News Nation Logo
Banner

'मौत' से बचने के लिए शराब पी... खूब पी, फिर भी नहीं बच सके

ईरान में शराब पीने से कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण से मुक्ति की अफवाह ने सैकड़ों लोगों की जान ले ली है.

By : Nihar Saxena | Updated on: 28 Mar 2020, 10:06:33 AM
Iran Corona Alcohol Deaths

कोरोना से बच सकेंगे मौत से, पी शराब फिर भी मर गए. (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

highlights

  • कोरोना संक्रमण से मुक्ति की अफवाह ने सैकड़ों लोगों की जान ले ली.
  • ईरान में मेथनॉल पीने से अब तक करीब 300 लोगों की मौत हुई है.
  • जहरीली शराब से एक हजार से अधिक लोग गंभीर बीमार पड़े हैं.

तेहरान:

ईरान में शराब पीने से कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण से मुक्ति की अफवाह ने सैकड़ों लोगों की जान ले ली है. दरअसल संक्रमण ठीक करने को लेकर सैकड़ों लोगों ने जहरीली शराब का सेवन किया. ईरान में हाल में इस अफवाह के शिकार एक पांच साल के बच्चे को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उसे कोरोना वायरस से बचाने के लिए मां-बाप ने जहरीली मेथनॉल (Methnol) पिलाई जिससे उसके आंखों की रोशनी चली गई. इस बच्चे का मामला कोरोना वायरस की महामारी में जकड़े ईरान (Iran) में अफवाह के शिकार हुए सैकड़ों लोगों में एक बानगी भर है.

यह भी पढ़ेंः प्रधानमंत्री से लेकर फिल्म स्टार तक, जानें कौन-कौन है कोरोना वायरस की चपेट में

मेथनॉल पीने से 300 मरे
ईरानी मीडिया के मुताबिक अब तक देश में मेथनॉल पीने से करीब 300 लोगों की मौत हुई है और एक हजार से अधिक लोग गंभीर बीमार हुए हैं जबकि इस्लामिक देश ईरान में शराब पीने पर रोक है. स्वास्थ्य मंत्री की सहायता कर रही एक ईरानी डॉक्टर ने शुक्रवार को बताया कि समस्या इससे बड़ी है जिसमें करीब 480 लोगों की मौत हुई है 2,850 लोग बीमार हुए हैं. ईरानी स्वास्थ्य मंत्रालय के सलाहकार डॉ. हुसैन हसनियन के मुताबिक अन्य देशों की एक ही समस्या कोरोना वायरस की महामारी है लेकिन हम दो मोर्चों पर लड़ रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः 2020-21 में 2 फीसदी घट सकती है भारत की GDP ग्रोथ, पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा का बड़ा बयान

दो मोर्चों पर लड़ रहा ईरान
उन्होंने कहा, 'हमें जहरीली शराब पीने से बीमार लोगों के साथ कोरोना वायरस से भी लड़ना पड़ रहा है.' ईरानी सोशल मीडिया में फारसी भाषा में फर्जी खबर चल रही है जिसमें दावा किया गया है कि एक ब्रिटिश स्कूल शिक्षक और अन्य लोग व्हिस्की और शहद के सेवन से कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त हो गए. उल्लेखनीय है कि ईरान में करीब 29 हजार लोगों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है जबकि 2,200 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जो पश्चिम एशिया के किसी देश में कोरोना वायरस से हुई सबसे अधिक मौतें हैं.

First Published : 28 Mar 2020, 10:06:33 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×