News Nation Logo
Banner

PAK के PM इमरान खान ने हिंदुओं को दी दिवाली की बधाई, कही ये बड़ी बात

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan PM Imran Khan) ने शनिवार को देश के अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय को रोशनी के पर्व दिवाली की बधाई दी. उन्होंने अपनी शुभकामनाएं ट्विटर पर सादे संदेश में दिया.

By : Deepak Pandey | Updated on: 14 Nov 2020, 02:58:53 PM
imrankhan

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (Photo Credit: फाइल फोटो)

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan PM Imran Khan) ने शनिवार को देश के अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय को रोशनी के पर्व दिवाली की बधाई दी. उन्होंने अपनी शुभकामनाएं ट्विटर पर सादे संदेश में दिया. इमरान खान ने लिखा कि हमारे सभी हिंदू नागरिकों को दिवाली की शुभकामनाएं. उल्लेखनीय है कि पूरे पाकिस्तान में हिंदू समुदाय के लोग अपने-अपने घरों और मंदिरों को सजाकर हर्षोल्लास और पारंपरिक उत्साह से दिवाली मना रहे हैं.

जियो न्यूज ने बताया कि मंदिरों में विशेष पूजा होगी और लोगों के बीच मिठाइयां बांटी जाएंगी. हिंदू समुदाय के लोग रात को दीये जलाएंगे और पटाखे जलाकर त्योहार मनाएंगे. खबरों के मुताबिक कराची, लाहौर और अन्य शहरों के अलावा मटियारी, तांडो अल्लाहयार, टांडो मुहम्मद खान, जमशोरो बादिन, संघार, हाला, टांडा आदम और शहादपुर में भी दिवाली मनाई जा रही है.

पाकिस्तान में हिंदू सबसे बड़ा अल्पसंख्यक समुदाय है और आधिकारिक आकलन के मुताबिक देश में करीब 75 लाख हिंदू रहते हैं. हालांकि, समुदाय देश में 90 लाख हिंदुओं के होने की बात करता है.

पाकिस्तानी सुरक्षा संस्थाओं को निशाना बनाकर शरीफ ने किया सबसे बड़ा देशद्रोह: प्रधानमंत्री इमरान खान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके नवाज शरीफ पर आरोप लगाया है कि उन्होंने देश की सुरक्षा संस्थाओं को निशाना बनाकर 'सबसे बड़ा देशद्रोह' किया है. पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के 70 वर्षीय सर्वोच्च नेता शरीफ को 2017 में भ्रष्टाचार के आरोप में उच्चतम न्यायालय ने सत्ता से बेदखल कर दिया था.

शरीफ ने पिछले महीने पहली बार सीधे तौर पर सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और आईएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद का नाम लेकर उन पर खान की जीत सुनिश्चित करने के लिए 2018 के आम चुनाव में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया था. 

शरीफ ने 16 अक्टूबर को पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) के बैनर तले विपक्षी दलों द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित की गई एक रैली के दौरान यह बयान दिया था. इसमें उन्होंने लंदन से ऑनलाइन भाग लिया था. इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार को हटाने के मकसद से पीडीएम की स्थापना की गई है. 

First Published : 14 Nov 2020, 02:58:53 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.