News Nation Logo
Banner

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान को ‘शांतिपूर्ण पड़ोस’ की जरूरत, बताई अपनी विदेश नीति की प्राथमिकता

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से कहा कि भारत के साथ सामान्य रिश्ते दोनों मुल्कों के लिए फायदेमंद हैं

BHASHA | Updated on: 23 Jul 2019, 05:52:28 PM

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से कहा कि भारत के साथ सामान्य रिश्ते दोनों मुल्कों के लिए फायदेमंद हैं और ‘शांतिपूर्ण पड़ोस’ उनकी विदेशी नीति की प्राथमिकता है. विदेश कार्यालय के मुताबिक, प्रधानमंत्री खान एवं ट्रंप के बीच सोमवार को व्हाइट हाउस में हुई बैठक 2015 के बाद पाकिस्तान और अमेरिका के बीच शिखर सम्मेलन स्तरीय वार्ता है.

खान ने ट्रंप के साथ अपनी बातचीत में रेखांकित किया, ‘‘पाकिस्तान जम्मू कश्मीर के असल विवाद समेत लंबे वक्त से विवादित सभी मसलों को बातचीत और कूटनीति के जरिए हल करना जारी रखेगा. ’’ खान अमेरिका की तीन दिन की यात्रा पर गए हुए हैं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की विदेश नीति की प्राथमिकता ‘ शांतिपूर्ण पड़ोस’ है.

यह भी पढ़ेंः जब Twitter पर पकड़ा गया अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का झूठ, दुनिया के सामने हुई थी बेइज्जती

विदेश कार्यालय ने बताया कि क्षेत्र में शांति और स्थिरता कायम रहने से पाकिस्तान विकास तथा क्षेत्रीय कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने के लिए अपने समृद्ध मानव संसाधन का इस्तेमाल कर सकता है. विदेश कार्यालय ने बताया, ‘‘ प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान का मानना है कि भारत के साथ रिश्ते सामान्य होना दोनों मुल्कों के लिए फायदेमंद होगा. ’’

यह भी पढ़ेंः कंगाल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने भारत के परमाणु हथियारों को लेकर कही ये बड़ी बात

राष्ट्रपति ट्रंप भी ‘कश्मीर विवाद के हल के लिए भूमिका निभाने को’ तैयार हैं. उन्होंने अफगान शांति और सुलह प्रक्रिया की भी समीक्षा की. विदेश कार्यालय ने बताया, ‘‘ प्रधानमंत्री खान ने दोहराया कि पाकिस्तान प्रक्रिया का समर्थन करना जारी रखेगा. उन्होंने कहा कि प्रक्रिया को जारी रखना साझी जिम्मेदारी है. ’’

यह भी पढ़ेंः कितना झूठा है अमेरिका का राष्ट्रपति, ढाई साल के कार्यकाल में 10,796 बार की गलतबयानी

पाकिस्तान के शिष्टमंडल में सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा और आईएसआई के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल फैज़ हमीद शामिल हैं. विदेश कार्यालय ने बताया कि राष्ट्रपति ट्रंप ने पाकिस्तान की यात्रा करने का खान का न्योता स्वीकार कर लिया है. इस बीच, मंगलवार को पाकिस्तानी मीडिया ने कश्मीर के मुद्दे पर ट्रंप की पेशकश को अच्छी कवरेज दी है.

यह भी पढ़ेंः भारत ने डोनाल्‍ड ट्रंप के दावे को खारिज किया, विदेश मंत्री बोले- पीएम नरेंद्र मोदी ने कभी ऐसा कुछ नहीं कहा

इस मुद्दे से संबंधित खबरों को पहले पन्ने पर छापा गया है. ‘डॉन’ अखबार ने खबर दी है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने कश्मीर मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता की पेशकश की है.पहले पन्ने पर छपी खबर की सुर्खी ‘ ट्रंप ने मोदी के अनुरोध पर कश्मीर पर मध्यस्थता की पेशकश की. ’’ ‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ ने खबर की सुर्खी दी है, ‘‘ ट्रंप ने भारत और पाकिस्तान के बीच दशकों पुराने विवाद पर मध्यस्थता की पेशकश की जो मुद्दे को द्विपक्षीय बताने की अमेरिका की पुरानी नीति में बदलाव का संकेत. ’’

First Published : 23 Jul 2019, 05:52:28 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो