News Nation Logo
Banner

भारत और फ्रांस की मित्रता पूरी तरह से अटूट, हमारे संबंध दोस्‍ती से भी बढ़कर: पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा, हमने पिछले 5 वर्षों में कुछ ऐसे Goal रखे, जो पहले नामुमकिन माने जाते थे, लेकिन Team Spirit की भावना से हमने उन लक्ष्यों को प्राप्त करके दिखाया है.

By : Sunil Mishra | Updated on: 23 Aug 2019, 05:04:44 PM

नई दिल्ली:

फ्रांस की राजधानी पेरिस में शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा, भारत और फ्रांस की मित्रता पूरी तरह से अटूट है. भारत-फ्रांस के संबंध दोस्‍ती से भी बढ़कर है. जब फ्रांस ने विश्‍वकप जीता था तो भारत में भी बढ़-चढ़कर जश्‍न मनाया गया था. हमारी दोस्ती किसी स्वार्थ पर नहीं, बल्कि ‘लिबर्टी, इक्वलिटी और फ्रेटरनिटी’ के ठोस आदर्शों पर टिकी है. फ्रांस में एयर इंडिया के दो विमान हादसों में कई भारतीय यात्रियों का निधन हुआ था. इनमें भारत के महानतम वैज्ञानिकों में से एक डा होमी जहांगीर भाभा भी थे. जिन्‍होंने इस हादसे में अपने प्राण गंवाए, उन्‍हें मैं श्रद्धांजलि देता हूं. इस समय पूरा पेरिस राममय हो गया है. मैं फ्रांस की सरकार, राष्ट्रपति मैक्रों, और फ्रांस की जनता का मुझे आमंत्रित करने और आप सभी से मिलने का अवसर देने के लिए आभार व्यक्त करता हूं.

आप भी सुनें पीएम नरेंद्र मोदी का पूरा भाषण

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, मैंने पहले कहा था कि भारत आशाओं और आकाक्षांओं के सफर पर निकलने वाला है. आज मैं आपसे नम्रता से कहना चाहता हूं कि हम न सिर्फ उस सफर पर निकल चुके हैं, बल्कि 130 करोड़ देशवासियों के प्रयासों से भारत तेज गति से विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है. भारत में पिछले पांच सालों में ढेर सारे सकारात्मक बदलााव हुए हैं. इन बदलावों के केंद्र में भारत की युवा शक्ति, भारत के गांव, गरीब, किसान और नारी शक्ति इसके केंद्र बिंदु में रहे हैं.

यह भी पढ़ें : VIDEO : ऐसा अद्भुत कैच कभी नहीं देखा होगा, आंखों पर भरोसा करना मुश्‍किल

पीएम मोदी बोले, ये जनादेश सिर्फ एक सरकार चलाने के लिए नहीं, बल्कि नए भारत के निर्माण के लिए है. ऐसा नया भारत जिसकी समृद्ध सभ्यता और संस्कृति पर पूरे विश्व को गर्व हो, और जो 21वीं सदी की आधुनिकता को भी लीड करे. मैंने पहले कहा था कि भारत आशाओं और आकांक्षाओं के सफर पर निकलने वाला है. आज मैं आपसे नम्रता से कहना चाहता हूं कि हम न सिर्फ उस सफर पर निकल चुके हैं, बल्कि 130 करोड़ देशवासियों के प्रयासों से भारत तेज गति से विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है.

प्रधानमंत्री ने कहा, हमने पिछले 5 वर्षों में कुछ ऐसे Goal रखे, जो पहले नामुमकिन माने जाते थे, लेकिन Team Spirit की भावना से हमने उन लक्ष्यों को प्राप्त करके दिखाया है. पूरी दुनिया में एक तय समय में सबसे ज्यादा बैंक अकाउंट अगर किसी देश में खुले हैं, तो वो भारत है. पूरी दुनिया की अगर आज सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा की स्कीम किसी देश में चल रही है, तो उस देश का नाम भारत है.

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान के ऊपर से PM Modi ने भरी उड़ान, हलक में आई पड़ोसी की जान

प्रधानमंत्री ने कहा, आज नए भारत में भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, परिवारवाद, जनता के पैसे की लूट, आतंकवाद पर जिस तरह लगाम कसी जा रही है वैसा पहले कभी नहीं हुआ. नए भारत में थकने, रुकने का सवाल ही पैदा नहीं होता. नई सरकार को बने ज्यादा दिन नहीं हुए हैं, अभी सिर्फ 75 दिन ही हुए हैं. स्पष्ट नीति और सही दिशा से प्रेरित होकर एक के बाद एक कई बड़े फैसले लिए गए हैं. नई सरकार बनते ही जल शक्ति के लिए एक नए मंत्रालय को बनाया गया. 

पीएम मोदी ने कहा, आज अगर भारत और फ्रांस दुनिया के बड़े खतरों से लड़ने में नजदीकी सहयोग कर रहे हैं तो उसका कारण भी यह साझा मूल्य ही है. चाहे वह आंतकवाद हो या फिर क्लाइमेट चेंज. आप सभी जानते हैं कि 7 सितंबर को हम सभी का चंद्रयान-2 चांद पर उतरने वाला है. इस उपलब्धि के बाद भारत चांद पर उतरने वाला दुनिया का चौथा देश बन जाएगा.

यह भी पढ़ें : जेट एयरवेज के मुंबई और दिल्‍ली स्‍थित ऑफिसों पर प्रवर्तन निदेशालय ने की छापेमारी

पीएम बोले, भारत और फ्रांस एक दूसरे के लिए लड़े भी हैं और जिए भी हैं. दोनों देशों ने कंधे से कंधा मिलाकर दुश्मनों से मुकाबला किया है. यही वो धरती है जहां प्रथम विश्व युद्ध में 9000 भारतीय सैनिकों ने फ्रांस के सैनिकों के साथ मानवता के पक्ष में लड़ते हुए अपने प्राणों की आहुति दे दी. भारत और फ्रांस की दोस्ती ठोस आदर्शों पर बनी है. दोनों देशों के चरित्र का निर्माण ‘लिबर्टी, इक्वलिटी और फ्रेटरनिटी’ के साझा मूल्यों से हुआ है. आज अगर भारत और फ्रांस दुनिया के बड़े खतरों से लड़ने में नजदीकी सहयोग कर रहे हैं तो उसका कारण भी यह साझा मूल्य ही है.

प्रधानमंत्री ने कहा, दुनिया में climate change की बातें तो बहुत होती है मगर उन पर कार्य होता हुआ कम ही दिखाई देता है. हमने राष्ट्रपति मेक्रों के साथ मिलकर International Solar Alliance की पहल की. 21वीं सदी में INFRA की बात होती है. मेरा INFRA का मतलब है- IN यानि INDIA और FRA यानि FRANCE. Solar Infra से लेकर Social Infra तक,  Technical Infra से लेकर Space Infra तक,  Digital Infra से लेकर Defence Infra तक. भारत और फ्रांस का Alliance मजबूती से आगे बढ़ रहा है.

प्रधानमंत्री मोदी बोले, फ्रांस में रहने वाले भारतवासियों का भारत से रिश्ता मिट्टी का है, तो फ्रांस से आपका मेहनत का नाता है. आपकी सफलताएं फ्रांस के लिए गौरव का विषय हैं, साथ ही ये भारत को भी गौरवांवित करती हैं. 

यह भी पढ़ें : पीएम नरेंद्र मोदी को आज मिलेगा UAE का सर्वोच्‍च नागरिक सम्‍मान, ये देश भी दे चुके हैं अवाॅर्ड

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, आमतौर पर नेताओं को वादा भुला देने में मजा आता हैं, लेकिन मैं उस बिरादरी से नहीं हूं। मैं खुद वादा याद कराता हूं. मैंने पहले कहा था कि भारत आशाओं-आकांक्षाओं के सफर पर निकलने वाला है. आज मैं आपसे कहना चाहता हूं कि भारत तेज गति से विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है.  ये जनादेश सिर्फ एक सरकार चलाने के लिए नहीं, बल्कि नए भारत के निर्माण के लिए है. ऐसा नया भारत जिसकी सभ्यता और समृद्धि पर विश्व को गर्व हो और जो 21वीं सदी की आधुनिकता को लीड करे. ऐसा नया भारत जिसका फोकस Ease of Doing Business पर हो और जो Ease of Living भी सुनिश्चित करे.

पीएम मोदी बोले, ट्रिपल तलाक की अमानवीय कुरीति को खत्म कर दिया गया है. कोई माने या न माने, कोई लिखे या न लिखे, कोई बोले या न बोले, कोई बोल पाए या न बोल पाए, लेकिन इन करोड़ों बेटियों का आशीर्वाद आने वाली सदियों तक भारत का भला करने वाला है. 

First Published : 23 Aug 2019, 02:22:43 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.