News Nation Logo
Banner

आतंकी पाकिस्तान को लेकर डर रहा है ब्रिटेन भी, प्रिंस विलियम-कैट मिडिलटन का दौरा 14 से

आतंकवाद की खेती करने वाले पाकिस्‍तान में सुरक्षा हालातों को लेकर ब्रिटेन तक चिंतित है. हालांकि इसकी वजह बना है प्रिंस विलियम और केट मिडिलटन का 14 अक्‍टूबर से पांच दिवसीय पाकिस्‍तान दौरा.

By : Nihar Saxena | Updated on: 05 Oct 2019, 07:29:13 PM
13 साल बाद पाकिस्तान के दौरे पर आ रहा ब्रिटिश राजशाही का कोई सदस्य.

highlights

  • जलवायु परिवर्तन का प्रभाव जानने के लिए कर रहे हैं ब्रिटेन का दौरा.
  • 13 साल बाद ब्रिटेन के शाही परिवार का सदस्य कर रहा है पाक का दौरा.
  • कश्मीर मसले पर जारी तनाव के बीच दौरा रद होने की भी लग रही अटकलें.

नई दिल्ली:

पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम इमरान खान भले ही इस्लामिक आतंकवाद पर 'इस्लामोफोबिया' के नाम से पर्दा डालने की कोशिश कर रहे हों, लेकिन पूरी दुनिया जानती है कि आतंकवाद के लिए उर्वरा धरती दुनिया भर में सिर्फ और सिर्फ पाकिस्तान ही है. यही वजह है कि आतंकवाद की खेती करने वाले पाकिस्‍तान में सुरक्षा हालातों को लेकर ब्रिटेन तक चिंतित है. हालांकि इसकी वजह बना है प्रिंस विलियम और केट मिडिलटन का 14 अक्‍टूबर से पांच दिवसीय पाकिस्‍तान दौरा. ब्रिटिश शाही परिवार का निवास रहे केन्सिंग्टन पैलेस ने कहा है कि सुरक्षा कारणों को लेकर यह दौरा बेहद जटिल होगा.

यह भी पढ़ेंः इंडियन आर्मी का पराक्रम देखकर बौखलाया चीन, अरुणाचल प्रदेश में किया ऐसे विरोध

जलवायु परिवर्तन का प्रभाव जानने को कर रहे हैं दौरा
केन्सिंग्टन पैलेस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि विदेश और राष्ट्रमंडल कार्यालय के अनुरोध पर कैंब्रिज के राजकुमार और मलिका 14 अक्टूबर से 18 अक्टूबर के बीच पाकिस्तान का आधिकारिक दौरा करेंगे. इस दौरे में प्रिंस विलियम और केट मिडिलटन यह जानने की कोशिश करेंगे कि जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के लिहाज से स्थानीय समुदाय के लोग कैसे ढल रहे हैं. इस दौरान प्रिंस विलियम और केट मिडिलटन ज्यादा से ज्यादा लोगों से मिलने की कोशिश करेंगे. यह शाही जोड़े का पहला पाकिस्तानी दौरा होगा.

यह भी पढ़ेंः दो महीने बाद कश्मीर में नजरबंद फारूक और उमर अब्दुल्ला से मिल सकेंगे NC नेता, सरकार ने दी अनुमति

लोगों से मेल-जोल होने के कारण सुरक्षा को लेकर ब्रिटेन चिंतित
पाकिस्तान की अपनी इस यात्रा के दौरान प्रिंस विलियम और केट मिडिलटन इस्लामाबाद, लाहौर के साथ साथ पाकिस्‍तान के उत्‍तरी ग्रामीण क्षेत्रों और पश्चिम के बीहड़ों की सीमा का दौरा करेंगे. यात्रा के दौरान दोनों बच्चों, सरकारी अधिकारियों, कारोबारियों, सेवा के कामों से जुड़े कार्यकर्ताओं के साथ साथ सांस्कृतिक और खेल क्षेत्र की हस्तियों के साथ बातचीत भी करेंगे. इससे पहले साल 2006 में महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के बेटे और विलियम के पिता प्रिंस चा‌र्ल्स और उनकी पत्नी कैमिला भी पाकिस्‍तान का दौरा कर चुके हैं. यही नहीं एलिजाबेथ द्वितीय ने भी साल 1961 और 1997 में दो बार पाकिस्तान का दौरा किया था.

यह भी पढ़ेंः सड़क पर प्रेमी जोड़ा कर रहा था यह काम, Google स्ट्रीट व्यू ने खोल दिया राज

13 साल बाद हो रहा ब्रिटेन के शाही सदस्य का दौरा
हालांकि एक महीने पहले ऐसी खबरें आई थीं कि भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर के मसले पर बढ़े तनाव से ब्रिटेन के प्रिंस विलियम और उनकी पत्नी केट मिडलटन अपना पाकिस्तान दौरा रद कर सकते हैं. हालांकि, पाकिस्‍तान में उनकी सुरक्षा को लेकर अभी भी चिंता बनी हुई है. शाही परिवार ने विगत जून महीने में दोनों के पाकिस्तान दौरे का ऐलान किया था. आंकड़ों पर नजर डालें लगभग 13 साल बाद ब्रिटेन के शाही परिवार के किसी सदस्य का पाकिस्तान जाने का कार्यक्रम बना है. ऐसे में उनकी सुरक्षा को लेकर ब्रिटेन का शाही घराने का चिंतित होना समझ में भी आता है.

First Published : 05 Oct 2019, 07:29:13 PM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.