News Nation Logo

प्रधानमंत्री मोदी और नेपाल के पीएम ने किया इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट का उद्घाटन, कहा- सहयोग से और मजबूत होंगे संबंध

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, भारत पड़ोस के सभी मित्र देशों के साथ यातायात को सरल और आसान बनाने और व्यापार, संस्कृति, शिक्षा जैसे क्षेत्रों में हमारे बीच संपर्क को और अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए प्रतिबद्ध है.

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 21 Jan 2020, 11:56:13 AM
पीएम मोदी और नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली

पीएम मोदी और नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली (Photo Credit: फोटो- ANI)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नेपाल के प्रधान मंत्री केपी शर्मा ओली ने मंगलवार को संयुक्त रूप से जोगबनी-विराटनगर में दूसरे इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट (आईसीपी) का उद्घाटन किया. ये चेक पोस्ट व्यापार और लोगों के आवागमन को सुविधाजनक बनाने के लिए भारत की सहायता से निर्मित किया गया है. इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, भारत पड़ोस के सभी मित्र देशों के साथ यातायात को सरल और आसान बनाने और व्यापार, संस्कृति, शिक्षा जैसे क्षेत्रों में हमारे बीच संपर्क को और अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए प्रतिबद्ध है.

पीएम मोदी ने कहा, भारत और नेपाल कई क्रॉस-बॉर्डर कनेक्टिविटी परियोजनाओं जैसे सड़क, रेल और ट्रांसमिशन लाइनों पर काम कर रहे हैं. हमारे देशों के बीच प्रमुख सीमा बिंदुओं पर इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट आपसी व्यापार और आंदोलन को बहुत सुविधाजनक बना रहे हैं. उन्होंने कहा, 2015 का भूंकप एक दर्दनाक हादसा था. भूकंप जैसी प्राकृत आपदाएं मनुष्य की दृढ़ता और निश्चय की परीक्षा लेती हैं. हर भारतीय को गर्व है कि इस त्रासदी के दुःखद परिणामों का सामना हमारे नेपाली भाइयों और बहनों ने साहस के साथ किया.

यह भी पढ़ें: दिल्ली विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने उम्मीदवारों की तीसरी और आखिरी लिस्ट जारी की

पीएम मोदी ने आगे कहा, यह बहुत संतोष का विषय है कि भारत-नेपाल सहयोग के अंतर्गत पचास हज़ार में से पैतालीस हज़ार घरों का निर्माण हो चुका है. हमारी आशा है कि बाकी घरों का निर्माण भी शीघ्र पूरा होगा और इन घरों को नेपाली भाइयों और बहनों को जल्दी ही समर्पित किया जा सकेगा.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, मेरी कामना है कि नए वर्ष में आपके सहयोग और समर्थन से हम अपने संबंधों को और ऊंचाई पर ले जाएं और यह नया दशक भारत-नेपाल संबंधों का स्वर्णिम दशक बने. मेरी सरकार इस ओर भारत सरकार के साथ मिलकर काम करने के लिए प्रतिबद्ध है

यह भी पढ़ें: CM केजरीवाल के सामने उम्मीदवार बदल सकती है BJP, सुनील यादव का कट सकता है टिकट : सूत्र

वहीं इसके बाद नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने कहा कि, अब समय आ गया है भारत-नेपाल के बीच बातचीत के जरिए लंबित पड़े मुद्दों का हल निकाला जाए.

First Published : 21 Jan 2020, 11:54:42 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.