News Nation Logo
Banner

पीएम मोदी ने मालदीव के नए राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह से कहा, द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करेंगे

मालदीव के नए राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे पीएम मोदी ने कहा कि भारत और मालदीव के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने की दिशा में काम करेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Saketanand Gyan | Updated on: 17 Nov 2018, 07:49:11 PM
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मालदीव के नए राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह (फोटो : @PMOIndia)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मालदीव के नए राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह (फोटो : @PMOIndia)

माले:

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने माले में मालदीव के नए राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह के शपथ ग्रहण समारोह में भाग लिया. सोलिह ने मालदीव के 7वें राष्ट्रपति के रूप में कार्यभार संभाला. शपथ ग्रहण के तुरंत बाद पीएम मोदी और इब्राहिम सोलिह के बीच बातचीत भी हुई. पीएम मोदी ने कहा कि भारत और मालदीव के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने की दिशा में काम करेंगे.

शपथ ग्रहण के बाद प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, 'मालदीव के राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने पर इब्राहिम मोहम्मद सोलिह को बधाई. उनके कार्यकाल के लिए बहुत शुभकामनाएं. दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने की दिशा में काम करेंगे.'

इसके अलावा मालदीव के राष्ट्रपति सोलिह ने अपने संबोधन में कहा कि भारत के साथ मौजूदा संबंधों को मजबूत करने का प्रयास करेंगे.

बता दें कि 23 सितंबर को राष्ट्रपति चुनाव में सोलिह की जीत के बाद दोनों पक्षों के बीच फोन पर हुई बातचीत के दौरान शपथ ग्रहण समारोह के लिए पीएम मोदी को आमंत्रित किया गया था.

विपक्षी मालदीव डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार सोलिह ने राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन पर जीत दर्ज की थी. उनका कार्यकाल 2023 तक होगा. भारत ने मालदीव में राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों का स्वागत किया था और दोनों पक्षों ने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के लिए नजदीकी रूप से कार्य करने पर सहमति जताई थी.

और पढ़ें : चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा, अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध में कोई नहीं जीतेगा

राजनीतिक उथल-पुथल के बीच 23 सितंबर को राष्ट्रपति पद के लिए हुए चुनाव में विपक्ष के उम्मीदवार इब्राहिम मोहम्मद सोलिह को विजेता घोषित किया गया था और सत्तासीन राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन को अपनी हार स्वीकार करनी पड़ी थी.

मालदीव में करीब 22,000 भारतीय मूल के लोग निवास करते हैं और चीन से इसकी नजदीकी बढ़ने के कारण नई दिल्ली के लिए इसका रणनीतिक महत्व है. मालदीव में 2008 में संविधान लागू होने के बाद यह तीसरा लोकतांत्रिक चुनाव था.

First Published : 17 Nov 2018, 07:47:28 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो