News Nation Logo
आंतरिक सुरक्षा पर राज्यों के IG और DGP के साथ आज अमित शाह की बैठक कश्मीर में एक और आतंकी साजिश का अलर्ट, सुरक्षा बढ़ाई गई दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने “रेड लाईट ऑन, गाड़ी ऑफ” अभियान की शुरुआत की पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में कैबिनेट की बैठक हुई महाराष्ट्रः कल्याण की आधारवाड़ी जेल में 20 कैदी कोरोना पॉजिटिव आर्यन खान पर NCB का बड़ा बयान, आर्यन की काउंसिलिंग की गई आर्यन ने दोबारा गलती न करने की बात कही: NCB रिहाई के बाद गरीबों के लिए काम करेंगे आर्यन खान: NCB कांग्रेस सिर्फ एक परिवार की पार्टी है: संबित पात्रा कश्मीर पर कांग्रेस भ्रम फैला रही है: संबित पात्रा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं से सावधानी बरतने की अपील की भाजपा कार्यालय में हो रही राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक का पहला चरण खत्म किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर मोदी नगर (उ.प्र.) में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोकी ISI Chief पर बीवी के टोटके पर अड़े इमरान, पाक सेना के जनरल ने लगाई लताड़ संयुक्त किसान मोर्चा के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर प्रदर्शनकारी बहादुरगढ़ में रेलवे ट्रैक पर बैठे दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भी बारिश का दौर जारी. जगह-जगह जलभराव

अफगानिस्तान में विरोधी गुट दाएश को तालिबान ने बताया 'सिरदर्द', कहा-जल्द करेंगे खात्मा

अफगानिस्तान में जबरन स्थापित तालिबान राज को कई मुश्किलों क सामना करना पड़ रहा है. आर्थिक बदहाली के साथ कई गुट उसके खिलाफ खड़े हैं। गुरुवार को तालिबान के प्रवक्ता और देश के सूचना और संस्कृति उप मंत्री जबीउल्लाह मुजाहिद ने विरोधी गुट दाएश को लेकर चिंता जताई.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 08 Oct 2021, 08:21:27 AM
taliban

तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद. (Photo Credit: न्यूज़ नेशन)

highlights

  • सूचना और संस्कृति उप मंत्री जबीउल्लाह मुजाहिद ने विरोधी गुट दाएश को लेकर चिंता व्यक्त की.
  • मुजाहिद के अनुसार, अफगानिस्तान के लोग दाएश के समर्थक नहीं हैं. 
  • राजनीतिक विशेषज्ञों के अनुसार बिन समर्थन के दाएश लंबे समय तक लड़ने में सक्षम नहीं होगा.

नई दिल्ली:

अफगानिस्तान में जबरन स्थापित तालिबान राज को कई मुश्किलों क सामना करना पड़ रहा है. आर्थिक बदहाली के साथ कई गुट उसके खिलाफ खड़े हैं। गुरुवार को तालिबान के प्रवक्ता और देश के सूचना और संस्कृति उप मंत्री जबीउल्लाह मुजाहिद ने विरोधी गुट दाएश को लेकर चिंता व्यक्त की. उन्होंने कहा कि इस समूह को जल्द से जल्द खत्म करने की कोशिश होगी. मुजाहिद ने कहा, 'हम दाएश को खतरा नहीं मानते हैं, लेकिन हम इसे सिरदर्द कहते हैं.' यह कुछ जगहों पर हमारे लिए सिरदर्द बना हुआ है। मगर हम जल्द इससे पार पा लेंगे." मुजाहिद के अनुसार, अफगानिस्तान के लोग दाएश के समर्थक नहीं हैं. 

लड़ाई तालिबान के लिए मुश्किलें खड़ी करेगी

हालांकि, राजनीतिक विशेषज्ञों का कहना है कि दाएश अफगानिस्तान के लिए एक गंभीर समस्या है। अगर समूह का मुकाबला करने के लिए जबरदस्त प्रयास नहीं किए गए, तो यह अपनी गतिविधियों का विस्तार करेगा। राजनीतिक विश्लेषक तमीम बाहिस के अनुसार "दाएश के पास अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय समर्थन नहीं है और बिना समर्थन के दाएश लंबे समय तक लड़ने में सक्षम नहीं होगा। हालांकि, दाएश के साथ लड़ाई तालिबान के लिए मुश्किलें खड़ी करेगी।

ये भी पढ़ें: आखिर क्या चाहता है रूस, तालिबानी नेताओं को मॅास्को बुलाया

पाकिस्तानी पत्रकार ताहिर खान का कहना है कि “तालिबान ने खुद कहा कि उन्होंने काबुल और अन्य जगहों पर दाएश के खिलाफ अभियान शुरू किया है। इसका मतलब है दाएश तालिबान के लिए खतरा बनकर उभरा है। हालांकि नंगरहार के कुछ इलाकों में उसे नियंत्रित किया गया था। मगर अब उसकी रणनीति बदल गई है, जिसका मतलब है कि वे अब शहरों पर ध्यान देते हैं।

दाएश लड़ाकों को हिरासत में लिया गया

इस्लामिक अमीरात ने हाल ही में काबुल के पगमान जिले में दाएश से जुड़े चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पूर्वी प्रांत नंगरहार में दो दाएश लड़ाकों को हिरासत में लिया गया था। गौरतलब है कि 15 अगस्त को तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा जमाया था। अफगानिस्तान में तालिबान राज आने के बाद स्थितियां काफी बिगड़ चुकी हैं। यहां पर कई गुट तालिबान का विरोध कर रहे हैं। इसके साथ देश को बड़े देशों से आर्थिक सहायता मिलनी बंद हो चुकी है। तालिबान सरकार के लिए इन हालात से पार पाना कठिन हो गया है।

First Published : 08 Oct 2021, 08:13:07 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो