News Nation Logo

BREAKING

Banner

बच्चों में ‘कोविड-टोज’ के लक्षण कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़े नहीं हो सकते हैं, जानें कैसे

कोविड-19 (Covid-19) महामारी के दौरान बच्चों की त्वचा का लाल हो जाना और सूजन आना कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़ा नहीं हो सकता है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 29 Jun 2020, 07:34:11 PM
mask

कोरोना वायरस (Photo Credit: फाइल फोटो)

लंदन:

कोविड-19 (Covid-19) महामारी के दौरान बच्चों की त्वचा का लाल हो जाना और सूजन आना कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़ा नहीं हो सकता है. बच्चों में इस लक्षण को ‘कोविड-टोज’ नाम से जाना जाता है. एक अध्ययन में पाया गया कि जिन नवजातों में ये लक्षण पाए गए उनकी कोविड-19 की रिपोर्ट नेगेटिव आई. स्पेन के ला फे विश्वविद्यालय अस्पताल के शोधकर्ताओं ने 32 रोगियों पर शोध किया जिनमें 20 बच्चे और किशोर थे. यह शोध नौ अप्रैल और 15 अप्रैल के बीच किया गया.

कोविड-19 पर पहले किए गए शोधों के आधार पर उन्होंने कहा कि त्वचा के इन लक्षणों को किशोरों और बच्चों में सार्स कोव-2 के संभावित लक्षण बताया गया. बहरहाल, जामा डर्मेटोलॉजी पत्रिका में प्रकाशित वर्तमान शोध में ऐसा कोई साक्ष्य नहीं पाया गया जो त्वचा की समस्या का कोविड-19 से संबंध दर्शाता है. अध्ययन में शोधकर्ताओं ने उस प्रणाली को जानने का प्रयास किया जिसके द्वारा त्वचा की समस्या होती है.

इसके लिए उन्होंने रोगियों में कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए आटी-पीसीआर जांच की और लक्षण के संभावित मूल का पता लगाने के लिए रक्त की भी जांच की. अध्ययन के मुताबिक शोधकर्ताओं ने छह रोगियों पर त्वचा उत्तक नमूने का भी विश्लेषण किया. उन्होंने कहा कि 20 रोगियों में से सात बच्चियां और 13 बच्चे थे जिनकी उम्र एक वर्ष से 18 वर्ष के बीच थी.

First Published : 29 Jun 2020, 07:34:11 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×