News Nation Logo
कोविड के खिलाफ लड़ाई में भी भारत और रूस के बीच सहयोग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में 85 फीसदी पात्र आबादी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगा दी गई है: मनसुख मंडाविया दिल्ली में इस साल डेंगू से अब तक 15 मरीजों की मौत बीते 6 साल में डेंगू से मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा शाही ईदगाह मस्जिद की जगह पर भव्य श्रीकृष्ण मंदिर के निर्माण के लिए संकल्प यज्ञ किया गया CM Channi के गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी पहुंचने पर अध्यापकों का ज़ोरदार प्रदर्शन अध्यापकों की मांग - 7वें पे कमीशन की सिफारिशें पंजाब हों लागू ओमिक्रोन के अलर्ट के बीच पटना में 100 विदेशियों की तलाश भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की बाबा साहब आंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस आज. बसपा कर रही बड़ा कार्यक्रम नीट काउंसिलिंग में हो रही देरी के खिलाफ रेजिडेंट डॉक्टर्स आज ठप रखेंगे सेवा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन आज आ रहे भारत. कई समझौतों को देंगे अंतिम रूप पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह आज करेंगे अमित शाह-जेपी नड्डा से मुलाकात.

इटली ने सार्वजनिक परिवहन पर कोरोना नियमों को किया सख्त

इटली ने सार्वजनिक परिवहन पर कोरोना नियमों को किया सख्त

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 17 Nov 2021, 09:35:01 AM
Tourit viit

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

रोम: इटली में सार्वजनिक परिवहन और टैक्सियों में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए नए उपाय मंगलवार से लागू हो गए हैं। अधिकारियों ने कोरोना संक्रमण की चौथी लहर को फैलने से रोकने के लिए यह कदम उठाया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, नए नियमों के तहत, जिन्हें सोमवार को स्वास्थ्य और परिवहन मंत्रियों द्वारा जारी एक डिक्री में हस्ताक्षरित किया गया। उसके अनुसार सभी यात्रियों को लंबी दूरी की और अंतर-क्षेत्रीय ट्रेनों में सवार होने से पहले अपना ग्रीन पास दिखाना होगा।

ग्रीन पास एक प्रमाण पत्र है जो दर्शाता है कि एक व्यक्ति या तो पूरी तरह से प्रतिरक्षित है या उसने कोरोना वायरस वैक्सीन की कम से कम एक खुराक प्राप्त की है और बीमारी से उबर चुका है या बीते 48 घंटे में निगेटिव परीक्षण किया है।

यह नए उपाय रोम, मिलान और फ्लोरेंस सहित देश के सभी प्रमुख ट्रेन स्टेशनों और उन सभी स्टेशनों से संबंधित हैं जहां स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार जांच संभव है।

सरकारी फरमान में यह भी कहा गया कि अगर ट्रेन में सवार किसी यात्री में कोरोना वायरस के लक्षण हैं, तो रेलवे कर्मचारी और पुलिस आपातकालीन हस्तक्षेप के लिए ट्रेन को रोकने का फैसला कर सकते हैं। यह उपाय उन सभी ट्रेनों पर लागू होता है, जिनमें लोकल ट्रेनें भी शामिल हैं और जिन पर यात्रियों को वर्तमान में ग्रीन पास रखने की आवश्यकता नहीं है।

ड्राइवरों के साथ टैक्सी और कार किराए पर लेने की सेवाएं (एनसीसी) अब अधिकतम दो यात्रियों तक सीमित हैं, सिवाय इसके कि यात्री एक ही परिवार के सदस्य हों।

अब तक, कुछ अन्य यूरोपीय देशों की तुलना में चौथी लहर का इटली में समग्र महामारी की स्थिति पर सीमित प्रभाव पड़ा है, लेकिन आंकड़े बताते हैं कि पिछले चार हफ्तों से संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है।

इटली के राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (आईएसएस) की लेटेस्ट रिपोर्ट में पिछले सप्ताह के 53 मामलों की तुलना में नवंबर 5-11 सप्ताह में प्रति 100,000 निवासियों पर 78 मामले दर्ज किए गए हैं।

ये दर्शाता है कि पिछली अवधि में 1.15 की तुलना में 20 अक्टूबर और 2 नवंबर के बीच प्रजनन संख्या (आरटी) 1.21 थी।

एक के ऊपर एक प्रजनन संख्या इंगित करती है कि वायरस तेजी से फैल रहा है और इसका मतलब है कि एक संक्रामक व्यक्ति औसतन संक्रमण को एक से अधिक लोगों तक पहुंचाएगा।

इटालियन स्वास्थ्य अधिकारी टीकाकरण अभियान के साथ आगे बढ़ रहे हैं। विशेष रूप से लोगों को पहले के 6-9 महीने बाद तीसरी टीका खुराक प्राप्त करने की आवश्यकता पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

इसे नए बड़े प्रकोपों के जोखिम को रोकने के सर्वोत्तम तरीके के रूप में देखा जाता है, जो अब पूरी तरह से प्रतिरक्षित लोगों के उच्च प्रतिशत को देखते हुए (15 नवंबर तक 12 वर्ष से अधिक आयु की लक्षित आबादी का 84.2 प्रतिशत) है।

कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोगों के लिए तीसरी खुराक सितंबर से मिलनी शुरू हुई। साथ ही यह अक्टूबर तक जारी रहा और अब यह 60 वर्ष से अधिक आयु वालों को लक्षित कर रहा है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 1 दिसंबर से शुरू होने वाली पहली खुराक से कम से कम छह महीने, 40 से 60 वर्ष की आयु के लोगों को बूस्टर शॉट्स की पेशकश शुरू हो जाएगी।

इटली ने मंगलवार तक कुल 48 लाख कोरोना वायरस के मामले दर्ज किए हैं, जिसमें 132,000 से अधिक घातक और 46 लाख से ज्यादा रिकवर हुए है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 17 Nov 2021, 09:35:01 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो