News Nation Logo

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्‍तान की जमकर फटकार लगाई थी कासिम सुलेमानी ने

आतंकियों को सुरक्षित पनाह देने को लेकर सुलेमानी ने पाकिस्‍तान से कहा था, 'क्या आप, जिसके पास परमाणु बम (Atom Bomb) है, क्षेत्र में कुछ सौ सदस्यों वाले आतंकी समूह को खत्म करने में अक्षम हैं.'

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 04 Jan 2020, 08:58:53 AM
पुलवामा हमले के बाद पाकिस्‍तान की जमकर फटकार लगाई थी कासिम सुलेमानी ने

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्‍तान की जमकर फटकार लगाई थी कासिम सुलेमानी ने (Photo Credit: Twitter)

नई दिल्‍ली:  

पुलवामा (Pulwama) में पिछले साल भारतीय जवानों पर हुए हमले से पहले ईरान के सैनिकों पर भी पाकिस्‍तान के एक आतंकी संगठन ने हमला किया था. अमेरिकी हमले में मारे गए मेजर जनरल कासिल सुलेमानी (Major General Qassim Soleimani) ने पाकिस्‍तान (Pakistan) की जमकर मजम्‍मत की थी. आतंकियों को सुरक्षित पनाह देने को लेकर सुलेमानी ने कहा था, 'क्या आप, जिसके पास परमाणु बम (Atom Bomb) है, क्षेत्र में कुछ सौ सदस्यों वाले आतंकी समूह को खत्म करने में अक्षम हैं.' दूसरी ओर पिछले साल ही दक्षिण-पूर्वी ईरान में 13 फरवरी को इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गा‌र्ड्स कोर (IGRGC-आइआरजीसी) के सदस्यों को ले जा रही बस पर पाकिस्‍तान के आतंकी संगठन जैश अल-अदल समूह ने हमला किया था, जिसमें 37 ईरानी सैनिक मारे गए थे और कई घायल हो गए थे.

यह भी पढ़ें : खुुद को अनुराधा पौडवाल की बेटी बताने वाली केरल की महिला के दावे पर सिंगर ने कही ये बात

तब सुलेमानी ने पाकिस्‍तान को सख्‍त चेतावनी देते हुए कहा था, 'पाकिस्तान ईरान के धैर्य की परीक्षा न ले, जिसने भी ऐसा किया उसे मुंहतोड़ जवाब मिला.' ईरान पर हुए आत्मघाती हमले के अगले दिन 14 फरवरी को पुलवामा में भारतीय अर्धसैनिक बल सीआरपीएफ के काफिले पर भी आत्मघाती हमला हुआ था, जिसमें 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए थे. हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ने ली थी. इसके लगभग 15 दिन बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में जैश के आतंकी अड्डे पर हवाई हमला कर उसे तबाह कर दिया था. बाद के घटनाक्रम में पाकिस्तान लड़ाकू विमान एफ-16 को भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने मार गिराया था.

ईरानी समाचार एजेंसी एफएआरएस के मुताबिक, रिवोल्यूशनरी गा‌र्ड्स पर हुए हमले के बाद सुलेमानी ने 21 फरवरी, 2019 को एक कार्यक्रम में पाकिस्तान को सख्‍त चेतावनी देते हुए कहा था- 'आपने अपने सभी पड़ोसियों के साथ सीमा पर अशांति फैला रखी है, क्या आपका एक भी पड़ोसी ऐसा बचा जिसे आप असुरक्षा के लिए उत्तेजित करना चाहते हैं? आपके पास परमाणु बम है और आप कुछ सौ सदस्यों वाले आतंकी समूहों को खत्म करने में असमर्थ हैं? आतंकी हमलों में आपके कितने लोग मारे गए हैं? हम आपकी सहानुभूति नहीं चाहते हैं, इससे ईरान के लोगों की क्या मदद हो सकती है?'

यह भी पढ़ें : DGP OP सिंह के रिटायरमेंट के बाद कौन संभाले का UP पुलिस की कमान, इन नामों को लेकर चर्चा हुई तेज

दूसरी ओर, ईरान के साथ ही पुलवामा हमले में पाकिस्तान ने अपनी संलिप्तता से इनकार कर दिया था. पुलवामा हमले के बाद तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ईरान के उप विदेश मंत्री सैयद अब्बास अगराच्ची से मुलाकात की थी. अगराच्ची ने ट्वीट कर दोनों हमलों को जघन्य करार देते हुए लिखा था- अब बहुत हुआ.

First Published : 04 Jan 2020, 08:57:01 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.