News Nation Logo
Banner

पाक की नापाक साजिशः सीमा पार आतंकी लॉन्च पैड सक्रिय, जैश के 300 आतंकी मौजूद

इन लांचिंग पैड पर मौजूद करीब तीन सौ आतंकियों में से 50 अफगानी मूल के हैं और सभी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हैं.

By : Nihar Saxena | Updated on: 11 Jan 2020, 09:10:50 AM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

highlights

  • पाकिस्तान ने आतंकियों के करीब 50 लांचिंग पैड फिर से सक्रिय कर दिए हैं.
  • तीन सौ आतंकियों में से 50 अफगानी हैं और सभी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हैं.
  • पाक सेना भारतीय इलाके में घुसपैठ के लिए उचित मौका तलाश रही है.

नई दिल्ली:

अपने जन्म से पहले ही भारत को कट्टर शत्रु मान चुके पाकिस्तान का स्यापा जारी है. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने सरीखे आंतरिक मसलों पर अपनी टांग अड़ाने के साथ ही साथ पाकिस्तान ने छद्म युद्ध को जारी रखने के लिए खूनखराबा करने और नियंत्रण रेखा पर भारतीय सेना पर बैट हमलों को अंजाम देने के लिए आतंकियों के करीब 50 लांचिंग पैड फिर से सक्रिय कर दिए हैं. इन लांचिंग पैड पर मौजूद करीब तीन सौ आतंकियों में से 50 अफगानी मूल के हैं और सभी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हैं. यह आतंकी गणतंत्र दिवस के आसपास जम्मू-कश्मीर समेत देश के कई राज्यों में आतंकी गतिविधि को अंजाम देने की फिराक में हैं.

यह भी पढ़ेंः भारत से 'विनाशपूर्ण जंग' को रोकने पाकिस्तान ने सुरक्षा परिषद से लगाई गुहार, फिर आलापा कश्मीर राग

नीलम घाटी में भारी जमावड़ा
भारतीय खुफिया एजेंसियों ने अपने तंत्र के जरिए पाकिस्तानी सेना की इस साजिश का पता लगाया है. खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, इन लांचिंग पैड में से अधिकांश उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पार गुलाम कश्मीर की नीलम घाटी इलाके में हैं. इन आतंकियों को पाकिस्तानी सेना और उसकी खुफिया एजेंसी के अधिकारियों ने ट्रेनिंग दी है. पाकिस्तानी सेना इन्हें भारतीय इलाके में घुसपैठ कराने के लिए उचित मौका तलाश रही है. खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, यह आतंकी 26 जनवरी के आसपास भारतीय क्षेत्र में दाखिल होकर जम्मू-कश्मीर सहित देश के अन्य भागों में विध्वंसकारी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए तैयार किए गए हैं.

यह भी पढ़ेंः Kannauj Bus Accident : अगर प्रशासन कुम्भकरण की तरह न सोता तो मौत की टक्कर न होतीकन्नौज Live Update

अजहर मसूद का भाई रउफ रच रहा साजिश
हाल ही में क्रियाशील हुए लांचिंग पैड में से अधिकांश नीलम, लीपा और टंगडार घाटी में हैं. इनमें से अधिकांश लांचिंग पैड बीते साल फरवरी में भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए बालाकोट हमले के बाद बंद हो गए थे. खुफिया एजेंसियों ने बताया कि जैश सरगना अजहर मसूद का भाई रऊफ असगर भारत में किसी बड़े हमले को अंजाम देना चाहता है. बीते कुछ दिनों के दौरान वह इन लांचिंग पैड पर जमा हुए आतंकियों से दो बार मिलने पहुंचा है. पाकिस्तान की इस साजिश को नाकाम बनाने के लिए सभी एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है. जम्मू कश्मीर में आतंकियों के समर्थकों पर भी कड़ी नजर रखी जा रही है.

First Published : 11 Jan 2020, 09:10:50 AM

For all the Latest World News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×