के लिए पाकिस्तानी सोशल मीडिया अकाउंट को बंद किया जा रहा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'कश्मीर के समर्थन में पोस्ट करने के लिए पाकिस्तानी अकाउंट को बंद करने का मामला पाकिस्तानी अधिकारियों ने ट्विटर और फेसबुक के समक्ष उठाया है.'

First Published : 26 Aug 2019, 08:52:48 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×