News Nation Logo
Banner

रूस के प्रयासों से युद्धविराम को राजी हुए आर्मेनिया-अजरबैजान

कई सप्ताह तक चली लड़ाई के बाद नागोर्नो-काराबाख क्षेत्र में आखिरकार आर्मेनिया और अजरबैजान युद्धविराम के लिए सहमत हो गए हैं. इसकी शुरुआत शनिवार से होगी.

By : Nihar Saxena | Updated on: 10 Oct 2020, 01:12:47 PM
Sergey Lavrov

मास्को ने कराया युद्धविराम आर्मेनिया-अजरबैजान में. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

मास्को:

कई सप्ताह तक चली लड़ाई के बाद नागोर्नो-काराबाख क्षेत्र में आखिरकार आर्मेनिया और अजरबैजान युद्धविराम के लिए सहमत हो गए हैं. इसकी शुरुआत शनिवार से होगी. रूस की मध्यस्थता से मॉस्को में 10 घंटे तक चली वार्ता के बाद दोनों देश युद्धविराम के लिए सहमत हुए. रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने यह घोषणा की.

समाचार एजेंसी तास के मुताबिक, लावरोव ने आर्मेनिया और अजरबैजान के विदेश मंत्रियों द्वारा साइन किए गए बयान के हवाले से कहा, 'युद्धबंदियो और अन्य पकड़े गए व्यक्तियों की अदला-बदली के मानवीय उद्देश्य के साथ-साथ सैनिकों के शवों की अदला-बदली पर सहमति के साथ युद्धविराम घोषित किया गया है.'

युद्धविराम की घोषणा लावरोव, अजरबैजान और आर्मेनियाई विदेश मंत्रियों जेहुन बेरामोव और जोहराब मेनात्सकनयान के बीच त्रिपक्षीय वार्ता के बाद हुई, जिसमें नागोर्नो-काराबाख में क्षेत्र में लड़ाई खत्म कराने संबंधी समाधान को लेकर 10 घंटे से अधिक समय तक बातचीत हुई.

डॉक्युमेंट में यह भी कहा गया है कि अजरबैजान और आर्मेनिया नागोर्नो-काराबाख में शांति बहाली पर ओएससीई मिन्स्क समूह के प्रतिनिधियों की मध्यस्थता के साथ व्यावहारिक वार्ता शुरू करने के लिए सहमत हुए हैं.

First Published : 10 Oct 2020, 01:12:47 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो