News Nation Logo

जाधव की पत्नी और मां केे वीजा को पाकिस्तान सरकार ने किया मंजूर

पाकिस्तान ने आज कहा कि कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां के वीजा का आवेदन मिले है और उन पर ‘कार्यवाही' चल रही है।

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Singh | Updated on: 17 Dec 2017, 09:36:37 AM
कुलभूषण जाधव (फाइल फोटो)

कुलभूषण जाधव (फाइल फोटो)

highlights

  • पाक कर रहा है जाधव की पत्नी और मां के वीजा आवेदन पर कार्यवाही
  • पाकिस्तान में जाधव को सुनाई गई है मौत की सजा

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के वीजा को मंजूरी दे ही है। भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव कथित जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की जेल में बंद हैं।

जाधव को वहां की सैन्य अदालत फांसी की सजा सुना चुकी है। हालांकि भारत ने इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) में इसके खिलाफ अपील की, जिसके बाद अदालत ने उनकी फांसी की सजा पर रोक लगा दी।

गौरतलब है कि जाधव तक राजनयिक पहुंच मुहैया कराने की भारत की अपील को ठुकराने के बाद पाकिस्तान ने साफ किया था कि वह उनकी पत्नी और मां के वीजा के आवेदन पर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

जाधव से उनकी मां और पत्नी 25 दिसंबर को मिलने जा रहे हैं।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने इस बात की ट्वीट कर पुष्टि की। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि जाधव के परिवार वालों ने वीजा के लिए आवेदन किया है।

फैसल ने ट्वीट किया, 'कमांडर जाधव की मां और पत्नी के वीजा आवेदन मिले हैं जो मानवीय आधार पर आना चाहते हैं।'

उन्होंने आगे कहा कि वीजा आवेदन पर 'कार्यवाही' चल रही है। हालांकि वीजा की मंजूरी की कोई समयसीमा नहीं बताई।

बुधवार को पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) में कुलभूषण जाधव को राजनयिक मदद मुहैया कराने की भारत की अपील को मानने से इनकार कर दिया था।

पाकिस्तान ने इस दौरान कहा कि भारत कुलभूषण से खुफिया जानकारी लेना चाहता है इसलिए कुलभूषण के लिए राजनयिक मदद की बातें की जा रही हैं।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान ने 43 भारतीय मछुआरों को किया गिरफ्तार, नाव किया जब्त

बता दें कि पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने इसी साल अप्रैल महीने में भारतीय नौसेना के रिटायर कुलभूषण जाधव को कथित जासूसी के केस में मौत की सजा सुनाई थी। इसके बाद भारत ने आईसीजे का रुख किया था।

इस दौरान आईसीजे ने अंतिम फैसला आने तक कुलभूषण जाधव की मौत की सजा पर रोक लगाने का फैसला सुनाया था। वहीं कुलभूषण जाधव के मामले में भारत ने आईसीजे में दलील रखी थी कि वह एक भारतीय नौसेना से रिटायर हुए नागरिक हैं, उन्होंने पाकिस्तान ने ईरान से अगवा किया है।

इसे भी पढ़ें: ओबामा राज में H-1B वीजा में मिली छूट को ख़त्म करेगा ट्रंप प्रशासन

First Published : 17 Dec 2017, 05:16:16 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Kulbhushan Jadhav